शिव सरकार के कुशासन पर बोले सिंधिया विकास पर बहस को तैयार

विलेज टाइम्स समाचार सेवा, म.प्र. शिवपुरी : म.प्र. की शिव सरकार के साढ़े 13 वर्ष के सुशासन या कुशासन के सवाल बोलते हुये पूर्व केन्द्रीय मंत्री लोकसभा में सचेतक सांसद श्रीमंत ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि वह म.प्र. के विकास पर बहस के लिये तैयार है। दूसरे ही पल उन्होंने दोहराया कि इन साढ़े 13 वर्षो में एक भी ऐसा विकास का कार्य भाजपा सरकार ने म.प्र. में किया हो जिस पर म.प्र. के नागरिक गर्व मेहसूस कर स्वयं को गौरांवित मेहसूस कर सके कम से कम मेरे संज्ञान में नहीं। 

उन्होंने कहा जब वे केन्द्र सरकार में मंत्री थे तो उन्होंने राजीव गांधी शहरी ग्रामीण विधुत मिशन के माध्यम से समुचे म.प्र. में युद्ध स्तर पर कार्य करायें। इतना ही स्वयं के क्षेत्र में मेडीकल इन्जीनियरिंग कॉलेज, रेल, आगरा-मुंबई फॉरलाइन, पेयजल, तकनीक प्रशिक्षण संस्थान, फूड पार्क ग्रामीण सडक़ के हजारों करोड़ रुपये के विकास कार्य कराये। 

अगर 13 वर्ष पुरानी शिव सरकार ने कही कोई विकास का एक भी ख बा गाड़ा हो तो वह मेरे क्षेत्र की जनता ही नहीं, समुचे म.प्र. की जनता को बताये, वह म.प्र. मेंं विकास को लेकर बहस को तैयार है, मुख्यमंत्री जगह व समय निर्धारित कर ले।

उन्होंने एक अन्य सवाल के जबाव में कहा कि जो सरकार अपने पीडि़त अन्नदाताओं से छल करे, उससे बड़ा महापाप कोई हो नहीं सकता। कभी अतिवर्षा, तो कभी ओलावृष्टि और वर्तमान में अल्पवर्षा से जूझते किसानों के बीच जो परिणाम प्रधानमंत्री फसल बीमा के म.प्र. की जनता के सामने है, वह किसी भी सरकार के लिये बड़े ही शर्मनाक और चौकाने वाले है। 

उन्होंने म.प्र. में प्रधानमंत्री फसल बीमा स्कीम में किसानों के साथ हुये छल को फसल बीमा स्कीम नहीं, म.प्र. सरकार का एक और बढ़ा स्केम करार दिया। उन्होंने कहा कि जिस तरह से म.प्र. की भाजपा सरकार में ढोल नगाड़े बजा फसल बीमा योजना को लांच किया था आज वहीं सरकार उसकी जगह नई फसल बीमा योजना की तैयारी में है। 

अन्त में उन्होंने म.प्र. में कॉग्रेस के अन्दर ही नहीं, जनता के बीच बढ़ती उनकी मांग के सवाल पर इतना ही कहा कि वह कॉग्रेस के सिपाही है और जो जबावदेही आलाकमान उन्हें देगा, वह उसे पूरी निष्ठा ईमानदारी से पूरा करने का प्रयास करेगें।

SHARE
    Your Comment

0 comments:

Post a Comment