जनता की जेब से लाखों करोड़ की लूट, क्या होगा इन लुटेरों का प्रधानमंत्री जी........?

जिस मुकाम पर सवां अरब आबादी वाला मुल्क आज खड़ा है उसके सर्वागीण विकास के लिये सकारात्मक सोच और सेवा का भाव जरुरी है। मगर आर्थिक सुरक्षा के नाम वर्ष 2007 से वर्ष 2011 तक हुई कानून की आढ़ में जनता की जेब से लाखों करोड़ों रुपये की जबरदस्त लूट को देश की जनता कैसे भूल जाये।
जिसमें उसने अपना आर्थिेक भविष्य सुरक्षित करने के नाम अपने गाड़े पसीने की कमाई लगाई थी। चाहे वह बीमा क्षेत्र हो या रियल स्टेट आज वह विगत वर्षो में अपने गाढ़े,पसीने की कमाई गवां हार थक कर बौनी खड़ी है। आखिर क्या होगा इन लुटेरों का प्रधानमंत्री जी जनता की जेब से आर्थिक सुरक्षा के नाम लूटने वालो का?
अगर अपुष्ट सूत्रो की माने तो कानून की आड़ में एक टेबिल पर बैठ सत्ता,नौकरशाह और क पनियों ने देश वासियों को जिस तरह से लूटा है। उसकी निष्पक्ष जांच होना चाहिए। और जनता का पैसा डकार आजाद घूम रहे उन लुटेरों और उनके संरक्षकों को सलाखों के पीछे होना चाहिए।

देश में जनता का पैसा लूट उजागर होने वाली क पनियाँ जिस तरह से सामने आ रही है। उनका सच जिस तरह मीडिया बता रही है।
अगर प्रायवेट बीमा क्षेत्र की जांच हो जाये तो लाखों करोड़ जनता का रुपया पचा जो क पनियों डकार तक नहीं ले रही न ही उन निवेशकों की सुन रही है। वह उपभोक्ता या तो सड़क पर है। या फिर वह मानवीय न्यायालय की शरण में है। कुछ को न्याय मिला तो,कुछ तो लाइन में है। मगर जनता का पैसा लूटने वाली क पनियाँ आज भी कायम है।
अपुष्ट सूत्रों की माने तो भारत सरकार ने बीमा क्षेत्र में प्रायवेट क पनियों को कार्य करने का लायसन्स देश वासियों की विभिन्न क्षेत्रों में आर्थिक सुरक्षा के लिये दिये थे।
मगर इन क पनियों के प्रतिनिधियों ने लालच बस लक्ष्य हासिल करने इन क पनियों की रणनीति के तहत घर के घर में,रिश्तेदार,दोस्त यार,पहचान वाले,युवा बेरोजगारों एवं पॉलसी लेने वालो को ल बे चौड़े सबज बाग दिखा।
देश के अन्दर लाखों करोड़ के बीमा कराये और अंग्रेजी में टंकित पॉलिसियों की आढ़ में करोड़ों कमाये। आज जनता अपने गाढ़े पसीने की कमाई गवां सड़कों पर इन क पनियो को कोस रही है।
मगर भारत सरकार है जो आज भी इन लुटे पिटे लेागों की सुध नहीं ले रही है।
मगर देश वासियों के अपने नये प्रधानमंत्री से बड़ी उ मीदे है। देखना होगा कि लुटे पिटे लेागों की पी.एम.ओ. कब सुध लेता है।

मंत्री-परिषद् द्वारा केन्द्रीय मंत्री श्री गोपनीथ मुंडे के निधन पर शोक व्यक्त
भोपाल : मंगलवार, जून ३, २०१४ मंत्री-परिषद् के सदस्यों ने केन्द्रीय ग्रामीण विकास मंत्री श्री गोपीनाथ मुंडे के आकस्मिक निधन पर गहन शोक व्यक्त किया है। मंत्री श्री बाबूलाल गौर, श्री जयंत मलैया, श्री गोपाल भार्गव, डॉ. गौरीशंकर शेजवार, श्री कैलाश विजयवर्गीय, श्री सरताज सिंह, डॉ. नरोत्तम मिश्रा, कुँवर विजय शाह, श्री गौरीशंकर बिसेन, श्री उमाशंकर गुप्ता, सुश्री कुसुम महदेले, श्रीमती यशोधरा राजे सिंधिया, श्री पारस जैन, श्री अंतर सिंह आर्य, श्री रामपाल सिंह, श्री ज्ञान सिंह, श्री भूपेन्द्र सिंह ठाकुर ने कहा है कि श्री गोपीनाथ मुंडे गरीब, किसान और कमजोर वर्ग के विकास के लिए सदैव प्रयासरत रहे। देश के विकास में उनके योगदान को हमेशा याद रखा जाएगा। उनके निधन से देश को अपूरणीय क्षति हुई है। राज्य मंत्री श्री दीपक जोशी, श्री लाल सिंह आर्य, श्री शरद जैन और श्री सुरेन्द्र पटवा ने भी केन्द्रीय मंत्री एवं वरिष्ठ नेता श्री मुंडे के असामयिक निधन पर गहरा दु:ख व्यक्त किया है। उन्होंने कहा है कि श्री मुंडे जन-नेता थे। उन्होंने सामाजिक सरोकार रखते हुए सदैव जरूरतमंद की सहायता के लिए सक्रियता से कार्य किया। मंत्री-परिषद् के सदस्यों ने अपने शोक संदेश में दिवंगत आत्मा की शांति और उनके परिजनों को यह असीम दु:ख सहन करने की शक्ति और धैर्य प्रदान करने की प्रार्थना ईश्वर से की है।

