गरीबी की मजाक उड़ाती नौकरशाही: कन्यादान 16 की जगह 29 को

विलेज टाइम्स/मप्र/शिवपुरी। भगवान भरोसे चल रही सरकार क्या इतनी भी असंवेदनशील और अंधी हो सकती है कि 16 अप्रैल की तारीख कन्यादान की तय कर 29 अप्रैल घोषित कर हाथो-हाथ पलट जाये अब कैसे होगें गरीबों की बेटियों के हाथ पीले, जबकि रस्मों रिवाजों का दौर आधा पूरा हो चुका। 

बैचारे गरीब इज्जत बचाने अधिकारियों की खाक छान रहे है मगर शासन के तुगलकी फरमान के चलते अब तो अधिकारी भी हाथ खड़ें कर रहे है। बैसे मजबूर गरीब माईबापों के दर गिड़गिड़ा रहा है। मगर गरीब की गुहार, गरीबों की सरकार में, फिलहाल कोई नजर नहीं आ रहा है। जो उन्हें ढांडस बंधा उनकी बेटियों के हाथ निर्धारित तारीख 16 अप्रैल को पीले करा दें। 
SHARE
    Your Comment

0 comments:

Post a Comment