उद्योग मंत्री ने ओलावृष्टि से क्षतिग्रस्त हुई फसलों का खेतों पर जाकर किया अवलोकन

शिवपुरी | 29-अक्तूबर-2015  वाणिज्य, उद्योग एवं व्यापार, सार्वजनिक उपक्रम, खेल एवं युवा कल्याण, धार्मिक न्यास एवं धर्मस्व मंत्री एवं स्थानीय विधायक श्रीमती यशोधरा राजे सिंधिया ने आज ओलावृष्टि से प्रभावित गांवों का दौरा कर किसानों की क्षतिग्रस्त हुई धान, प्याज एवं टमाटर आदि फसलों का जायजा लिया। उन्होंने किसानों को ढांढस बंधाते हुए कहा कि इस दुःख की घड़ी में शासन एवं प्रशासन आपके साथ है, किसान धैर्य एवं हिम्मत से कार्य लें। मौसम के बदलाव को देखते हुए किसान भाई अपनी फसलों का बीमा अवश्य कराए।


उद्योग मंत्री ने आज चिटौरीकलां, महेन्द्रपुरा, विनेगा आदि गांवों का भ्रमण कर कृषकों के खेतो पर क्षतिग्रस्त हुई फसलों का अवलोकन किया। इस दौरान उन्होंने उद्यानिकी एवं संबंधित विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे कृषकों के खेतों पर ओलावृष्टि से प्रभावित हुई फसलों का जायजा लें और फसलों की क्षति का आंकलन भी करें।

इस मौके पर पोहरी विधायक श्री प्रहलाद भारती, श्रीमती सिंधिया ने ओलावृष्टि से प्रभावित ग्राम चिटौरीकलां में श्री कैलाश कुशवाह की क्षतिग्रस्त हुई प्याज की फसल, महेन्द्रपुरा में भालू यादव की टमाटर की फसल, श्री किशन जाटव की प्याज की क्षतिग्रस्त हुई फसलों का अवलोकन कर कृषकों से चर्चा की और कहा कि कृषक किसी प्रकार की परेशानी महसूस न करें। किसी भी प्रकार की समस्या होने पर शिवपुरी में उनके कार्यालय पर संपर्क कर अपनी समस्या अवगत करा सकते है।

उन्होंने कृषकों से आग्रह किया कि वे अपनी फसलों का बीमा अवश्य कराए, जिससे इस प्रकार की आपदा के दौरान बीमा कंपनियों से किसानों को क्षतिग्रस्त फसलों का मुआवजा प्राप्त हो सकेगा। श्रीमती सिंधिया ने अनुविभागीय दण्डाधिकारी शिवपुरी को निर्देश दिए कि वे पटवारियों को निर्देशित करें कि खेतों में ओलावृष्टि से क्षतिग्रस्त फसलों के सर्वे के दौरान कृषकों को केसीसी (किसान क्रेडिट कार्ड) बनाने के लिए प्रेरित करें और फसलों की बीमा की भी जानकारी दें।

 उद्योग मंत्री ने इस दौरान कृषकों से चर्चा करते हुए कहा कि राज्य सरकार ने निर्णय लिया है कि किसानों को सहायता हेतु सभी विभागों के वजट से 15 प्रतिशत राशि की कटौत्री की जाएगी। उन्होंने बताया कि कृषि विज्ञान केन्द्र एवं कृषि अधिकारी के दल गांव-गांव में जाकर किसानों को केसीसी एवं बीमा योजना, सिचाई की स्प्रिंकलर एवं ड्रिप पद्धति की जानकारी प्रदाय कर रहे है जिससे किसान कम पानी में अधिक फसलें ले सके। इसके साथ ही फसल कटाई के प्रयोग भी किए जा रहे है।
    उन्होंने संबंधित विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि सहकारी समितियों पर आगामी रवी फसल हेतु खाद्-बीज की समुचित व्यवस्था की जाए। जिससे किसान को रवी फसल हेतु किसी प्रकार की परेशानी न हो। उन्होंने ग्रामों में जली हुई डीपी (ट्रांसफार्मर) को त्वरित बदलने की विद्युत कंपनियों के अधिकारियों को निर्देश दिए।

बड़ागांव एवं ककरवाया में किसान चौपाल में सुनी ग्रामीणों की समस्याए
उद्योग मंत्री श्रीमती यशोधरा राजे सिंधिया ने अपने एक दिवसीय प्रवास के दौरान शिवपुरी विकासखण्ड के ग्राम बड़ागांव एवं ककरवाया में किसान चौपाल के माध्यम से किसानों एवं ग्रामीणों की विभिन्न समस्या को सुनते हुए अधिकारियों को समस्याओं के निराकरण के निर्देश दिए। उन्होंने इन ग्रामों में संचालित विभागीय योजनाओं एवं विकास कार्यों की ग्रामीणों से चर्चा करते हुए कहा कि बिजली के खंबे जो लगाए जा रहे है, ये पूरी गुणवत्ता के साथ लगाए जाए और ये खम्बे सात दिन के अंदर खड़े कर दिए जाए। इसके साथ-साथ फीडर सेपरेशन का कार्य भी जल्दी किया जाए। उन्होंने इस कार्य के सतत समीक्षा करने के अनुविभागीय दण्डाधिकारी शिवपुरी को निर्देश दिए।

