झा ने किया, शिवराज का बचाव, सरकार की उपलब्धियां सिमटी, सिंधिया पर

व्ही.एस.भुल्ले/मप्र/शिवपुरी। यूं तो भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रभात झा पार्टी के कार्यक्रम अनुसार मोदी सरकार की 3 साल की उपलब्धियां गिनाने शिवपुरी-गुना संसदीय क्षेत्र के भ्रमण पर आये आये थे। जिसके तहत उन्होंने गुना-शिवपुरी जिले में अपने कार्यक्रमों के दौरान मोदी सरकार की राष्ट्रीय अन्तराष्ट्रीय उपलब्धियोंं को गिनाया। साथ ही उन्होंने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के प्रभावी नेतृत्व और लोकप्रियता की भी चर्चा की। 

शिवपुरी सक्रिट हाउस पर आयोजित पत्रकारवार्ता के दौरान जब प्र ाात झा मोदी सरकार की उपलब्धियां गिना रहे थे उसी वक्त विलेज टाइ स स पादक वीरेन्द्र शर्मा ने एक सवाल करते हुये जानना चाहा कि क्या आपको नहीं लगता कि केन्द्र की मोदी सरकार प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के प्रभावी नेतृत्व का राष्ट्र व जनकल्याण में बेहतर लाभ नहीं ले पाई। खासकर म.प्र. में तो मोदी मॉडल चारों खाने चित पड़ा है अर्थात फैल हो गया है, जो लाभ आम गरीब को मिल सकता था वह शायद नहीं मिल सका? 

इस पर भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष राज्यसभा सदस्य प्रभात झा ने अपनी असहमति जाहिर करते हुये कहा कि ऐसा नहीं कि हम लाभ न उठाते हुये असफल हुये है। बल्कि अन्तराष्ट्रीय व राष्ट्रीय स्तर पर आन्तरिक व बाह सुरक्षा सहित देश की प्रतिष्ठा बढ़ाने में सफल रहे है। भ्रष्टाचार पर लगाम सहित कई क्षेत्रों में प्रभावी बदलाव हुआ है। रहा सवाल म.प्र. का तो म.प्र. के मु यमंत्री ने अपने जीवन काल के दौरान जो तकलीफ ों का दौर आम जन मानस में देखा व महसूस किया है उसी अनुभव के आधार पर उन्होंने लाड़ली लक्ष्मी, मु यमंत्री तीर्थ दर्शन, दीनदयाल रसेाई, आवास, निशुल्क शिक्षा जैसे कई जनकल्याणकारी कदमों का क्रियान्वयन बड़े ही प्रभावी ढंग से म.प्र. में कराया है।  

इसीलिये हमारी सरकार अपने कर्तव्य निर्वहन में सफल रही है साथ ही पण्डित दीनदयाल जी के एकात्म मानवता के कल्याण के रास्ते पर काफी आगे बड़ी है। सिंधिया को लेकर अन्य मीडिया कर्मियों द्वारा किये गये सवालों पर वह बोले तो खूब, मगर वह प्लास्टिक लिफाफे में रखें दस्तावेजों को दिखाते हुये इतना ही बोले कि मैंं पहले इनका अध्यन करुंगा जो उन्हें शिवपुरी के ही किसी वरिष्ठ अधिकारी ने मुहैया कराये है। तब वह प्रभावी ढंग से अपनी बात रख, अपनी सरकार से कार्यवाही के लिये आग्रह करेगें। कुल मिलाकर मोदी की उपलब्धियां बताने बुलाई गई प्रेस कॉन्फ्रें स सिंधिया पर सुनियोजित तरीके से दागे गये सवालों तक ही सिमट कर रह गयी।
SHARE
    Your Comment

0 comments:

Post a Comment