विदिशा विधानसभा को आदर्श विधानसभा बनाया जायेगा: सीएम ने कहा

विदिशा/ CM श्री शिवराज सिंह चौहान सपत्नी श्रीमती साधना सिंह के साथ आज विदिशा विधानसभा क्षेत्र के विभिन्न गांवो का भ्रमण कर ग्रामीणों की मूलभूत समस्याओं से अवगत हुए और उनके निराकरण हेतु आवश्यक दिशा निर्देश दिए।
इस अवसर पर वन मंत्री डॉ0गौरीशंकर शैजवार भी साथ मौजूद थे।  cm श्री चौहान ने ग्रामीणजनों से कहा कि विदिशा विधानसभा क्षेत्र को आदर्श विधानसभा बनाने में किसी भी प्रकार की कोई कोर कसर नही छोड़ी जायेगी। उन्होंने गांव को भी आदर्श बनायें जाने हेतु आमजनों से सहयोग करने की अपील की। मु यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रत्येक गांव में शासन की हर योजना के सुपात्र हितग्राहियों को लाभांवित किया जायेगा इसके लिए उन्होंने विशेष शिविर गांवो में आयोजित कर सुपात्रों का चयन करने के निर्देश दिए। मु यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि  समग्र सामाजिक सुरक्षा कार्यक्रम के दायरे में आने वाले सभी हितग्राहियों को शत प्रतिशत लाभ दिलाया जायेगा। ततसंबंध में उनके द्वारा जिले में अब तक किए गए सर्वे के संबंध में पूछताछ की गई। इस अवसर पर कलेक्टर श्री एम0बी0ओझा ने बतलाया कि अब तक सात लाख अस्सी हजार हितग्राहियों के नाम पोर्टल पर दर्ज किए जा चुके है। मु यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि इस वर्ष से किसानों को 150 रूपए बोनस राशि प्रदाय की जायेगी वही गरीबों को एक रूपए की दर पर गेहूं एवं चावल प्रति किलो के मान से मिलेगा। उन्होंने खेती के पैटर्न को बदलने का आव्हान कृृषकों से किया। पर परागत खेती के साथ-साथ उन्होंने फल, उद्यान एवं फूलों की भी खेती करने का आग्रह किया।

मु यमंत्री श्री चौहान ने ग्राम कुंआखेड़ी के माध्यमिक शाला में पहुंचकर छात्र-छात्राओं से मुलाकात की और उन्हें नये वर्ष की शुभकामनाएं दी। यहां उन्होंने हाई स्कूल की परीक्षा में सर्वाधिक अंक प्राप्त करने वाली छात्रा कु0सवना मीना को 11 सौ रूपए का पुरस्कार प्रदाय किया। विद्यार्थियों से उन्होंने कहा कि खूब मन लगाकर पढ़ाई करें एवं जिले के साथ-साथ प्रदेश का नाम गौरवान्वित करें। उनकी पढ़ाई में किसी भी प्रकार का व्यवधान नही होने दिया जायेगा।

अटारीखेजड़ा को टप्पा एवं चौकी की सौगात
मु यमंत्री श्री चौहान ने ग्राम अटारीखेजड़ा में आयोजित आमसभा के दौरान ग्राम को राजस्व टप्पा बनाने और पुलिस चौकी खोले जाने एवं छात्रावास भवन की घोषणा की। यहां उन्होंने सिंचाई संसाधनों को बढ़ावा देने हेतु ग्राम के जल स्त्रोतों का सर्वे कर नहरो के माध्यम से खेतों तक पानी पहुंचाने का आश्वासन दिया।

     

मनरेगा मस्टर रोल में मृतकों के नाम होने पर ग्राम पंचायत सचिव निलंबित

ग्वालियर 04 जनवरी 2014/ मनरेगा योजना के अंतर्गत मृत व्यक्तियों को मस्टर रोल पर जीवित बताकर भुगतान कराने वाले पंचायत सचिव को जिला पंचायत की मु य कार्यपालन अधिकारी श्रीमती सूफिया फारूकी वली द्वारा निलंबित कर दिया गया है। जनपद पंचायत डबरा के तत्कालीन सीईओ के विरूद्ध अनुशासनात्मक कार्यवाही का निर्णय लिया गया है।
जिले की जनपद पंचायत डबरा की ग्राम पंचायत जनकपुर के सचिव श्री देवेन्द्र सिंह यादव की शिकायत की जाँच सहायक कलेक्टर श्री कार्तिकेयन की अध्यक्षता में गठित समिति द्वारा की गई। जाँच में दोषी पये जाने पर आयुक्त ग्वालियर संभाग द्वारा दिये गये निर्देशों के पालन में मु य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत द्वारा ग्राम पंचायत सचिव को निलंबित किया गया है।
निलंबित सचिव से विश्रीय अनियमितता की धनराशि की वसूली एवं तत्कालीन मु य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत डबरा के विरूद्ध भी दायित्वों के निर्वहन में दोषी मानते हुए अनुशासनात्मक कार्यवाही भी की जायेगी।

