मोदी सरकार ने आधी आबादी के लिए किया अहम फैसला

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुवाई वाली राजग सरकार ने पुलिस फोर्स में नौकरी को लेकर महिलाओं के लिए 33 फीसदी आरक्षण देने का फैसला किया है। महिला आरक्षण विधेयक फिलहाल संसद में अटका हुआ है लेकिन केंद्र में राजग सरकार ने दिल्ली सहित सात केंद्र शासित राज्यों के पुलिस फोर्स में महिलाओं को 33 फीसदी आरक्षण देने का निर्णय लिया है। हालांकि यह प्रस्ताव पूर्ववर्ती संप्रग सरकार ने तैयार किया था, जिस पर मुहर लगाने का निर्णय मोदी सरकार ने लिया है।

गृह मंत्रालय इसको तत्काल प्रभाव से लागू कराने के लिए कैबिनेट नोट तैयार कर रहा है। उसने पहले ही सभी राज्य सरकारों को पुलिस बल में महिलाऔं को 33 फीसदी आरक्षण देने के संदर्भ में सुझाव भेज दिए हैं।
सूत्रों का कहना है कि मंत्रालय ने इस प्रस्ताव को सरकार के 100 दिन के एजेंडे में भी शामिल किया है। गृह मंत्री राजनाथ सिंह मंगलवार को पुलिस फोर्स में महिलाओं के प्रतिनिधित्व की समीक्षा कर रहे थे तब उन्होंने महिलाओं की भर्ती प्रक्रिया तेज करने का निर्देश दिया।

सूत्रों के अनुसार राजनाथ सिंह को बताया गया कि पुलिस फोर्स में महिलओं को नौकरी देने के मामले में केंद्र शासित राज्यों में चंडीगढ़ सबसे आगे है। वहां पर 16.18 फ ीसदी महिलाओं का प्रतिनिधित्व पुलिस फोर्स में है, जबकि पुडुचेरी में सबसे कम 5.89 फीसदी है। इसके अलावा दिल्ली में 7.61 और लक्ष्यद्वीप में 10.52 फीसदी है।
अगर राष्ट्रीय स्तर पर देखा जाए तो पुलिस फोर्स में महिलाओं की भागीदारी केवल 5.33 फीसदी है। देश में पुलिस बल में कुल संख्या 15.85 लाख है, जिसमें महिलाएं 84,479 हैं।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने इन्दौर प्रेस क्लब की वेबसाइट का लोकार्पण किया
भोपाल : बुधवार, जून 25, 2014 मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने आज यहाँ इन्दौर प्रेस क्लब की वेबसाइट http://www.indorepressclub.in/ का लोकार्पण किया। इस अवसर पर प्रेस क्लब के अध्यक्ष श्री प्रवीण खारीवाल, श्री मनोहर लिंबोदिया, श्री के.के.शर्मा, श्री कमल कस्तूरी, श्री चंद्रा बारगल आदि उपस्थित थे।

मुख्यमंत्री ने ‘अभिलाषा परिसर’ में हितग्राहियों को सौंपी मकानों की चाबी : लगभग एक हजार से ज्यादा परिवारों के लिए बन रही है कॉलोनी गृह निर्माण मंडल का डेढ़ सौ करोड़ का प्रोजेक्ट
रायपुर, 25 जून 2014 मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने आज दोपहर संभागीय मुख्यालय बिलासपुर में छत्तीसगढ़ गृह निर्माण मंडल की निर्माणाधीन कॉलोनी ‘अभिलाषा परिसर’ में पूर्ण हो चुके मकानों के दस हितग्राहियों को मकानो ंकी चाबी और उनसे संबंधित अधिकार पत्र सौंपकर बधाई और शुभकामनाएं दी। मुख्यमंत्री ने गृह निर्माण मंडल के अधिकारियों का कॉलोनी का निर्माण अच्छी गुणवत्ता के साथ जल्द से जल्द पूर्ण करने के निर्देश दिए। मुख्यमंत्री ने वहां वृक्षारोपण भी किया। उल्लेखनीय है कि यह कॉलोनी लगभग 38 एकड़ के रकबे में विकसित की करीब 150 करोड़ रूपए की लागत से विकसित की जा रही है। इसमें एक हजार से ज्यादा परिवारों को मकान मिलेंगे। कॉलोनी में स्वतंत्र श्रेणी के 214 मकानांे का निर्माण पूरा हो गया है। अभिलाषा परिसर में इन्हें मिलाकर उच्च आय वर्ग, मध्यम आय वर्ग और निम्न आय वर्ग के कुल 250 मकान बनाए जा रहे हैं। इनके अलावा चार बी.एच.के. और दो बी.एच.के वाले 426 फ्लैट भी बन रहे हैं। आर्थिक दृष्टि से कमजोर वर्ग (ई.डब्ल्यू.एस.) के लिए 408 मकानों का निर्माण किया जा रहा है। कॉलोनी में व्यावसायिक परिसर सहित सभी बुनियादी नागरिक सुविधाओं का भी निर्माण किया जा रहा है। डॉ. रमन सिंह ने इस मौके पर महात्मा गांधी की प्रतिमा का अनावरण भी किया। मुख्यमंत्री के कार्यक्रम में स्वास्थ्य मंत्री श्री अमर अग्रवाल, पूर्व विधानसभा अध्यक्ष श्री धरमलाल कौशिक, बिलासपुर के संभागीय कमिश्नर श्री सोनमणि बोरा, कलेक्टर श्री सिद्धार्थ कोमल सिंह परदेशी, अनेक स्थानीय जनप्रतिनिधिे और बड़ी संख्या में नागरिक उपस्थित थे।

