25 लाख रोजगार के नाम चुप ही रहे मुख्यमंत्री, सेल्फ ग्रुप और आजीविका का मिशन की गिनाई खूबी बेटियों के हाथ बंदूक होगी, तो अपराधियों के सीने छल्ली होगें- शिवराज

वीरेन्द्र भुल्ले ,विलेज टाइम्स समाचार सेवा: म.प्र. शिवपुरी- शिवपुरी कोलारस जिले भर से एकत्रित स्वसहायता समूह की महिलाओं के सम्मेलन में पहुंचे मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने कहा कि जब मैं बेटियों के हाथों बंदूक दूंगा, तो वह बदमाशों की छाती छल्ली कर देगें। मातृशक्ति का बखान करते हुये मप्र मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने कहा कि वह जब सामान्य जीवन निर्वहन करते थे तब वह गांवों में बेटा-बेटी के बीच भेदभाव देख दु:खी होते थे और सुनते थे। कि बेटा बुढ़ापे की लाठी होती है और बेटी पराया धन। अब या नहीं इसकी गारन्टी नहीं। मगर बेटी सच्ची सेवा करती है इस बात की गारंटी है। इसीलिये उन्होंन लाडली लक्ष्मी, कन्यादान एवं महिला सशक्तिकरण, सुसहायता समूह के माध्यम से मातृशक्ति को शक्ति प्रदान करने का कार्य मुख्यमंत्री बनने के साथ ही शुरु कर दिया। परिणाम कि 2006 से आज तक मप्र में 27 लाख बेटियां लखपति बन गयी है और उन्हें 31 हजार करोड़ रुपये दिया जायेगा। 

उन्होंने कहा कि पंचायत नगरीय चुनावों में 50 फीसदी आरक्षण वन को छोड़ अन्य सेवाओं में 33 प्रतिशत आरक्षण दिया है और आजीविका तहत सेल्फ गु्रप के माध्यम से भी आत्म निर्भर बनाने का कार्य हमारी सरकार करने जा रही है। उन्होंने कहा कि बदरबास की जैकट और बहिनों द्वारा तैयार साबुन, अगरबत्ती और अन्य उत्पादन की वह ब्राडिंग ही नहीं करेगें बल्कि उन्हें मुख्य स्थानों पर दुकान व बाजार भी मुहैया कराने का कार्य करुंगा। उन्होंने कहा कि मैं एक सामान्य परिवार से हूं और गरीबों के चेहरों पर खुशी देखना चाहता हूं। मैं यहां किसी से लडऩे या चुनाव लडऩे नहीं आया हूं बल्कि मैं कोलारस क्षेत्र की गरीबी से लडऩे आया हूं। 

कार्यक्रम पश्चात मुख्यमंत्री से विलेज टाइम्स संपादक वीरेन्द्र शर्मा भुल्ले द्वारा पूछे गये सवाल की, आपकी 13 वर्ष पुरानी सेवा भावी सरकार स्थाई रोजगार के मामले में क्यों अक्षम, असफल साबित हुई है क्या कारण है? जिस पर मुख्यमंत्री ने कहा कि वह आजीविका मिशन के तहत सेल्फ गु्रपों के माध्यम से रोजगार देने का प्रयास कर रहे है और जल्द ही स्कूल ड्रेस तथा पोषण आहार का कार्य सेल्फ गु्रपों के माध्यम से बैंको से लॉन मुहैया करा लोगों को रोजगार उपलब्ध करायेगें। जब मुख्यमंत्री से पूछा गया कि सरकार चाहती तो इन 13 वर्षो में या अभी भी चाहे तो सरकार 25 लाख लोगों को स्थाई रोजगार मुहैया करा सकती है। इस पर मुख्यमंत्री चुप ही रहे और एक राजनैतिक सवाल पर यह कह कि वह बुराई करने और भ्रम फैलाने में विश्वास नहीं रखते और राजनीति में किसी को भी ऐसा नहीं करना चाहिए। 
SHARE
    Your Comment

0 comments:

Post a Comment