इतिहास में साक्षी रहेंगीं यशोधरा, शिवपुरी में बनेगा, भगवान लक्ष्मीनारायण का, भव्य व दिव्य मन्दिर

विलेज टाइम्स समाचार सेवा, मप्र शिवपुरी। जब से मप्र शासन की मंत्री श्रीमंत यशोधरा राजे सिंधिया के पास धार्मिक न्यास एवं धर्मस्य विभाग आया है तभी से प्रदेश भर के खासकर शिवपुरी में स्थापित प्राचीन मन्दिरों के जीर्णोउद्धार का क्रम अनवरत जारी है। जिसमें प्राचीन मन्दिर सिद्धेश्वर, कालियादेय सहित जिले के सेकड़ों मन्दिरों में जीर्णोउद्धार धर्मशाला निर्माण का कार्य तो हुआ ही है। इसके अलावा शिवपुरी में प्राचीनतम भगवान सत्यनारायाण मन्दिर का जीर्णोउद्धार सहित उनके भवन का भव्य और दिव्य निर्माण इतिहास ही नहीं होगा, बल्कि भगवान लक्ष्मीनारायण का मन्दिर निर्माण में मप्र शासन की मंत्री यसोधरा राजे का नाम भी वर्तमान ही नहीं, भविष्य के सार्थी के रुप में जाना जायेगा। वैसे भी आयरन लेडी के रुप में चिरपरिचित यसोधरा राजे सिंधिया द्वारा किये गये कार्यो की एक लंबी और अदभुत फैरिस्त है। 

जिसमें भारत की पहली प्रधानमंत्री ग्राम सडक़, जल ग्रहण मिशन से लेकर सिंध जलावर्धन, खेल मैदान और मप्र के प्रतिभावान खिलाडिय़ों को अन्तराष्ट्रीय स्तर के संसाधन तथा इन्दौर में आयोजित भव्य और दिव्य ग्लोबल इन्वेस्टर मीट जिसका उद्घाटन देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने किया उसके बाद जीर्ण-सीर्ण हालात में पड़े कई ऐसे धार्मिक स्थलों का जीर्णोउद्धार और अब भगवान लक्ष्मीनारायण मन्दिर का भव्य निर्माण इस बात के गवाह है कि वह अनन्त काल तक सार्थी के रुप मे भगवान लक्ष्मीनारायण के मन्दिर निर्माण में जानी जायेगीं शायद उनकी जीवन की यह सबसे बड़ी उपलब्धि और सेकड़ों वर्ष बाद भी एक ऐसे सार्वजनिक धर्म स्थल निर्माणकर्ता के रुप में जानी जायेगीं। जिसका स्वरुप भव्य, दिव्य होने के साथ ही अदभुत होगा।

जिसे राजस्थान के उमदा कारीगरों द्वारा मूर्तरुप दिया जायेगा और इस धार्मिक स्थल की सबसे अहम कड़ी यह होगी कि इस मन्दिर परिसर में धर्म प्रेमियों के लिये अलग से सभा ग्रह एवं बुजुर्गो के लिये खुशहाल समय व्यथित करने के लिये भी व्यवस्था होगी। 

SHARE
    Your Comment

0 comments:

Post a Comment