मुख्यमंत्री जी ये कैसा सुशासन, समाधान ऑन लाइन में आपको ही करना पड़ा समाधान

विलेज टाइम्स, म.प्र. शिवपुरी- मुख्यमंत्री जी हर माह समाधान ऑन लाइन, परख, पीसी हर सप्ताह टी.एल. और  जनसुवाई सुशासन शिविर, भ्रमण, के प बहुत सारे साधन, लाखों की पगार सुविधायें देने के बावजूद जब एक मृतक को मुआवजा दिलाने आप ही को कार्यवाही के निर्देश देना पढ़े तो अन्दाजा लगाया जा सकता है कि सुशासन की क्या स्थिति है। 


मात्र एक बाबू, पटवारी पर निलबन की कार्यवाहीं उचित नहीं, जैसा कि शिवपुरी जिले की पिछोर तेहसील के एक मामले में समाधान ऑन लाइन में मुख्यमंत्री जी आपने किया बल्कि सवाल जबाव तो कलेक्टर राहत प्रभारी अधिकारी, एस.डी.एम. तेहसीलदार से भी किया जाना चाहिए कि यह मामला 2 वर्ष से उनके संज्ञान में क्यों नहीं आया। 

मुख्यमंत्री जी विशेष समीक्षा कराये कि तेहसीलदार, एस.डी.,एम. कलेक्टर ने हर माह कहां कहां रात्री विश्राम के प कर, फौती नामांतरण बटबारा की शिकायत का निराकरण किया। सारे तथ्य सामने होगें बेहतर हो मुख्यमंत्री अपनी मंशा अनुरुप सुशासन के लिये राजस्व विभाग की विस्तृत समीक्षा करे। 

तो आधे से अधिक सुशासन स्वत: नजर आने लगेगा, बरना जिस तरह से जिले में पहले मुआवजे की आधी राशि दे, अब सिकवा शिकायतों के बाद पूरी राशि देने का प्रमाणिक सबूत सामने आ रहे है, वह सुशासन को समझने काफी है। 
SHARE
    Your Comment

0 comments:

Post a Comment