वाराणसी में राहुल के लिए इंट्री, मोदी के लिए नो इंट्री, नाराज भाजपा देगी धरना

नयी दिल्ली। वाराणसी में राहुल के लिए इंट्री, मोदी के लिए नो इंट्री, नाराज भाजपा देगी धरना नयी दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी के पीएम कैंडिडेट नरेंद्र मोदी को 8 मई को बेनियाबाग में सभा करने की अनुमति नहीं दिए जाने के बाद चुनाव आयोग और भाजपा के बीच घमासान मचा हुआ है।
मोदी को सभा और रैली के लिए इजाजत नहीं मिलने से नाराज भाजपा नेताओं मे बनारस में धरना देना का फैसला किया है। भाजपा के सीनियर नेता अरुण जेटली और मोदी के खास अमित शाह इस धरने का नेतृत्व करेंगे। अरुण जेटली ने यह भी दावा किया कि अनुमति नहीं मिलने के बाद भी मोदी बेनियाबाग जाएंगे। इस बीच बनारस प्रशासन ने कांग्रेस नेता राहुल गांधी के 10 मई के प्रस्तावित कार्यक्रम को अनुमति दे दी है। राहुल को रोड शो के लिए इजाजत मिलने के बाद इस मामले ने और तूल पकड़ लिया है। अरुण जेटली ने बनारस में प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए कहा, 'चुनाव आयोग के पक्षपाती रवैये के खिलाफ बीजेपी के नेता और कार्यकर्ता बीएचयू गेट के सामने धरना देंगे। जेटली ने कहा, " जिला प्रशासन से कई दौर की वार्ता के बाद भी हमें बेनियाबाग में रैली करने की इजाजत नहीं दी गई है। हमने इसकी शिकायत मुख्य चुनाव आयुक्त से की लेकिन बड़े ही दुख के साथ कहना पड़ रहा है कि आयोग इस पूरे मामले पर मूक दर्शक की भूमिका में दिखायी दिया।" जेटली ने कहा कि प्रशासन से बेनियाबाग में रैली और गंगा पूजन की इजाजत मांगी गई थी लेकिन दुर्भाग्यवश प्रशासन की तरफ से इसकी इजाजत नही दी गई। प्रशासन सुरक्षा कारणों और आईबी रिपोर्ट का हवाल दे रहा है जबकि ऐसी कोई स्थिति है ही नहीं। जेटली ने जिला निर्वाचन अधिकारी को निशाने पर लेते हुए कहा कि उनकी भूमिका संदिग्ध है लिहाजा निर्वाचन आयोग को अपनी शक्तियों का इस्तेमाल करते हुए उन्हें हटाना चाहिए लेकिन आयोग की तरफ से कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है।

मुख्यमंत्री की अध्यक्षता में आठ मई को होगी कौशल विकास प्राधिकरण की बैठक
रायपुर, 07 मई 2014 मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह की अध्यक्षता में छत्तीसगढ़ राज्य कौशल विकास प्राधिकरण की शासी परिषद की प्रथम बैठक कल 08 मई को यहां नया रायपुर स्थित मंत्रालय (महानदी भवन) के समिति कक्ष क्रमांक-एस-012 में दोपहर 12 बजे आयोजित की जाएगी।

