अहिंसा, आध्यात्म, गणित, विज्ञान हमारी विरासत है और कर्तव्य निर्वहन हमारी जबावदेही- नेहा शर्मा

विलेज टाइम्स समाचार एजेन्सी : म.प्र. शिवपुरी- जिला मुख्यालय स्थित इण्डियन पब्लिक हायर सेकेन्ड्री स्कूल में आयोजित स्वराज के खुशहाल जीवन कार्यक्रम में छात्र-छात्रायें जमकर बोले उन्होंने खुशहाल जीवन के लिये आवश्यक टिप्सों को साझा करते हुये कक्षा 11 की छात्रा नेहा शर्मा ने कहा कि अहिंसा, आध्यात्म, गणित, विज्ञान हमारी विरासत और कर्तव्य निर्वहन हमारी जबावदेही है, जो हमारे जीवन को खुशहाल बनाते है। 

इसके अलावा कक्षा 11 के ही छात्र प्रदीप गुर्जर, दिलीप वर्मा, भीम शिवहरे ने भी अपने-अपने विचार रखें। अन्त में स्वराज विचार के मुख्य संयोजक व्ही.एस. भुल्ले ने स्वराज के उद्देश्य को स्पष्ट करते हुये कहा कि स्वराज न तो कोई संस्था, संगठन है न ही कोई दल, यह तो मात्र एक विचार है। जिसका अहिंसा सदभांव, कर्तव्य एवं उत्तरदायित्व निर्वहन में स पूर्ण विश्वास है। जिसका मूल उद्देश्य लोगों का जीवन एवं राष्ट्र को खुशहाल और संपन्न बनाना है क्योंकि व्यक्ति से व्यक्ति, परिवार से समाज और समाजों से राष्ट्र का निर्माण होता है। 

अगर हर नागरिक के मन में स्वराज का भांव हो, तो निश्चित ही व्यक्ति, परिवार, समाज ही नहीं, राष्ट्र भी खुशहाल, संपन्न बन सकता है। उन्होंने भारत के सुनहरे इतिहास और महा पुरुषों के जीवन पर प्रकाश डालते हुये कहा कि मनुष्य का जीवन दबाव रहित और सकारात्मक होना चाहिए साथ ही मुनष्य को अपनी आशा आकांक्षा पूर्ति हेतु आशावादी, अहिंसक एवं जबावदेह होना चाहिए जो कि हम महान भारत वासियों की विरासत है। इस मौके पर स्वराज के मुख्य संयोजक व्ही.एस. भुल्ले के साथ स्वराज के डी.के गुर्जर, पुष्पेन्द्र शर्मा भी मौजूद थे। 
SHARE
    Your Comment

0 comments:

Post a Comment