सीएम ने खुद पानी पीकर गुणवत्ता जांची
जयपुर, 25 जून। मु यमंत्री श्रीमती वसुन्धरा राजे ने बुधवार को सरकार आपके द्वार कार्यक्रम के तहत श्रीगंगानगर जिले की श्रीकरणपुर पंचायत समिति के पूसेवाला गांव में पीने योग्य पानी नहीं मिलने की शिकायत को गंभीरता से लिया और स्वयं जल प्रदाय योजना का निरीक्षण करने पहुंच गई। उन्होंने पानी चखा तो वह पीने योग्य निकला। हुआ यूं कि श्रीकरणपुर चक - 23 एफ में प्रस्तावित नई शुगर मिल एवं संयंत्र के निर्माण कार्य का निरीक्षण करने के बाद मु यमंत्री निकली तो एक ग्रामीण ने उनके काफिले को रोककर गांव में पीने योग्य पानी नहीं मिलने की शिकायत की। इस पर मु यमंत्री अधिकारियों को लेकर गांव की जलप्रदाय योजना का निरीक्षण करने पहुंची। उन्होंने बड़ी सं या में मौजूद ग्रामीणों के बीच बाल्टी मंगवाई और टंकी से पानी निकलवाया। इस पानी को स्वयं मु यमंत्री एवं पी.एच.ई.डी. के प्रमुख सचिव श्री प्रेम सिंह मेहरा ने चखा। पानी पीने योग्य था। बाद में मु यमंत्री ने ग्राम पंचायत के सरपंच को भी बुलाकर उनसे पेयजल आपूर्ति और उसकी गुणवत्ता के बारे में पूछा। सरपंच ने बताया कि ग्रामीणों को शुद्घ पेयजल उपलब्ध हो रहा है।
हिन्दूमलकोट चौकी का दौरा किया
मु यमंत्री श्रीमती वसुन्धरा राजे ने श्रीगंगानगर जिले के भारत-पाकिस्तान बॉर्डर पर स्थित सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) की हिन्दूमल कोट चौकी का दौरा किया।
मु यमंत्री ने दूरबीन से बॉर्डर के उस पार फेंसिंग, नो मेन्स लैण्ड और बॉर्डर के दोनों तरफ लगे पिलर को देखा। बीएसएफ के उप महानिरीक्षक श्री आर.एस.राठौड़ ने मु यमंत्री को बताया कि फेंसिंग के बाद 150 मीटर में काश्तकारों की जमीन है, जहां किसान खेती भी करते हैं। चौकी के अवलोकन के बाद मु यमंत्री ने बीएसएफ जवानों की हौसला अफजाई की। मु यमंत्री ने इस दौरान जिला कलेक्टर से बॉर्डर के पास रहने वाले लोगों को दी जा रही सुविधाओं के बारे में भी पूछा। कलेक्टर ने मु यमंत्री को अवगत कराया कि हिन्दूमलकोट जैसे सुदूर इलाके में अभी स्किल डवलपमेंट सेंटर खोला जा रहा है, जहां युवाओं को रोजगार के लिए प्रशिक्षित किया जाएगा।
नई शुगर मिल व संयंत्र के निर्माण कार्य को देखा
मु यमंत्री श्रीमती वसुन्धरा राजे ने गंगानगर जिले के श्रीकरणपुर चक - 23 एफ में प्रस्तावित नई शुगर मिल एवं सयंत्र के निर्माण कार्य का निरीक्षण किया। श्रीगंगानगर शुगर मिल के तहत यहां शुगर एवं कोजना प्लान्ट बनाया जा रहा है।
मु यमंत्री ने इस शुगर मिल के निर्माण कार्य से जुड़ी एजेन्सीज् के प्रतिनिधियों को समयबद्घ रूप से कार्य करने के निर्देश दिए। 
SHARE
    Your Comment

0 comments:

Post a Comment