जनआकांक्षाओं पर होगा, वोट कबाडऩे का खेल

हर 5 वर्ष में नैसर्गिक सुविधायें, सेवाये मुहैया कराने जनसेवा के नाम होने वाला वोट कबाडऩे और सत्ता सुख भोग स्वार्थ पूर्ति करने का खेल शुरु हो चुका है।

यूं तो नगरीय निकाय चुनाव में राजनीति के बड़े-बड़े उस्तादो की प्रतिष्ठा दांव पर लग चुकी है। वहीं आजादी से लेकर आज तक 65 वर्षो तक कई दल वोट कबाड़ नगरीय सरकारों का सत्ता सुख भोग इस मर्तवा भी नगरीय सरकार बना सत्ता सुख और स्वार्थ पूर्ति हेतु स दल बल मैदान में उतर चुके है मगर इसे आम नागरिक की मजबूरी कहें या महानता कि वह आज भी धूल के ढेर पर बैठ, गन्दे नालो से गुजर तालाब या बोरो में इक_ा होने वाला पेयजल बगैर परीक्षण के पी रही है।

और आज भी अपनी दरिया दिली दिखा उन दलो, नेताओं की ओर देख रही है। जो न तो शुद्ध पेयजल, सड़क व स्ट्रीट लाइट ही दे पाये न ही भ्रष्टाचार में सने नगर पालिका प्रशासन को सुधार पाये। न ही शासन से मिलने वाली सुविधाओं में होने वाले भ्रष्टाचार को रोक पाये। मगर फिर भी कुछ दल है जो वोट कबाडऩे इस नगरीय निकाय चुनाव में ताल ठोककर खड़े है। न तो किसी पर कोई बिजन न ही कोई इतिहास अगर कुछ है भी इन दलो पर तो वह है जनाकाक्षांओं की कीमत पर इमोशनली ब्लैक मेल या फिर पैर छू मुस्कान की वह कला जों ऐसे दलो या जनप्र्रतिनिधियों को हर चुनाव से सफलता दिला देती है।

सावधान होना होगा हमारे भोले भाले आम मतदाता को, पहचानना होगा उन आश्वासन दाताओं को जो बेवजह मोहरा बन जनसेवा के नाम अपनो को ही लुटते लुटाते देखते रहते है। और आम नागरिक 5 वर्षो तक तमाशबीन बन कष्ट भोगते रहते है। यह चुनाव वह मौका है जब हम हमारे अधिकार और कत्र्तव्यों को पहचान, संविधान और देश ने हमें और हमारे नागरिेको को दिया है। बरना तो 65 में से न जाने कितने वर्ष अभावों में ही जीते निकल गये, हो सकता है, कि आने वाले 5 वर्ष भी इसी तरह गुजर जाये। मगर इस मर्तवा लिये गये कोई भी गलत निर्णय के, इस अपराध के लिये कभी हमें हमारे बच्चे माफ न कर सके।

राजधानी रायपुर से लगे हुए इलाकों में कम आमदनी वालों के लिए बनेंगे सस्ते मकान नया रायपुर में इलेक्ट्रॉनिक मेन्यूफेक्चरिंग पार्क निर्माण जल्द शुरू किया जाए: डॉ. रमन सिंह
रायपुर, १८ नवम्बर २०१४ मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने आज यहां मंत्रालय (महानदी भवन) में नया रायपुर विकास प्राधिकरण की बैठक लेकर नये रायपुर के विकास के लिए चल रहे विभिन्न निर्माण कार्यों की समीक्षा की। उन्होंने अधिकारियों को राज्य के विभिन्न स्थानों से नया रायपुर आने वाले गरीबों की सुविधा के लिए कम से कम १२५ लोगों के ठहरने लायक रैन बसेरा बनवाने के निर्देश दिए।उन्होंने कहा कि इसके लिए परियोजना क्षेत्र के ग्राम नया राखी के पास भूमि चिन्हांकित कर आवश्यक तैयारी जल्द शुरू की जाए। मुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि नया रायपुर में अधिक से अधिक संख्या में लोगों की बसाहट जल्द हो सके, इसके लिए वर्तमान रायपुर शहर से लगे हुए इलाकों का भी योजनाबद्ध ढंग से विकास किया जाए और इन इलाकों में कमजोर आर्थिक स्थिति वाले परिवारों को सस्ती दरों पर मकान बनाकर दिए जाएं। डॉ. सिंह ने नया रायपुर के सेक्टर-२२ में इलेक्ट्रॉनिक मेन्यूफेक्चरिंग पार्क निर्माण की प्रस्तावित योजना पर भी आगामी कार्रवाई तेजी से करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि इस संबंध में छत्तीसगढ़ सरकार के प्रस्ताव को केन्द्र सरकार ने हरी झंडी दे दी है। इलेक्ट्रॉनिक मेन्यूफेक्चरिंग पार्क में टेलीविजन, मोबाइल फोन तथा बिजली के उपकरण आदि बनाने के उद्योग लगाने का प्र्रस्ताव है। नॉन कोर सेक्टर की इस पर्यावरण हितैषी औद्योगिक परियोजना में निवेशकों द्वारा लगभग ५०० करोड़ रूपए का पूंजी निवेश किया जाएगा। केन्द्र सरकार से पचास करोड़ रूपए मिलेंगे। राज्य सरकार ५५ करोड़ रूपए खर्च करेगी। मुख्यमंत्री ने आज की बैठक में कहा कि नया रायपुर परियोजना क्षेत्र में केन्द्र तथा राज्य सरकार के जिन विभागों और सार्वजनिक उपकरणों को कार्यालय भवन निर्माण के लिए जमीन दी गई है, उन्हें निर्माण कार्य जल्द शुरू करना चाहिए और समय पर पूर्ण कर लेना चाहिए। इस प्रकार की १०८ सरकारी संस्थाओं को नया रायपुर में एक हजार १३७ हेक्टेयर जमीन दी गई है।

नगर निकाय आम चुनाव-2014 नगर निकाय क्षेत्रों में सूखा दिवस घोषित
जयपुर, 18 नव बर। राज्य सरकार ने आदेश जारी कर 46 नगर निकायों एवं 12 नगर निकायों के 13 वार्डों के उपचुनाव को मद्देनजर रखते हुए स बन्धित नगर निकाय क्षेत्रों में मतदान एवं मतगणना दिवसों को सूखा दिवस घोषित किया है। आदेश के अनुसार स बन्धित नगर निकायों में 20 नव बर, 2014 को सायं 6 बजे से 22 नव बर, 2014 को सायं 6 बजे तथा मतगणना दिवस 25 नव बर, 2014 को सूखा दिवस घोषित किया है।

SHARE
    Your Comment

0 comments:

Post a Comment