कुख्यात डकैत गैंगो के 2 सदस्य गिरफ्तार

म.प्र. शिवपुरी। आनन-फानन में आयोजित भरी प्रेस कॉन्फे्रन्स में पुलिस अधिक्षक एम.एस. सिकरवार ने बताया कि पेाहरी विधानसभा क्षेत्र में ग्राम महेशपुर डकैती की योजना एवं पूर्व में दो लेागों का अपहरण कर पुलिस दबाव में दोनों पकड़ों को छोडऩे वाले नवोदित गैंग के 4 सदस्यों को पुलिस ने आमने-सामने की मुठ भेड़ में जिन्दा गिरफतार किया है।

जिनके पास से 2 रायपल,एक कुल्हाड़ी व हजारों रुपये की नगदी बरामद की है। ज्ञात हो कि इन 4 सदस्यों ने पूर्व कु यात डकैत गैंग राजस्थान का बंजारा एवं म.प्र. के रमेश सिकरवार गैंग के एक-एक पांच-पांच हजार के इनामी सदस्यों को जिन्दा गिरफतार किया गया है। जिन्हें पकडऩे वाली पुलिस टीम को पुलिस महानिरीक्षक द्वारा 15 हजार रुपये की इनाम देने की घोषणा की है।

बीते कुछ दिनों से अंचल में डकैत गिरोह की मूवमेंट होने की सूचनाऐं पुलिस को मिल रही थी। इस मामले को पुलिस ने भी गंभीरता से लिया और कई जगह सर्चिंग अभियान चलाया। इस दौरान पोहरी पुलिस को जरिए मुखबिर सूचना मिली कि एक डकैत गिरोह किसी बड़ी वारदात को अंजाम देने की योजना बना रहा है इस सूचना पर तुरंत एसडीओपी पोहरी एस.एन.मुखर्जी ने पुलिस अधीक्षक डॉ.महेन्द्र सिंह सिकरवार से मार्गदर्शन लेकर अग्रिम कार्यवाही की अनुमति ली।

जिस पर थाना गोपालपुर के महेशपुर के जंगल में मनीराम के यहां डलने वाली डकैती को रोकने के लिए पुलिस ने इस गिरोह की घेराबंदी की और ए बुस लगाकर डकैत गिरोह को सरेण्डर के लिए ललकारा लेकिन डकैत गिरोह ने फायरिंग कर दी जिस पर दोनों ही पक्षों ने फायरिंग की और अंतत: पुलिस ने घेराबंदी कर इस डकैत गिरोह को पकडऩे में सफलता हासिल की। पकड़े गए डकैत सं या में 4 बताए गए है जबकि शेष तीन डकैत मौका पाकर भाग गए। इन डकैतों के पास से घातक हथियार 315 बोर बंदूक, कुल्हाड़ी, लठ्ठ व नगदी 84 हजार रूपये की राशि पुलिस ने बरामद की। इस सफलता पर आईजी आदर्श कटियार ने पुलिस टीम को 15 हजार रूपये के ईनाम की राशि देने की घोषणा भी की।

मामले का खुलासा करते हुए पुलिस अधीक्षक डॉ.महेन्द्र सिंह सिकरवार ने बताया कि थाना गोपालपुर के महेशपुर के जंगल में मनीराम पटेल के यहां डकैती डालने की योजना बनाई जा रही थी इस सूचना पर तुरंत एसडीओपी पोहरी एस.एन.मुखर्जी को गिरोह की घेराबंदी करने के लिए निर्देश दिए गए। जिस पर एक टीम बनाई गई जिसमें एडी टीम के प्रभारी उनि बृजमोहन रावत, गोपालपुर थाना प्रभारी सुदेश तिवारी, बैराढ़ थाना प्रभारी निरीक्षक आनंद राय तथा थाना प्रभारी अमोला सुरेश शर्मा को शामिल किया गया। इस टीम ने एसडीओपी पोहरी श्री मुखर्जी के नेतृत्व में मुखबिर के बताए स्थान पर दबिश दी और वहां ए बुस लगाया और एल सेफ में घेराबंदी की जिसके मिड प्वाईंट पर एसडीओपी स्वयं मौजूद थे। पुलिस ने डकैती बना रहे डकैतों को ललकारा कि तभी डकैत गिरोह ने फायरिंग कर दी इस बीच पुलिस ने भी फायरिंग की।

