बैजनाथ की बैबाकी पर उठे सवाल: आरोप-प्रत्यारोप से इतर सकारात्मक राजनीति की ओर अग्रसर काँग्रेस

धर्मेन्द्र सिंह/विलेज टाइम्स समाचार सेवा, 30 मई 2018। मौका था देश भर में मनाये गये, अविश्वास दिवस का, सो इस दिन को शिवपुरी जिले की प्रतिभाओं को स मान प्रदान कर प्रेस-कॉन्फ्रेंस के माध्यम से काँग्रेस ने मना, अपना रूख और रणनीति, मोदी, शिवराज सरकार की नाकामी सहित सार्वजनिक मंच से भाजपा के झूठ को मुद्दा बनाया गया। ये अलग बात है कि इस मौके पर फैली फूटी काँग्रेस एक मंच और एक सुर में  नजर आयी। वही प्रेस भी पूरी बैबाकी के साथ नव नियुक्त जिला काँग्रेस अध्यक्ष बैजनाथ सिंह सहित मंच पर मौजूद विधायक, पूर्व विधायक और पार्टी नेताओं से सार्वजनिक सबाल-जबाव करती नजर आयी इस बीच काँग्रेस में फूटन और भाजपा सरकार की नाकामियों को लेकर भी जमकर सबाल हुये। जिसके जबाव भी मंच पर मौजूद नेताओं द्वारा बखूबी दिए गये।

मगर सिंधिया निष्ठ नव नियुक्त काँग्रेस अध्यक्ष के जबावों से हर्षप्रद मीडिया उन्हें भटकाब के रास्ते ले जाने की असफल कोशिश करती रही है। मगर बैजनाथ ने अपने जबावों से मीडिया को अपना कायल बना दिया। ये अलग बात है कि काँग्रेस को अब एक  ऐसा नया निजाम मिला है। जिसने अपने जबावों से एक मजबूत ही नही आक्रमक विपक्ष की भूमिका साबित करने कोशिश की है। देखा जाये तो विगत वर्षो से फैली फूटी काँग्रेस नेताओं की फौज न तो स्वयं ही कुछ हासिल कर सकी न ही वह काँग्रेस का भला कर सकी और न ही अपने नेता सिंधिया के ही हाथ मजबूत कर पायी। बहरहाल जो भी हो जिस नये रूप में काँग्रेस फिलहाल शिवपुरी में अवतरित हुई है। उसका यह स्वरूप बरकरार रहा तो निश्चित ही काँग्रेस को बड़े लाभ की बात है।
SHARE
    Your Comment

0 comments:

Post a Comment