अगर राजनीति में अच्छे लोगों का मार्ग सहज और समर्थन नहीं रहा, तो कैसे हो पायेगी जनसेवा

वीरेन्द्र भुल्ले/विलेज टाइम्स समाचार सेवा। माइक से परहेज रख अपने लोगों के बीच मप्र शासन की खेल युवा कल्याण मंत्री श्रीमंत यसोधरा राजे सिंधिया अपने दुख और दर्द को छुपा न सकी और प्रेसवार्ता से स्वयं को दूर कर अनौपचारिक चर्चा में कहती रही कि राजनीति या समाज में अच्छे और सच्चे सेवा भावी, राजनेताओं का मार्ग। अगर सहज बाधा रहित रह, आमजन या अपनो का समर्थन न रहे तो कैसे राजनीति जनसेवा का माध्यम बन पायेगी। 

            दुखित मन से भावुक मुद्रा में उन्होंने यहां तक कहा कि शहर में बन चुकी साफ सुथरी चौड़ी-चौड़ी सडक़े और सिन्ध के  शुद्ध पेयजल का उपयोग आने वाले समय में कौन करेगा यह समझने वाली बात है, आखिर आगे चलकर कौन राजनीति करेगा और जनप्रतिनिधि बनेगा, सोचने वाली बात है। 

            मगर सच्चे जनसेवक को दर्द और तकलीफ तब होती, जब निष्ठा पूर्ण किये गये कार्य और जनसेवा पर निहित स्वार्थ बस बड़े ही हल्के ढंग से, सवालिया निशान लगाये जाते है। मगर उससे भी बड़े अफसोस और दुख की बात तो तब होती है जब अपने ही या बुद्धिजीवी लोग ऐसे सवालो पर चुप रह जाते है। 

           उन्होंने  कहा कि हम सब को मिलकर शहर को सुन्दर बना इसकी प्रतिष्ठा पुन: कायम करनी है और यह कार्य सभी को मिलकर करना है इसमें राजनेता, बुद्धिजीवी, दल, प्रेस, आम नागरिक, समाजसेवी संस्थाओं को मिलकर तय करना होगा कि हम कैसे राजनेता राजनीति और राजनीति में कैसे लोग चाहते है। हम हमारी आने वाली पीढ़ी को वो कौन से जीवन मूल्य सिद्धान्त स्थापित कर कैसे संस्कार उन्हें देना चाहते है। 

          अन्त में उन्होंने यह भी दोहराया कि उन्होंने शिवपुरी के अच्छे लोगों से बहुत कुछ सीखा है लोगों ने बड़ा स्नेह दिया है। मगर अब संघर्ष की उम्र नहीं, लेकिन शिवपुरी की सुख, शान्ति, विकास के लिये मेरा संघर्ष जारी रहेगा। पीडब्लूडी की सभी रोडे मात्र एक रोड को छोड़ जिसका मैंने भूमि पूजन किया है, बांकि बन चुकी है। और सिन्ध  भी शिवपुरी तक पहुंच चुकी है, मैं तो अपना कत्र्तव्य, जबावदेही पूरा करुंगी ही मगर अन्य जबावदेह भी अपने उत्तरदायित्व समझ राजनीति के बजाये जनसेवा भाव से अपने उत्तरदायित्व कत्र्तव्यों का निर्वहन करें जिससे हमारा शहर सुन्दर और समृद्ध बन सके। जिसके लिये वह सोमवार को सत्यनारायण भगवान व नवग्रह मन्दिर के लिये भूमि पूजन करने वाली है। 
SHARE
    Your Comment

0 comments:

Post a Comment