बाद में जब पुलिस ने सभी को घेर लिया तो डकैतों ने भागने का प्रयास किया और पुलिस नेे चार डकैतों को पकड़ लिया जिसमें बंटी शर्मा उसके साथी डकैत शेरसिंह पुत्र मर्दन सिंह थाना मेहगांव भिण्ड, मनोज पुत्र भरोसी एवं संन्तम पुत्र महाराज सिंह ने हथियारों को नीचे करते हुए समर्पण कर दिया जबकि कल्ला पुत्र शिवचरण यादव थाना रामपुर जिला मुरैना, उपाई पुत्र बागसिंह निवासी सरजापुर थाना तेंदुआ, रामसेवक उर्फ सेवक पुत्र लड्डूराम थाना चिलवानी जिला श्योपुर घने जंगलों में झाडिय़ों एवं अंधेरे का लाभ पाकर भागने में सफल हुए। ऐसे में कल्ला यादव डकैत को थाना प्रभारी आमोला ने भागते हुए पकड़ लिया।

कबूली अपहरण की वारदात
इन पकड़े गए डकैतों से जब पुलिस ने पूछताछ की तो पता चला कि बीते 04 माह पूर्व थाना बैराढ़ क्षेत्रांतर्गत महादेव घाटी के जंगल से पुरूषोत्तम धाकड़, च पालाल धाकड़ का अपहरण भी इसी गिरोह ने किया है। इनसे अन्य मामलों की भी पूछताछ पुलिस करेगी और संभावना है कि अन्य मामलों में भी यह डकैत गिरोह शामिल रहे।

हथियार व फिरौती की रकम जब्त
पुलिस ने पकड़े गए डकैतों से डकैती डालने वाले हथियार भी बरामद किए है जिसमें घटना में प्रयुक्त 315 लोडेड रायफल बंटी शर्मा के पास से एवं 315 लोडेड रायफल मय 06 कारतूस शेर सिंह से तथा मनोज जाटव से एक लाठी बरामद की गई एवं इस डकैत गिरोह के पास से फिरौती की रकम रूपये 85 हजार भी जब्त किए गए है।

बंजारा गैंग में बंटी शर्मा तो डकैत रमेश सिकरवार गैंग में शेरसिंह रहा है शामिल
पुलिस ने जिस चार सदस्यीय डकैत गिरोह को बैराढ़ क्षेत्र से पकड़ा है उसमें एक डकैत शेरसिंह भदौरिया ईनामी खंूखार डकैत है जिस पर श्योपुर पुलिस के द्वारा ईनाम भी घोषित है तथा पूर्व में गैंग लीडर रमेश सिकरवार गैंग का सदस्य रह चुका है तथा बंटी शर्मा भी पूर्व में बंजारा गैंग का सदस्य रह चुका है। इन दोनों के विरूद्ध डकैती, हत्या, हत्या का प्रयास, लूट के विभिन्न अपराध निकटवर्ती जिलों में दर्ज है।

आरक्षण के नाम पर आम गरीब का शोषण बर्दास्त नहीं: पं.पंकज रावल
भारतीय प्रजाशक्ति पार्टी करेग मप्र सरकार के खिलाफ विभिन्न मुद्दों को लेकर आन्दोलन
शिवपुरी-आरक्षण हटाओ देश बचाओ की भावना से भारतीय प्रजा शक्ति पार्टी पूरे देश भर में अपना कार्य कर रही है पार्टी का मु य उद्देश्य है कि आरक्षण की नीति को बंद किया जाए, हम आरक्षण में भरोसा नहीं करते क्योंकि आरक्षण का प्रभाव आम जनमानस पर दुष्प्रभाव डाल रहा है इसलिए आरक्षण का विरोध जारी है आरक्षण के चलते ही वर्ष 1977 से टीकमगढ़ में एक ही सीट आरक्षित है जिस पर अन्य कोई प्रत्याशी चुनाव नहीं लड़ पाता ऐसे में यह आरक्षण किसी एक के फायदे का है और भारतीय प्रजाशक्ति पार्टी ऐसे किसी आरक्षण को स्वीकार नहीं करेगी जिससे एक का फायदा हो और अनेकों को नुकसान, इसलिए सभी को एक समान मानकर आरक्षण का विरोध किया जा रहा है। यह बात कही भारतीय प्रजाशक्ति पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष पं.पंकज रावल ने जो स्थानीय डाक बंगला नं.02 पर आयोजित प्रेसवार्ता को संबोधित कर रहे थे। इस दौरान प्रजाशक्ति पार्टी के मप्र.प्रदेशाध्यक्ष प्रमोद शर्मा व उप्र के प्रदेशाध्यक्ष ठा.भूपेन्द्र सिंह परमार व जिलाध्यक्ष पवन शर्मा सहित सैकड़ों कार्यकर्तागण मौजूद थे। प्रजा शक्ति पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष पं.पंकज रावल ने बताया कि मप्र सरकार में हुए व्यापमं घोटाले को लेकर आगामी समय में प्रजा शक्ति पार्टी आन्दोलन करेगी इसके लिए 20 जनवरी से पार्टी का सदस्यता अभियान पूरे देश भर में चलेगा जिसमें राष्ट्रीय विचारधारा से जुड़े युवाओं को जोड़े जाने का लक्ष्य रखा गया है। पार्टी द्वारा प्रदेश में संविदा नियमों को खत्म कर स्थाई नियमितीकरण की मांग की जाएगी, कक्षा 1 से 8 तक जो उत्तीर्णपरक शिक्षा व्यवस्था लागू की गई है इसका विरोध किया जाएगा और समान बोर्ड परीक्षा की भांति यह कक्षाऐं लगाई जाए व शिक्षा अध्ययन कराए जाए ऐसी मांग की जाएगी। शिक्षकों की भी परीक्षाऐं आयोजित की जाए ताकि उनके शैक्षणिक आंकलन को आंका जाए, वर्तमान समय में बिहार में इस तरह की पद्वति लागू है जिससे शिक्षक और शिक्षा दोनों का स्तर बढ़ा है। इन स ाी कार्येां को करने के लिए भारतीय प्रजा शक्ति पार्टी आन्दोलन करेगी।