छत्तीसगढ़ की सड़कों की जानकारी १५ अगस्त तक ऑन लाईन उपलब्ध कराएं: श्री मूणत
रायपुर, ०३ जून २०१४ छत्तीसगढ़ से गुजरने वाले राष्ट्रीय राजमार्गों सहित सभी राज्य राजमार्गों तथा मुख्य जिला मार्गों की जानकारी जल्द ही ऑन लाईन उपलब्ध होगी। इसके साथ ही लोक निर्माण विभाग द्वारा बनाए जाने वाले भवनों तथा पुल-पुलियों की जानकारी भी वेबसाइट पर उपलब्ध होगी। लोक निर्माण मंत्री श्री राजेश मूणत ने आज यहां चिप्स के मुख्यालय स्थित डाटा सेन्टर भवन में विभागीय ऑन लाईन कार्यक्रम की समीक्षा करते हुए सड़कों तथा भवनों से संबंधित समस्त जानकारियां आगामी १५ अगस्त तक ऑन लाईन उपलब्ध करानेे के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि लोक निर्माण विभाग द्वारा बनायी जाने वाली सड़कों सहित सभी निर्माण कार्यो की लागत, निर्माण एजेंसी, निर्माण अवधि तथा प्रगति रिपोर्ट सहित समस्त जानकारियां विभागीय वेबसाइट पर उपलब्ध करा दी जाएं। लोक निर्माण मंत्री श्री मूणत ने डाटा सेन्टर पहुंचकर वहां चिप्स द्वारा तैयार भौगोलिक सूचना प्रणाली (जीआईएस) का अवलोकन किया। चिप्स के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री ए.एम. परियल ने श्री मूणत को बताया कि चिप्स द्वारा तैयार भौगोलिक सूचना प्रणाली के माध्यम से लोक निर्माण विभाग द्वारा निर्मित एवं निर्माणाधीन सभी सड़कों, पुल-पुलियों और भवनों की जानकारी ऑन लाईन उपलब्ध कराने का कार्य तेजी से चल रहा है। श्री मूणत ने कहा कि छत्तीसगढ़ में सड़कों का नेटवर्क तैयार करने में चिप्स द्वारा उपलब्ध कराया गया डाटाबेस काफी उपयोगी साबित होगा। इस प्रणाली के माध्यम से निर्माण कार्यो की प्रगति तथा अद्यतन स्थिति की जानकारी उपलब्ध होगी। उन्होंने कहा कि इस प्रणाली को लगातार अद्यतन किया जाए और इसके लिए विभागीय अधिकारियों को समुचित प्रशिक्षण दिया जाए। इस अवसर पर लोक निर्माण विभाग के प्रमुख अभियंता श्री डी.के. प्रधान सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

मु यमंत्री ने श्री मुंडे को दी भावभीनी श्रद्घांजलि
जयपुर, 3 जून। मु यमंत्री श्रीमती वसुंधरा राजे ने मंगलवार को नई दिल्ली में केन्द्रीय ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज मंत्री श्री गोपीनाथ मुंडे के पार्थिव शरीर पर पुष्पचक्र चढ़ाकर उन्हें श्रद्घाजंलि अर्पित की। श्रीमती राजे ने स्वर्गीय श्री मुंडे की पुत्री को गले लगाकर और अन्य परिजनों से मिलकर उन्हें ढाढस बंधाया। इस मौके पर श्रीमती राजे स्वयं भी भावुक हो गईं।
श्री मुंडे के असमायिक निधन की सूचना मिलते ही मु यमंत्री श्रीमती राजे जयपुर से तत्काल नई दिल्ली पहुंचीं और इंदिरा गांधी अन्तर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे से सीधे श्रद्घांजलि स्थल पर पहुंचकर उन्होंने श्री मुंडे के पार्थिव शरीर पर पुष्प चक्र चढ़ाकर उन्हें अश्रुपूर्ण श्रद्घाजंलि अर्पित की।
SHARE
    Your Comment

0 comments:

Post a Comment