गांवों के लिए वरदान बन रही मुख्यमंत्री ग्राम सड़क योजना

रायपुर/ प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के निर्धारित मापदण्डों से बाहर रह गयी ग्रामीण बसाहटों को बारहमासी डामरीकृत अथवा कांक्रीट की सड़कों से जोड़ने के लिए छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा संचालित मुख्यमंत्री ग्राम सड़क एवं विकास योजना ऐसे गांवों के लिए वरदान साबित हो रही है। इसी तरह मुख्यमंत्री ग्राम सड़क और विकास योजना के निर्धारित मानकों से बाहर रह गए गांवों में कीचड़ और धूल की समस्या से जनता को राहत दिलाने के लिए मुख्यमंत्री ग्राम गौरव पथ योजना शुरू की गयी है।

पंचायत और ग्रामीण विकास विभाग के अधिकारियों ने आज यहां बताया कि मुख्यमंत्री ग्राम सड़क एवं विकास योजना के तहत वर्ष २०११-१२ और वर्ष 2012-13 के बजट से विभाग द्वारा लगभग चार हजार ५४४ किलोमीटर की एक हजार ३६० सड़कों के निर्माण के लिए दो हजार २१२ करोड़ ५२ लाख रूपए मंजूर किए जा चुके हैं। कई गांवों में मुख्यमंत्री ग्राम सड़क एवं विकास योजना के तहत डामर अथवा सीमेंट कांक्रीट की सड़कों का निर्माण पूर्ण होने पर अब वहां के निवासियों को बरसात में कीचड़ की समस्या से मुक्ति मिल गयी है और आवागमन भी आसान हो गया है। 

योजना के तहत इस समय दो हजार ४४३ किलोमीटर की ८६९ सड़कों में डब्ल्यू.बी.एम., डामरीकरण और गली सीमेंट कांक्रीटीकरण के कार्यो के साथ यात्री प्रतीक्षालयों और हैण्डपम्पों का भी निर्माण करवाया जा रहा है। वर्तमान वित्तीय वर्ष २०१३-१४ में इस योजना में होने वाले निर्माण कार्यो में लगभग ३५० करोड़ रूपए की लागत संभावित है। अधिकारियों के अनुसार मुख्यमंत्री ग्राम सड़क और विकास योजना का एक उद्देश्य यह भी है कि मुख्य सड़कों से बिना जुड़ी बसाहटों को कम से कम एक तरफ से डामर की सड़कों से जोड़ा जाए और अपवाद स्वरूप जहां दूसरी तरफ जोड़ने के लिए कम लम्बाई की सड़क बनाने की जरूरत हो, वहां दोनों तरफ से सड़क बनाने के बारे में विचार किया जा सकता है। 

इस योजना में बनने वाली सड़कों की चौड़ाई ३.७५ मीटर रखी गयी है। डामरीकृत अथवा सीमेंट कांक्रीट वाली इन सड़कों के निर्माण के साथ इनमें शोल्डर और पटरी सहित कुल चौड़ाई साढ़े सात मीटर की होती है, जिनमें स्थानीय जरूरत के अनुसार मध्यम ऊंचाई के पुल-पुलियों का भी निर्माण किया जा सकता है। जहां कम चौड़ाई की जमीन है वहां साढ़े सात मीटर के स्थान पर छह मीटर की चौड़ाई में सड़क और  पुल-पुलिया का निर्माण किया जा सकेगा। योजना के तहत बनने वाली सड़कों के किनारे के सभी गांवों में यात्री प्रतीक्षालय, महिला प्रसाधन और सार्वजनिक पेयजल सुविधा का भी प्रावधान किया गया है। 

इन सड़कों के किनारे सभी गांवों के भीतर की गलियों में सीमेंट कांक्रीट मार्ग और नालियों के निर्माण का भी प्रावधान है। मुख्यमंत्री ग्राम सड़क एवं विकास योजना की प्रत्येक सड़क में एक-डेढ़ किलोमीटर पर ५० मीटर लम्बी और साढ़े सात मीटर की अतिरिक्त चौड़ाई में एक अन्य सड़क का भी निर्माण करने का प्रावधान है, ताकि किसान उस रास्ते अपने खेतों से टेऊक्टर, बैलगाड़ी आदि में फसल की लोडिंग के साथ आसानी से अपनी फसल का परिवहन कर सकें। इस योजना में सड़कों से खेतों में उतरने के लिए उचित ढाल की एप्रोच रैम्प का निर्माण भी किया जा रहा है, ताकि किसान खेतों में अपने टेऊक्टर आदि आसानी से उतार सकें।

अधिकारियों ने बताया कि मुख्यमंत्री ग्राम गौरव पथ योजना के तहत वित्तीय वर्ष २०१२-१३ में लगभग ८०० किलोमीटर के दो हजार ३३१ गौरव पथ मंजूर किए जा चुके हैं, जिनके निर्माण में लगभग चार सौ करोड़ रूपए की लागत आएगी। इस योजना में सीमेंट कांक्रीट सड़कों के साथ नालियों का भी निर्माण किया जा रहा है।

