गलत लेागों पर कार्यवाहीं करे सरकार, विश्वविद्यालय व छात्रों की आजादी राष्ट्रहित में- सिंधिया

म.प्र. शिवपुरी अपने 2 दिवसीय दौरे के दौरान शिवपुरी निर्मित 300 बिस्तरीय जिला चिकित्सालय निर्माण के निरीक्षण के दौरान पूर्व केन्द्रीय मंत्री व क्षेत्रीय सांसद श्रीमंत ज्योतिरादित्य सिंधिया ने खबरनबीसों के सवालों का जबाव देते हुये कहा कि अगर कोई गलत कार्य या नारेबाजी करता है तो सरकार को कड़ी कार्यवाही करना चाहिए। मगर विश्वविद्यालय व छात्रों की आजादी खत्म नहीं होना चाहिए। 


जो कि हमारे महान लेाकतंत्र व राष्ट्रहित में है। जब हमारा मंत्र ही जियो जीने दो पर बसुदेव कुटु बकम की भावना पर आधारित हो तो ऐसे में सरकार छात्रों पर कैसे कुठाराघात कर सकती है मगर पूना, चेन्नई, हैरदाबाद से लेकर दिल्ली के विश्व विद्यालयों में सरकार द्वारा छात्रों की आवाज दवाने का असफल प्रयास देश में किया जा रहा है। ऐसा मैंने कभी नहीं देखा। 

वहीं म.प्र. सरकार द्वारा पर्यटन ब्रान्डिग में ग्वालियर-च बल के साथ हो रहे सौतले व्यवहार पर उन्होंने स्पष्ट करते हुये कहा कि वह राजनीति में सकारात्मक और विकास उन्नमुख सोच पर विश्वास रखते है न कि किसी भी प्रकार की प्रतिद्वन्ता पर उन्होंने कहा कि, म.प्र. सरकार के बारे में, मैं इतना ही कह सकता हूं कि म.प्र. में विकास की अपार स भावना है इसे उघोग ही नहीं शिक्षा, पर्यटन एवं गौड़ ानिज के दोहन के क्षेत्र में देश का अग्रणी राज्य बनाया जा सकता है। मगर सरकार के  पास न तो म.प्र. के विकास का सक्षम बिजन है और न ही कोई योजना और यह हमारा दुर्भाग्य ही है कि म.प्र. में एक शसक्त सक्षम और दूर दृष्टि रख सर्वागींण विकास करने वाली सरकार नहीं है। 
SHARE
    Your Comment

0 comments:

Post a Comment