भावांतर नहीं भ्रष्टाचार: स्वास्थ, शिक्षा, भ्रष्टाचार को लेकर भडक़े सिंधिया

विलेज टाइम्स समाचार सेवा। स्वास्थ, शिक्षा, किसानों की बदहाली पर भडक़े सिंधिया ने म.प्र. के कोलारस विधानसभा क्षेत्र में आयोजित जनाक्रोश रैली के दौरान हजारों की भीड़ को स बोधित करते हुये कहा कि यह भावांतर नहीं भ्रष्टाचार है। जहां चिकित्सा सेवा के अभाव में गरीब, पीडि़त, वंचित जनता ही नहीं, विधायक तक दम तोड़ जाये तथा किसान, अन्नदाताओं के आंसू पोछने जो सरकार सही नीति नहीं बना पाये और अच्छी शिक्षा के अभाव में युवा बेरोजगार तो कहीं व्यापम जैसे हालात हो जाये। ऐसे में जनकल्याण कैसे स भव है। 

उन्होंने कोलारस विधायक स्व.राम सिंह के स्वास्थ सेवा के आभाव में निधन को सरकार ही नहीं, जिले के प्रभारी और स्वास्थ मंत्री को जि मेदार ठहराते हुये उनके इस्तीफे तक की मांग कर डाली। उन्होंने नोटबंदी, जीएसटी को केन्द्र का देश की जनता को प्रताडि़त करने वाला कदम बताया। 

वे यहीं पर नहीं रुके उन्होंने कहा आज हमारा अन्नदाता, किसान, मजदूर, गरीब प्रकृति ही नहीं भाषण वीरों की सरकार से परेशान है। वहीं उन्होंने अनौपचारिक तौर पर भी कहा कि म.प्र. की जनता ने जो कष्ट विगत वर्षो में इस सरकार की जन विरोधियों नीतियों के जलते भोगा है। वह क्षमा योग्य नहीं और उनका विश्वास है कि म.प्र. की महान जनता खासकर कोलारस, मुंगावली की जनता अब वोटबंदी से ही ऐसी अर्कमण्डय सरकार को जबाव देगी। उन्होंने आगाह करते हुये कहा कि इन उपचुनावों से मिला जनता का जबाव ही म.प्र. की दिशा और दशा तय करेगा।  
SHARE
    Your Comment

0 comments:

Post a Comment