प्रमुख शासन सचिव द्वारा स्कूलों का आकस्मिक निरीक्षण,संस्था प्रधानों व शिक्षकों को गुणवत्ता सुधारने के निर्देश
जयपुर, 18 जनवरी। प्रमुख शासन सचिव स्कूल शिक्षा श्री खेमराज ने शनिवार को चाकसू क्षेत्र की चार स्कूलों का आकस्मिक निरीक्षण कर विस्तृत जांच की तथा संबंधित संस्था प्रधानों एवं शिक्षकों को अध्यापन कार्य में विशेष ध्यान देते हुए गुणवत्ता सुधार के निर्देश प्रदान किये। प्रमुख शासन सचिव ने राजकीय उच्च प्राथमिक विद्यालय निमोडिया, राजकीय बालिका उच्च प्राथमिक विद्यालय निमोडिया, राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय निमोडिया तथा राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय बीलवा का आकस्मिक निरीक्षण कर इन विद्यालयों की शिक्षण व्यवस्था व अन्य गतिविधियों का गहन निरीक्षण किया तथा सभी विद्यालयों के संस्था प्रधान को स्वयं द्वारा गृहकार्य पुस्तिकाओं के जांच कार्य का अवलोकन कर रिकार्ड संधारित करने एवं अवलोकित दिवस को ही रिपोर्ट जिला शिक्षा अधिकारी को प्रेषित करने के निर्देश दिये। निरीक्षण को दौरान प्रमुख शासन सचिव ने विद्यार्थियों की गृहकार्य पुस्तिकाओं की नियमित जांच एवं दिनांक सहित हस्ताक्षर करने के लिए संबंधित शिक्षकों को हिदायत दी तथा गृहकार्य जांच में पाई गई त्र्ुाटियों पर गोला लगाकर उनकारें शुद्घ करवाने एवं छात्रों से अ यास करवाने के संबंध में भी शिक्षकों को विशेष ध्यान देने के निर्देश भी दिये। उन्होंने इस दौरान शिक्षण कार्य के साथ-साथ राजकीय उच्च प्राथमिक विद्यालय, निमोडिया में पोषाहार को चखकर उसमें आवश्यक सुधार के भी निर्देश दिये। साथ ही सभी संस्था प्रधानों को विद्यालय प्रबन्धन समितियों के साथ समय-समय पर विचार विमर्श एवं समन्यवय स्थापित कर उनके सहयोग से विद्यालय की समस्याओं का समाधान करने के भी निर्देश दिये। निरीक्षण के दौरान शिक्षा उप निदेशक (माध्यमिक) जयपुर संभाग श्री कमलेश शर्मा, जिला शिक्षा अधिकारी, प्रार िभक श्री पुरूषोत्तम शर्मा सहित अन्य संबंधित अधिकारी साथ थे।

राज्यपाल ने 02 मंत्रियों को पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलाई
लखनऊ: १८ जनवरी, २०१४ उत्तर प्रदेश के राज्यपाल श्री बी.एल. जोशी ने मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव की मंत्रणा से नियुक्त किए गए ०२ मंत्रियों को आज यहां राजभवन में पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलाई। राज्य मंत्री श्री मनोज कुमार पाण्डेय एवं राज्य मंत्री(स्वतंत्र प्रभार) श्री गायत्री प्रसाद प्रजापति को राज्यपाल ने मंत्री पद की शपथ दिलाई। मंत्री के रूप में नियुक्त किए गए विधायक श्री शिवाकान्त ओझा किसी कारण शपथ ग्रहण हेतु उपस्थित नहीं हो सके। अतः इनकी शपथ ग्रहण राज्यपाल की आज्ञा से बाद में कराई जाएगी।
इस मौके पर पूर्व मुख्यमंत्री श्री मुलायम सिंह यादव, राज्यमंत्रिमण्डल के सदस्यगण सहित अन्य जनप्रतिनिधि, मुख्य सचिव श्री जावेद उस्मानी, प्रमुख सचिवराज्यपाल श्री राजीव कपूर, प्रमुख सचिव मुख्यमंत्री श्री राकेश गर्ग, पुलिसमहानिदेशक श्री रिजवान अहमद सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

नई राष्ट्रीय युवा नीति शीघ्र घोषित की जाएगी: श्री जितेंद्र सिंह
नई दिल्ली। १८-जनवरी, २०१४ रक्षा राज्य मंत्री और युवा कार्य एवं खेल राज्य मंत्री श्री जितेंद्र सिंह ने कहा है कि राष्ट्रीय युवा नीति की घोषणा शीघ्र की जाएगी। श्री जितेंद्र सिंह आज यहां एनसीसी गणतंत्र दिवस शिविर २०१४ में एनसीसी कैडेट का संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि मंत्रिमंडल ने पिछले सप्ताह ही नई राष्ट्रीय युवा नीति को मंजूरी दे दी है।

