दिल्ली का दंगल तय कर सकता है देश की दिशा

व्ही.एस.भुल्ले। दिल्ली की 70 विधानसभा सीटों के लिये हो रहे विधानसभा चुनावों में हार जीत जिसकी भी हो मगर इस विधानसभा के चुनाव परिणाम अवश्य ही भाजपा, आम आदमी पार्टी, और कॉग्रेस की दिशा तय कर सकते है।

सबसे बड़ा सवाल कॉग्रेस के आगे इस चुनाव में संगठन संरचना और कार्यकत्र्ताओं को लेकर है, जो किसी भी दल की जीत में अपनी अहम भूमिका निभाता है। दूसरा सवाल प्रचार-प्रसार का है क्योंकि दिल्ली वह प्रदेश है, जहां संदेश पहुंचने में ज्यादा वक्त नहीं लगता। निश्चित ही दिल्ली चुनाव में दिल्ली के मुद्दे यहां के निवासियों की समस्याऐं और सुरक्षा व दिल्ली का विकास ही केन्द्र में होगें। जिन पर इस चुनाव में भाग्य आजमाने वाले प्रत्याशियों व दलो का भाग्य टिका होगा।

इसमें कोई दोमत नहीं कि अगर आम मतदाताओं के बीच चुनाव लड़ रहे प्रत्याशी अथवा दलो का संदेश पहुंच कार्यकत्र्ता अगर सहयोग करते है, तो सार्थक परिणाम आना लाजमी है। यह चुनाव लड़ रहे प्रत्याशियों और उन राजनैतिक दलो को तय करना है कि उनके द्वारा जनता के सामने रखे गये मुद्दों, सुरक्षा और विकास पर आम मतदाता कितना विश्वास कर पाता है। व आम प्रत्याशी या दल आम मतदाता के साथ कितना अपनत्व का भांव पैदा कर पाता है। क्योंकि दिल्ली की समस्या किसी से छिपी नहीं जो समस्याऐं आज देश ार में मौजूद है वहीं समस्याऐं आज दिल्ली में भी मौजूद चाहे वह पेयजल, बिजली या बस्तीयों में सड़कों की समस्याओं हो, या फिर खुले आसमान या झुग्गी बस्तीयों में तथा अवैध कॉलेानियों की अहम समस्या हो। इन सबकी जड़ जो सबड़ी बड़ी समस्या है, भ्रष्टाचार की है जिसकी अवैध सन्तानों के रुप में कई समस्याऐं दिल्ली वासियों का जीवन कष्ट प्रदत्त बना उन्हें समस्या ग्रस्त जीवन जीने पर मजबूर करती है।

ऐसा नहीं कि विगत वर्षो में दिल्ली में कोई विकास कार्य नहीं हुआ मैट्रो से लेकर प्लाईऑवर ब्रिज एवं सी.एन.जी. के ईधन के इस्तेमाल से परिवहन इत्यादि में अवश्य सुधार हुआ है। मगर जिस तरह की दरकार दिल्ली में सुरक्षा को लेकर रही शायद उस क्षेत्र में बहुत ज्यादा कार्य नहीं हो सका। जिसके धब्बे जब तब दिल्ली में होने वाले जघन अपराध के रुप में दिल्ली वासियों के सामने आते रहे। बहरहॉल फिलहॉल तो कई प्रत्याशी और कई दल अपना भाग्य आजमाने आम मतदाता के सामने अपनी दलीले देते नहीं थक रहे, देखना होगा कि आखिर दिल्ली का दिल जीतने में कौन-कौन सफल हो पाता है।

श्री ओबामा के रात्रि भोज में श्रीमती सिंधिया आमंत्रित
भोपाल : शुक्रवार, जनवरी २३, २०१५, वाणिज्य, उद्योग तथा खेल एवं युवा कल्याण मंत्री श्रीमती यशोधरा राजे सिंधिया २५ जनवरी को राष्ट्रपति भवन नई दिल्ली में अमेरिका के राष्ट्रपति श्री बराक ओबामा के सम्मान में होने वाले रात्रि भोज में सम्मिलित होंगी। इसके पूर्व श्रीमती सिंधिया २४ जनवरी को ग्वालियर में राजमाता विजयाराजे सिंधिया की पुण्य-तिथि कार्यक्रम में भाग लेंगी। उद्योग मंत्री २६ जनवरी गणतंत्र दिवस पर ग्वालियर में झण्डा वंदन कर मुख्यमंत्री के संदेश का वाचन करेंगी।

पंचायत आम निर्वाचन : जिले में ७०४ मतदान दल करायेगें स्वतंत्र और निष्पक्ष चुनाव
बैकुण्ठपुर २३ जनवरी २०१५ जिले में पंचायत आम निर्वाचन को स्वतंत्र निष्पक्ष और शांतिपूर्ण रूप से सम्पन्न कराने के लिए जिला प्रषासन द्वारा ७०४ मतदान दलों का गठन किया गया है। प्रत्येक मतदान दल में एक पीठासीन अधिकारी और तीन मतदान अधिकारी शामिल है। मतदान दल द्वारा पंच, सरपंच, जनपद पंचायत सदस्य और जिला पंचायत सदस्यों का निर्वाचन निष्पक्ष और स्वतंत्र रूप से करायेगें। कलेक्टर और जिला निर्वाचन अधिकारी श्री एस प्रकाष ने आज यहॉ बताया कि जिले में मतदान तीन चरणों में सम्पन्न होगी। इसके लिए ७०४ मतदान दलों का गठन कर २ हजार ८१६ पीठासीन और मतदान अधिकारियों का तैनात किये गये है। इसके अलावा अधिकारी-कर्मचारी रिजर्व में भी रखे गये है। उन्होनें बताया कि प्रथम चरण २८ जनवरी को विकासखण्ड मनेन्द्रगढ हेतु आयोजित मतदान के लिए गठित १४० मतदान दलों में ५६० पीठासीन और मतदान अधिकारी, विकासखण्ड भरतपुर हेतु आयोजित मतदान के लिए गठित १४१ मतदान दलों में ५६४ पीठासीन और मतदान अधिकारी, द्वितीय चरण १ फरवरी को विकासखण्ड बैकुण्ठपुर हेतु आयोजित मतदान के लिए गठित १९७ मतदान दलों में ७८८ और तृतीय चरण ४ फरवरी को विकासखण्ड सोनहत हेतु आयोजित मतदान के लिए गठित ७६ मतदान दलों के लिए ३०४ एवं भरतपुर हेतु आयोजित मतदान के लिए गठित १५० मतदान दलों में ६०० पीठासीन और मतदान अधिकारी शामिल है।

पृथ्वीराज नगर योजना
अशोक विहार विस्तार का नियमन शिविर अब 18 फरवरी को जयपुर, 23 जनवरी। पृथ्वीराज नगर योजना के तहत अशोक विहार विस्तार आवासीय योजना का नियमन शिविर जो पूर्व में 17 फरवरी को निर्धारित था, अब यह शिविर 18 फरवरी, 2015 को आयोजित किया जाएगा। जोन उपायुक्त-16 श्री हरि सिंह मीना ने बताया कि बुनियादी विकास गृह निर्माण सहकारी समिति की आवासीय योजना अशोक विहार विस्तार का शिविर 17 फरवरी को आयोजित किया जाना था, उस दिन महाशिवरात्रि का राजकीय अवकाश होने की वजह से अब यह शिविर 18 फरवरी, 2015 को आयोजित किया जाएगा।

SHARE
    Your Comment

0 comments:

Post a Comment