चौपाल पर मचा धमाल, गुस्साये सरपंच ने धुनका ग्रामीण

विलेज टाइम्स- म.प्र. ग्वालियर म.प्र. के मुख्यमंत्री की मंशा अनुसार अनुसूचित जाति, जनजाति को सरकार की योजनाओं, वन अधिकार पट्टे के प्राप्त आवदेनों के निवारण तथा आवासीय पट्टे दिये जाने की गरज से अनुभाग स्तरीय चौपाल का आयोजन विगत दिनों  शिवपुरी जिले के विधानसभा क्षेत्र के ग्राम ऊमरी भिलोड़ी में किया गया, जिसमें पोहरी एस.डी.एम. तहसीलदार बैराड़ सहित अन्य अधिकारी भी मौजूद थे। 


पंच परमेश्वरों के द्वार आयोजित इस जन चौपाल में कोहराम तब मचा जब एक ग्रामीण ने पेयजल, रोजगार न मिलने की शिकायत जड़ डाली। जो सरपंच पक्ष को न गवार गुजरी फिर क्या था आव देखा न ताब शिकायती ग्रामीण को बीच चौपाल पर ही धुनक डाला। हालाकि अधिकारी यह दावा करते नहीं थक रहे कि यह घटनाक्रम उनके सामने नहीं घटा बल्कि यह घटना कार्यक्रम समाप्त होने के पश्चात की है। वहीं कुछ  जि मेदार अधिकारी यह कहते भी देखे गये ऐसा कुछ नहीं हुआ बल्कि समझा बुझा कर मामला शांत कर दिया। मगर समाचार पत्रों में प्रकाशित तस्वीरों में दिखाई दे रहा है जिसमें कार्यक्रम स्थल पर अस्त व्यस्त कुर्सिया और मारपीट साफ देखी जा सकती है। 

बहरहाल जो भी हो आदिवासी बाहूल्य ग्राम ऊमरी भिलौड़ी की घटना इस बात की गवाह है कि गांवों में आज भी हालात कितने भयाभय है। कि अधिकारियों की मौजूदगी और म.प्र. के मुखिया के महात्वकांक्षी कार्यक्रम चौपाल होने के बावजूद आम ग्रामीण किस तरह से कुट रहे है। यह व्यवस्था के लिये सोचनीय प्रश्न है।  

भिलोड़ी में सन्तू के खेत तक पहुंचेगी बिजली
सेटलमेंट आवास योजना के तहत भिलोड़ी में सहरिया परिवारों के लिए बनेंगे आवास
शिवपुरी, 28 फरवरी, 2016/ राज्य शासन की मंशा के अनुसार जनसामान्य के साथ-साथ सहरिया जनजाति के लोगों को विकास की मुख्य धारा से जोडने के लिए शासन की विभिन्न हितग्राही योजनाओं की जानकारी देने हेतु पोहरी जनपद पंचायत के ग्राम भिलोड़ी में विशेष ग्राम चैपाल आयोजित की गई। इसके साथ ही जिला जनसंपर्क कार्यालय शिवपुरी द्वारा सूचना शिविर का आयोजन कर ग्रामीणों को जनहितेषी हितग्राही मूलक योजनाओं की जानकारी प्रदाय कर आगे आए लाभ उठाए और प्रचार साहित्य का वितरण किया गया।
आयोजित कार्यक्रम में गांव के कृषक श्री सन्तु पुत्र चन्दु को उसके खेत तक विद्युत लाईन बिछाने हेतु आदिम जाति कल्याण विभाग की पम्प ऊर्जाकृत योजना के तहत 5 लाख 92 हजार की राशि स्वीकृत की गई। साथ ही आदिम जाति कल्याण विभाग द्वारा गांव में सीमेन्ट कंक्रीट सड़क, हेण्डपम्प खनन और सेटलमेंट आवास योजना के तहत 25 आवासों का निर्माण किए जाने की भी जानकारी दी गई।

विभागीय अधिकारियों ने दी शासन की योजनाओं की जानकारी
सूचना शिविर में विभागीय अधिकारियों ने जहां योजनाओं की जानकारी प्रदाय की, वहीं 186 गरीबी रेखा के नीचे जीवन यापन करने वाले परिवारों को बीपीएल की श्रेणी में पात्र पाया गया, इसमें 150 सहरिया परिवार शामिल है। जिसमें से 12 हितग्राहियों को सामाजिक सुरक्षा पेंशन योजना के लिए भी पात्र पाए जाने पर चिन्हित किया गया। इस दौरान गांव के यादव मोहल्ले में बंद हेण्डपंप पुनः चालू करने की भी जानकारी दी गई। 
अनुविभागीय अधिकारी (राजस्व) पोहरी श्री जे.एस.बघेल ने आयोजन की जानकारी देते हुए बताया कि इस प्रकार के आयोजनों से जहां जनता एवं अधिकारियों के बीच की दूरी कम होगी, वही योजनाओं के क्रियान्वयन की जमीनी हकीकत भी प्राप्त हो सकेगी और हितग्राही योजनाओं का लाभ लेने हेतु आगे आ सकेगे। जनपद पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री अशोक शर्मा ने प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना, दीनदयाल अंत्योदय उपचार योजना, जनधन योजना, स्वच्छ भारत मिशन, जनश्री बीमा योजना, राष्ट्रीय परिवार सहायता योजना आदि की जानकारी दी।

आदिम जाति कल्याण विभाग के जिला संयोजक श्री आई.यू.खांन ने सहरिया जनजाति के साथ-साथ अनुसूचित जाति एवं जनजाति के लोगों के आर्थिक, सामाजिक एवं शैक्षणिक विकास हेतु संचालित योजनाओं की जानकारी दी। उन्होंने बताया कि सेटलमेंट आवास योजना के तहत एकल एवं 25 से अधिक परिवारों को समूह के रूप में एक ही स्थान पर आवास की सुविधा प्रदाय की जाती है। इस योजना का लाभ सहरिया जनजाति के हितग्राही ले।

एकीकृत बाल विकास परियोजना अधिकारी श्री अमित यादव ने लाड़ली लक्ष्मी योजना, पोषण आहार, प्रसूती सहायता, पोषण पुर्नवास केन्द्र आदि योजनाओं की जानकारी दी। तहसीलदार श्री नीरज शर्मा ने राजस्व प्रकरणों के तहत सीमांकन, वटवारा एवं नामांतरण के प्रकरणों की जानकारी लेते हुए भूमि पर काबिज परिवारों को अधिकार पत्र प्रदाय करने एवं राजस्व पुस्तक परिपत्र 6 (4) के तहत मिलने वाली सहायता की जानकारी दी। लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के सहायक यंत्री श्री कोली ने क्षेत्र में उपलब्ध हेण्डपंप एवं नल जल योजनाओं की जानकारी दी। इस दौरान कृषि, स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने अपने-अपने विभाग से संबंधित योजनाओं की जानकारी दी। शिविर में गांव के सरपंच श्री महेन्द्र यादव सहित ग्रामीणजन उपस्थित थे। 
SHARE
    Your Comment

0 comments:

Post a Comment