श्री जितेंद्र सिंह ने कहा कि नई नीति तैयार करते समय अनेक लोगों और खासतौर से देशभर के युवा वर्ग से विचार-विमर्श किया गया है। उन्होंने कहा कि नई नीति में विभिन्न विभागों और मंत्रालयों के बीच बेहतर तालमेल बनाया जाएगा ताकि संस्थागत व्यवस्था की जा सके। उन्होंने कहा कि नई नीति का उद्देश्य उत्पादक श्रम शक्ति का सृजन करना, सशक्त स्वस्थ युवा वर्ग को विकसित करना, विकास खंड स्तर पर बुनियादी ढांचा उपलब्ध कराना, सामाजिक मूल्यों को बढ़ावा देना और जोखिम में युवा वर्ग की सहायता करना और बराबर अवसर उपलब्ध कराना है। गणतंत्र दिवस शिविर २०१४ में सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों से २०७० कैडेट भाग ले रहे हैं। युवा वर्ग आदान प्रदान कार्यक्रम के तहत ८२ कैडेट मित्र देशों से आए हैं।

अधिकारिक यात्रा पर शिवपुरी आए रोटरी के प्रांतपाल

शिवपुरी, ब्यूरो 18 जनवरी।  रोटरी क्लब के प्रांतपाल गत रोज अधिकारिक यात्रा पर शिवपुरी आए। यहां उन्होंने होटल ग्रीनव्यू में रोटरी क्लब के पदाधिकारियों की बैठक ली तथा उन्हें दिशा निर्देशित किया। क्लब के अध्यक्ष प्रदीप सांखला ने बताया कि डीएसपी सुरेश सिंह सिकरवार के अथक प्रयासों से शांतिराम ट्रस्ट द्वारा एक एंबूलेंस गरीबों की सेवार्थ   रोटरी क्लब शिवपुरी को उपलब्ध कराई। 

जिसका विधिवत शुभारंभ बीते रोज शिवपुरी आए रोटरी के प्रांतपाल राधेश्याम राठी ने फीता काटकर किया। इसके अलावा वे फतेहपुर स्थित विकलांग छात्रावास भी गए तथा वहां बच्चों को मिष्ठान व कॉपी-पेंसिल वितरित की। इस मौके पर प्रांतपाल राधेश्याम राठी व उनकी पत्नी चन्द्रकांता राठी, सहप्रांतपाल नंदकिशोर राठी, रेणु सां ाला, मंजू गुप्ता, गीता दीवान, शांतिराम ट्रस्ट के संचालक विपुल पांडे, वंदना पांडे, सुरेश सिंह सिकरवार आदि का विशेष योगदान रहा। क्लब के अध्यक्ष प्रदीप सां ाला ने बताया कि यह एंबूलेंस गरीब व निसहाय लोगों के लिए डीजल व ड्राइवर के ार्चे पर उपलब्ध कराई जाएगी। कार्यक्रम के अंत में आभार प्रदर्शन सचिव मनोज गुप्ता ने किया।

कार्यक्रम में ये हुए स मानित
शिवपुरी। होटल ग्रीन व्यू में आयोजित कार्यक्रम में रोटरी क्लब के प्रांतपाल राधेश्याम राठी द्वारा सेवा भावी कार्यों के लिए विपुल पांडे व सुरेश सिंह सिकरवार को स्मृति चिन्ह देकर स मानित किया गया। साथ ही नेत्र चिकित्सकों व स्टाफ को अतिथियों द्वारा स मानित किया गया। इस मौके पर कार्यक्रम का संचालन सुनीता गौड़ व आभार प्रदर्शन संयोजक अनुज अग्रवाल, लव अग्रवाल द्वारा किया गया। 

इस मौके पर रोटरी राइजर्स के अध्यक्ष कपिल जैन पत्ते वाले, सचिव शिंकी अग्रवाल, रोटरी अध्यक्ष प्रदीप सांखला, सचिव मनोज गुप्ता, डॉ एमडी गुप्ता, डॉ सुशील वर्मा, डॉ ओपी शर्मा, तेजमल सांखला, संजय लूनावत, राजेश गोयल, संजय सांखला, प्रदीप गौड़, विनोद सेंगर, राहुल गंगवाल, मुकेश जैन, जिनेश जैन, गिर्राज ओझा, सुभाष खंडेलवाल, मनोज मित्तल, सर्वेश अरोरा, आशीष जैन, मोनू चौकसे, विवेक शर्मा सहित सभी सदस्यगण मौजूद थे। सचिव मनोज गुप्ता द्वारा क्लब की गतिविधियों के बारे में विस्तार से बताया।

SHARE
    Your Comment

0 comments:

Post a Comment