गांव, गरीब, किसान, मजदूर के विकास हेतु कृत संकल्पित है - स्वास्थ्य मंत्री डा. नरोत्तम मिश्रा
दतिया दिनंाक 4 जनवरी 2014 मध्यप्रदेश शासन के लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण, चिकित्सा शिक्षा, आयुष, भोपाल गैस त्रासदी एवं संसदीय कार्य विभाग मंत्री डा. नरोत्तम मिश्रा द्वारा ग्राम जिगना, डंगा करैरा, चौपरा आदि ग्रामों का दौरा किया। पुन: मंत्री बनने के बाद पहलीवार ग्रामीण क्षेत्र पहुंचे स्वास्थ्य मंत्री डा. नरोत्तम मिश्रा का ग्रामीणजन ने गर्मजोशी से पुष्पवर्षा कर स्वागत किया। जिगना में स्वास्थ्य मंत्री द्वारा बग्गी पर बैठकर ग्राम भ्रमण किया श्री कमलू चौबे द्वारा साफा बांधकर स मानित किया। इस दौरान वरिष्ठ समाज सेवी श्री अवधेश नायक, श्री संतोष कटारे, श्री विक्रम सिंह बुन्देला आदि उपस्थित रहे। ग्राम जिगना में उपस्थित जन समुदाय को संबोधित करते हुए स्वास्थ्य मंत्री डा. नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि सरकार बनने के साथ ही मु यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा गांव, गरीब, किसान, मजदूर, झुग्गी, झोपड़ी के साथ पूरे प्रदेश के विकास हेतु विजन तैयार किया गया है उनकी मंशानुरूप हम सभी इस कार्य के लिए संकल्पित है। उन्होंने कहा कि हर गरीब को एक रूपये किलो गेंहूॅ, एक रूपये किलो चावल दिया जायेगा, ग्राम पंचायत में रजिस्ट्रेशन जरूर कराये। उन्होंने कहा कि एक दिन की मजदूरी में पूरे माह का राशन आयेगा बाकी आमदानी में अपने बच्चों की पढ़ाई, लिखाई एवं विकास में खर्च करें। उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश सरकार 100 दिन की कार्य योजना बनाकर जनता के हितों के संबंध में निर्णय ले रही है।  स्वास्थ्य मंत्री डा. नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि जिगना वासियों ने जो अभूतपूर्व स्वागत करते हुए फूल बरसायें है उनसे में अभिभूत हों। जिगना के विकास मेें आगे भी कोई कसर नहीं छोड़ी जायेगी। उन्होंने सभी से इसी प्रकार स्नेह बनाये रखने की अपील की। कार्यक्रम का संचालन श्री अरूण मिश्रा द्वारा किया गया। शिक्षक श्री पूरन शर्मा द्वारा स्वागत गीत प्रस्तुत किया गया। इस अवसर पर श्री कमलू चौबे के अलावा सर्वश्री शिवराम सिंह, पप्पू सरपंच, गौरव मिश्रा, राजपाल सिंह परमार, राजकुमार मिश्रा, नरेन्द्र भार्गव, सियाराम शर्मा, रामनरेश शर्मा, सुरेन्द्र मिश्रा, हिमानी तिवारी आदि सहित भारी जन समुदाय उपस्थित रहा।

गुना जिले की 2014-15 की 212 करोड़ से अधिक विकेन्द्रीकृत योजना स्वीकृत
गुना 04 जनवरी 2014/ राज्य योजना आयोग ोपाल द्वारा विकेन्द्रीकृत जिला योजना वर्ष 2014-15 के लिये गुना जिले हेतु 212 करोड़ 64 लाख की योजना की स्वीकृति गत दिनों राज्य योजना आयोग के उपाध्यक्ष श्री बाबूलाल जैन की उपस्थिति में दी गई । इस दौराने जिला कलेक्टर श्री संदीप यादव, जिला पंचायत के मु य कार्य पालन अधिकारी श्री शेखर वर्मा एवं  जिला शहरी विकास अ िकरण के परियोजना अधिकारी श्री रोहित सिंह द्वारा जिले की विकेन्द्रकृत योजना की प्रस्तुति दी गई ।

जिला योजना अधिकारी डॉ एस के ार्गव ने बताया कि गत दिनों ोपाल में आयोजित बैठक में जिले की वर्ष 2014-15 की विकेन्द्रीकृत योजना के तहत 27 वि ागों के लिये 212 करोड़ 64 लाख की राशि राज्य योजना आयोग द्वारा स्वीकृत की गई । जिसमें सामान्य मद में 135 करोड़ 29 लाख, आदिवासी उपयोजना में 31 करोड़ 71 लाख, विशेष क्षेत्र योजना के तहत45 करोड़ 63 लाख की राशि शामिल है । उन्होने बताया कि योजना में तहसील स्टाफ के आवासीय वन हेतु 2 करोड़, जिला योजना के खण्ड स्तर के अन्वेषक के आवास सह कर्यालय हेतु 30 लाख  प्रत्येक विकास खण्ड के मान से राशि स्वीकृत की गई । जिला योजना अधिकारी ने बताया कि जिला विकेन्द्रीकृत योजना के तहत पहलीवार शामिल किये गये पुलिस वि ाग को 1 करोड़ 60 लाख, जेल को 20 लाख, होमगार्ड को 10 लाख, कौशल विकास के लिये 1 करोड़ , आयुष वि ाग के अस्पताल निर्माण एवं उपकरण खरीदी हेतु 20 लाख , सौर ऊर्जा हेतु 20 लाख,नवीन ऊर्जा वि ाग हेतु 10 लाख के राशि का प्रावधान आगामी विश्रीय वर्ष में दिये जाने की स्वीकृति राज्य योजना आयोग द्वारा दी गई ।


SHARE
    Your Comment

0 comments:

Post a Comment