रासायनिक एवं ज्वलनशील पदार्थ की फैक्ट्रीयों एवं भण्डारण स्थलों के सर्वे हेतु कमेटी गठित
जयपुर, 7 मई। जिला कलक्टर श्री कृष्ण कुणाल ने नगर निगम क्षेत्र में स्थित विभिन्न रीको इंड्रट्रीयल एरिया में संचालित रासायनिक पदार्थों की फैक्ट्री, कारखानों, ज्वलनशील पदार्थों के भण्डारण स्थलों एवं कबाड़ स्थलों का सर्वे करने हेतु एक कमेटी का गठन किया है जिसे 15 मई तक अपनी सर्वे रिर्पाेट जिला कार्यालय में प्रस्तुत करने के निर्देश दिये है। इस समिति में संबंधित रीको क्षेत्र के एस.आर.एम, मु य अग्निशमन अधिकारी, जिला उद्योग केन्द्र के महाप्रबन्धक, नागरिक सुरक्षा के उप नियंत्रक, नगर निगम एवं जयपुर विकास प्रधिकरण के अपने अपने क्षेत्र के संबंधित अधिकारियों को शामिल किया गया है। जिला कलक्टर बुधवार को कलेक्ट्रेट के सभागार में रासायनिक उद्योगों से संबंधित आयोजित बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे। उन्होंने इस समिति को निर्देशित किया है कि समिति अपने सर्वे के दौरान अद्यौगिक क्षेत्र में संचालित रासायनिक फैक्ट्री एवं कारखाने का रजिस्ट्रेशन जिसमें उत्पादन की स्वीकृति दि गई है उसी के अनुरूप किया जा रहा है, रीको, नगर निगम द्वारा अग्निशमन व्यवस्था से संबंधित एनआसी/सर्टीफिकेट दिया गया है, अद्यौगिक क्षेत्र में कबाडियों को प्लास्टिक, पेपर एवं अन्य ज्वलनशील पदार्थ के भण्डारण की स्वीकृती किसके द्वारा एवं किस आधार पर जारी की गई है, संबंधित उद्योगों में इमरजेन्सी न वरों का डिस्प्ले होना, बहुमंजिल इमारतो के लिए जारी फायर एनओसी, कार्मिकों का अग्निशमन में प्रशिक्षित होने, अग्निशमन उपकरणों, समय समय पर मॉक ड्रिलों का आयोजन करने, फैक्ट्री एवं बॉयलर्स द्वारा रासायनिक उद्योगों के निरीक्षण किस आधार पर किस फारमेट में किये गये राजस्थान राज्य प्रदूषण नियंत्रण मण्डल द्वारा उद्योगों के निरीक्षण का आधार, विधुत सप्लाई से संबंधित व्यवस्था, वेस्ट मेटेरियल का रख रखाव व डिस्पोजल एवं आवश्यक मेडिकल की सुविधा की स्थिती के बारे में विस्तृत जानकारी लेकर रिर्पाेट में प्रस्तुत करें। उन्होंनें मु य अग्निशमन अधिकारी एवं उप नियंत्रक को निर्देशित किया है कि पीएचईडी, रीको द्वारा हाईड्रेन्टस चालू हालत में होने के बारे में दी गई जानकारी का सत्यापन कर त्वरिता से रिर्पोट प्रस्तुत करने के निर्देश दिये है। उन्होंने इन अधिकारियों को जोखिम पूर्ण स्थानों को चिन्हित करने और इन स्थानों के लिए आवश्यकतानुसार एमबुलेन्स की उपलब्धता संबंधी रिर्पोट प्रस्तुत करने के भी निर्देश दिये। उन्होंने रीको के अधिकारियों को निर्देशित किया है कि शहर के विभिन्न अद्यौगिक क्षेत्रों में रीको द्वारा स्थापित फायरब्रिग्रेड स्टेशनों को सुचारू रूप से संचालित करें तथा अग्निशमन केन्द्रो पर आवश्यकतानुसार अग्निशमन वाहन एवं जनशक्ति की उपलव्धता शीघ्रता से सुनिश्चित करें।

मतगणना के संबंध में भारत निर्वाचन आयोग की वीडियो कान्फ्रेसिंग 12 मई को
भोपाल : बुधवार, मई 7, 2014 भारत निर्वाचन आयोग 12 मई को वीडियो कान्फ्रेसिंग के जरिए मतगणना की तैयारियों की समीक्षा करेगा। आयोग के महानिदेशक श्री आशीष श्रीवास्तव और अन्य अधिकारी नई दिल्ली से अपरान्ह 3 बजे वीडियो कान्फ्रेंसिंग द्वारा मध्यप्रदेश के निर्वाचन से जुड़े अधिकारियों से चर्चा करेंगे। मध्यप्रदेश के मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी श्री जयदीप गोविंद सहित सीईओ कार्यालय के अन्य अधिकारी, 29 रिटर्निंग ऑफिसर (आरओ), जिला निर्वाचन अधिकारी (डीआरओ), सहायक निर्वाचन अधिकारी (एआरओ), एनआईसी के डीआईओ आदि वीडियो कान्फ्रेंसिंग में शामिल होंगे।

SHARE
    Your Comment

0 comments:

Post a Comment