उद्योग मंत्री ने पेयजल पर चर्चा करते हुए लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे गांव में शिविर लगाकर खराब हेण्डपंपो को ठीक करें और जो पानी की टंकी में आवश्यक कार्य कर उसे सुचारू रूप से संचालित करें। उन्होंने गांव में खेल का मैदान विकसित करने के लिए भूमि चयन करने के भी निर्देश दिए। उद्योग मंत्री ने उपसंचालक पशु चिकित्सा को निर्देश दिए कि गांव में पशु चिकित्सालय का प्रस्ताव तैयार करें। इस दौरान उन्होंने गांव के जाटव मोहल्ले की समस्याओं के निराकरण के भी अधिकारियों को निर्देश दिए। उद्योग मंत्री ने बड़ागांव में सामूदायिक भवन पर चर्चा हुए स्वच्छ भारत अभियान की जानकारी ली और कहा कि ग्रामीण खुले में शोच के लिए न जाए, घरो में शोचालय बनवाए। इसके लिए गांव में सुलभ शौचालय की भी व्यवस्था की जाएगी।

बालिका के उपचार के लिए दिए निर्देश
    ग्राम बड़ागांव की छः वर्षीय कु.करीना किडनी रोग से पीड़ित होने पर मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को समुचित उपचार कराने के निर्देश दिए।
    उन्होंने ग्राम ककराना ने वाटरसेड के तहत बनाए गए तालाब की जानकारी लेते हुए विद्युत वितरण कंपनी के अधिकारियों को निर्देश दिए कि बिजली कनेक्शन लेने हेतु गांव में शिविर आयोजित करें। उन्होंने ग्रामीणों से आग्रह किया कि बिजली के तार चोरी करने वालों की जानकारी विद्युत वितरण कंपनी को दें। जिससे संबंधित के विरूद्ध कार्रवाई की जा सके।
शिवपुरी में बनने वाले मेडीकल कॉलेज स्थल का किया निरीक्षण
    उद्योग मंत्री श्रीमती सिंधिया ने जिला मुख्यालय शिवपुरी पर स्थित नोहरीखुर्द में बनने वाले मेडीकल कॉलेज की तैयारियो के संबंध में स्थल निरीक्षण कर चिकित्सालय महाविद्यालय की डीन एवं जिला प्रशासन के अधिकारियों से चर्चा कर जानकारी ली।
    इस दौरान चिकित्सा महाविद्यालय शिवपुरी के लिए नियुक्त डीन डॉ.ज्योति बिंदल, जिला कलेक्टर श्री राजीव दुबे, पुलिस अधीक्षक श्री यूसुफ कुर्रेशी, जिला चिकित्सालय के सिविल सर्जन श्री गोविंद सिंह, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ.व्ही.के.खरे, अपर कलेक्टर सहित अधिकारीगण उपस्थित थे। उन्होंने निरीक्षण के दौरान मुख्य नगर पालिका अधिकारी को निर्देश दिए कि मेडीकल कॉलेज हेतु आरक्षित भूमि पर हो रहे अवैध उत्खनन को तत्काल प्रभाव से रोकने की कार्यवाही करें। अतिक्रमण न हो इसके लिए तार फेसिंग भी की जाए।
बस स्टेण्ड पर चल रहे निर्माण कार्य का किया अवलोकन
    उद्योग मंत्री श्रीमती सिंधिया ने जिला मुख्यालय पर स्थित मुख्य बस स्टेण्ड पर संचालित निर्माण कार्य का अवलोकन कर अधिकारियों से चर्चा की। उन्होंने नगर पालिका के अधिकारियों को निर्देश दिए कि बस स्टेण्ड को नगर पालिका टेकऑवर करें और आउट सोर्सेस से बसस्टेण्ड की देखरेख की व्यवस्था भी सुनिश्चित करें। उन्होंने मुरैना बस स्टेण्ड के पैटर्न पर शिवपुरी बस स्टेण्ड का विस्तार करने के भी निर्देश दिए।
विकास कार्यों की की समीक्षा
    उद्योग मंत्री श्रीमती यशोधरा राजे सिंधिया ने जिलाधीश कार्यालय के सभाकक्ष में आयोजित जिला अधिकारियों की बैठक में विभागीय योजनाओं के तहत संचालित विकास एवं निर्माण कार्यों की प्रगति की समीक्षा की। उन्होंने शिवपुरी शहर में लोक निर्माण विभाग की सड़को पर चर्चा करते हुए कार्यपालन यंत्री लोक निर्माण को निर्देश दिए कि जिला चिकित्सालय में स्थित ट्रामा सेंटर के संधारण का कार्य विभाग करें और इसे अपनी बुक पर इन्द्राज कराए। उन्होंने शहर में सीवर लाईन कार्य की प्रगति, बसस्टेण्ड पर किए जा रहे कार्य, फूड किलेस्टर ग्वालियर से शिवपुरी तक नेशनल हाईवे पर चल रहे फॉरलेन सड़क की प्रगति की जानकारी लेते हुए अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए। उन्होंने विद्युत वितरण कंपनी के अधिकारियों को निर्देश दिए कि ग्रामीण क्षेत्रों में बिजली आपूर्ति कार्य में सुधार लाए। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए कि उनके द्वारा समय-समय पर विभिन्न विभागों के अधिकारियों को भेजे गए पत्रों की समीक्षा की जाएगी। इस दौरान जिला कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में कलेक्टर श्री राजीव दुबे, पुलिस अधीक्षक श्री यूसुफ कुर्रेशी, अपर कलेक्टर श्री जेड.यू.शेख सहित जिला अधिकारी उपस्थित थे।
SHARE
    Your Comment

0 comments:

Post a Comment