बगैर रोड मैफ के,वोटो की बहस

व्ही.एस.भुल्ले/ अब इसे हम हमारे महान लेाकतंत्र का सौभाग्य कहे या दुर्भाग्य जो 16 वी लेाकसभा के गठन के पूर्व बगैर विकास के रोड मैफ के जनता के सामने वोट कबाडऩे बैवजह की बहस देश भर में छिड़ी हुई है। जो देश की सवां अरब जनता के सपनो को दफन कर व्यक्तिगत आरोप प्रत्यारोप पर आ रुकी है।

शायद प्रियंका ने अपने भाषणों में जिस भी कारण से जो भी कहा हो या कहे रही हो,मगर उन्होंने एक बात अवश्य सटीक कहीं कि देश की जनता किसी स्कूल में पढऩे वाले बच्चों की तरह नहीं जिन्हें पढ़ाने की जरुरत पढ़े वह समझदार और वह जबाव देना जानती है।
मगर अफसोस जिस तरह से देश की कुछ मीडिया का चेहरा अब देश वासियों के सामने आ रहा है। कारण जो भी हो वह अब हमारे महान लेाकतंत्र के हितो से दूर होता जा रहा है।
काश देश का कुछ तथाकथित मीडिया नेताओं की बड़ी-बड़ी रैलियो,क्विंटलों फूल बारिस और व्यक्तिगत आरोप प्रत्यारोपों की कीचड़ से निकल वो अहम सवाल उठाता जिनकी देश व देश की जनता को आज स त जरुरत है।
अगर वर्तमान चुनावी परिवेश देखे तो इसमें अहम मुद्दों से इतर व्यक्तिगत आरोप प्रत्यारोपो के सहारे चुनावी समर पार करने के प्रयास चल रहे है। अगर यो कहे कि देश की कलफती जनता को भ्रमित करने असफल प्रयास हो रहै है, तो कोई अतिसंयोक्ति न होगी।
यूं तो पूरे कुये में ही भांग पढ़ी है क्या समाज क्या राजनीति सभी दूर उल्टी गंगा वह रही हो तो, कहे जाने को बहुत कुछ शेष नहीं रह जाता। मगर कहते है कि कोशिस अन्तिम छोर तक की जानी चाहिए। सो अपुन तो प्रयास करेगें।
अब्बल होना तो यह चाहिए था कि यू.पी.ए. हो या एन.डी.ए. या फिर तीसरा मोर्चा या फिर कॉग्रेस,भाजपा जैसे वृहत दल जो 16 वी लेाकसभा की अगुआई करना चाहते है।
वोट लेने से पहले सभी को देश की जनता को बताना चाहिए कि देश और देश की सवां अरब जनता की समपन्नता,खुशहाली का उनके पास क्या रोड मैफ है।
और आयोग को भी चाहिए था कि वह निर्धारित तारीख तक समस्त घोषणा पत्रों की घोषणा एक साथ करा देता जिससे किसी को किसी के मुद्दे हथियाने का मौका नहीं रहता।
मगर र्दु ााग्य ऐसा नहीं हो सका।
जहां तीसरा मोर्चा क्षेत्रीय परफॉरमेन्स को सामने रख देश चलाने की बात कहते है तो वहीं यू.पी.ए. अपनी 10 वर्ष की परफॉरमेन्स के साथ नई योजनाओं पर वोट मांग रही है। तो वहीं भाजपा नेतृत्व वाली एन.डी.ए. गुजरात विकास मॉडल के साथ नई प्रक्रिया एवं विभिन्न क्षेत्रों में अपना काम गिना देश को स्वाभिमानी स पन्न,शक्ति शाली बनाना चाहती है। मगर देश की सवां अरब जनता के सामने सबसे अहम सवाल यह है।
कि देश से भ्रष्टाचार कब खत्म होगा, कब हम अपने ही देश में स्वयं को सुरक्षित महसूस कर पायेगें, कैसे देश के बेरोजगार हाथों को रोजगार हासिल होगा। कब हम आत्म निर्भर बन खुशहाल होगें। तथा कैसे समाज में समरसता और समानता ला पायेगें।
कब रुकेगा अपने ही देश मेें अपनो के द्वारा लूट खसोट का खेल,कैसे हमारा समाज पुन: हमारी स्वाभिमानी पर परा सिद्धान्तों,संस्कार कर पैरोकार बनेगा।
ये बस नजीरे है सवाल तो कई है मगर शर्म आती है जब कर्ज के बोझ तले गरीब मजदूर,किसान दम तोड़ता है शर्म आती है जब प्राकृतिक आपदा के बाद आम नागरिक असहज हो जाता। शर्म आती है जब अत्याचार व्यक्तिचार पर समाज नंगा हो जाता है। इन सवालो पर बहस और वोट की मांग होना चाहिए साथ ही यह सोचना होगा हमारे देश वासियों के बीच समाज का इतना वीभत्स समाज का चेहरा, हमारी पवित्र मातृ भूमि पर कैसे फल फूल रहा है तभी सच्चा और अच्छा लेाकतंत्र बचेगा न कि आरोप प्रत्यारोपो की बहस से।


अब र तार की दुनिया से जुड़ेगी शिवपुरी
रेलवे डीआरएम ने कहा 100 किमी की र तार से दौड़ेंगी शिवपुरी रूट पर ट्रेन
शिवपुरी-बड़े-बड़े शहरों की तरह शिवपुरी भी रेल परिवहन में र तार की दुनिया से जुडऩे जा रही है। इस संबंध में जानकारी देने व रेलवे स्टेशन का निरीक्षण करने भोपाल से आए रेल विभाग के डीआरएम राजीव चौधरी शिवपुरी आए और उन्होंने पत्रकारों से कहा कि मंगलवार से शिवपुरी रूट से निकलने वाली ट्रेनें 100 किमी प्रति घंटे की र तार से दौड़ेंगी। इस दौरान उन्होंने स्टेशन का निरीक्षण भी किया। इस निरीक्षण दल में वरिष्ठ वाणिज्य मंडल प्रबंधक बृजेन्द्र कुमार, डीईएन रमाकांत पाण्डेय, डी.आर.एम दिलीप चौधरी डीओएम मुकेश गुप्ता, वरिष्ठ मंडल इंजीनियर राजेश अग्रवाल भी शामिल थे। शिवपुरी आये निरीक्षण दल के सदस्यों का स्टेशन प्रबंधक श्री मीणा एवं सहायक प्रबंधक उमेश शर्मा द्वारा स्वागत किया गया। शिवपुरी रेलवे स्टेशन पर विभिन्न सुविधाओं को उपलबध कराने की डीआरएम द्वारा घोषणा की गई। जिसकी ल बे समय से चे बर ऑफ कॉमर्स के अध्यक्ष विष्णु अग्रवाल द्वारा मांग की जा रही थी। इस दौरान डीआरएम राजीव चौधरी ने खबरनबीसों से चर्चा करते हुए बताया कि रेल यात्रियों की सुविधा को दृष्टिगत रखते हुए प्लेट फार्म न बर दो पर कैन्टीन का शुभार भ शीघ्र ही किया जायेगा जिससे यात्रियों को चाय, पानी तथा खाने पीने की सामिग्री प्लेट फार्म न बर दो पर ही उपलब्ध हो सके। साथ ही रेलवे स्टेशन पर आने बाली वाहनों की परेशानी को दृष्टिगत रखते हुये पोहरी रोड से रेलवे स्टेशन तक पहुंच मार्ग को शीघ्र ही सुधारा जायेगा जिससे स्टेशन पर आने बाले वाहन चालकों को असुविधा का सामना न करना पडे। यात्रियों की सुविधा के लिए शिवपुरी रेलवे स्टेशन पर 10 दिन में इलेक्ट्रोनिक डिस्प्ले बोर्ड लगाऐं जाऐंगें। जिससे यात्रियों को बोगी न बर एवं शिवपुरी रेलवे स्टेशन पर आने वाली रेल गाडियों की जानकारी उपलब्ध हो सकेगी। टिकिट की लंबी लाईन को दूर करने के लिए अतिरिक्त बाबू की व्यवस्था भी की जाएगी साथ ही विद्युतीकरण योजना से शिवपुरी रेल को जोड़ा जाए इसके लिए भी प्रयास किए जाऐंगें। अंत में एक नई पैसेंजर गाड़ी चलाने का प्रस्ताव भी शासन को भेजा गया है। 
SHARE
    Your Comment

0 comments:

Post a Comment