राज्य की १४ हजार से अधिक महिलाओं को मिला रोजगार प्रशिक्षण
रायपुर, ०९ जनवरी २०१४ राज्य शासन के महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा संचालित कौशल उन्नयन योजना के तहत पिछले करीब साढ़े चार वर्षों में आय उपार्जन से जुड़े महिला स्व-सहायता समूहों की १४ हजार से अधिक महिलाओं को रोजगार मूलक कार्यों का निःशुल्क प्रशिक्षण प्रदान किया गया। इसके लिए ५० लाख ३६ हजार ६५० रूपए खर्च किए गए। प्रशिक्षण ४७९ बैचों में दिया गया। छत्तीसगढ़ महिला कोष के अंतर्गत वर्ष २००७-०८ से राज्य में शुरू कौशल उन्नयन योजना में महिला समूह की महिलाओं के व्यावसायिक कौशल को बढ़ाने के लिए एक से तीन दिवसीय प्रशिक्षण दिया जाता है। कौशल उन्नयन योजना के तहत महिला स्व-सहायता समूहों की महिलाओं को दोना पत्तल, अगरबत्ती,मोमबत्ती, वाशिंग पाउडर,आचार, पापड़,बड़ी, मसाला, फुड प्रोसेसिंग जैसे रोजगार मूलक कार्यों का प्रशिक्षण दिया जाता है। महिला एवं बाल विकास विभाग के अधिकारियों ने बताया कि कौशल उन्नयन योजना में करीब साढ़े चार वर्षों में १४ हजार ३७० महिलाओं को ४७९ बैंचों में प्रशिक्षण दिया गया। उन्होंने बताया कि वर्ष २००९-१० में १२० बैचों में तीन हजार ६०० महिलाओं, वर्ष २०१०-११ में १६६ बैचों में चार हजार ९८० महिलाओं, वर्ष २०११-१२ में ६८ बैचों में २०४० महिलाओं, वर्ष २०१२-१३ में १०८ बैचों में तीन हजार २४० महिलाओं और वर्ष २०१३-१४ में दिसम्बर २०१३ की स्थिति में १७ बैचों में ५१० महिलाओं के कौशल वृद्धि के लिए रोजगार मूलक प्रशिक्षण दिया गया।

अजमेर जिले के हर गांव, ढ़ाणी व मजरे को बीसलपुर का पानी मिलेगाडार्क जोन क्षेत्रों का पुन: सर्वे होगा- जल संसाधन मंत्री
जयपुर, 10 जनवरी। जन संसाधन मंत्री ने कहा है कि अजमेर जिले के प्रत्येक गांव, ढ़ाणी तथा मजरे को बीसलपुर पेयजल योजना का पानी मुहैया कराकर लोराईड युक्त पानी से निजात दिलाई जाएगी। उन्होंने जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग के अधिकारियों को मौके पर ही निर्देश दिए की जिन गांवों में पेयजल की समस्या है उन्हें तत्काल दूर कराएं, खराब पड़े हैण्डपप भी शीघ्र ठीक कराए।

श्री जाट शुक्रवार को अजमेर जिले के पीसांगन व जेठाना ग्र्राम में उपस्थित ग्रामीण समुदाय को स बोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि डार्क जोन का पुन: सर्वे कराया जाएगा जिससे उन क्षेत्रों में जहां पानी का जल स्तर ऊपर आ गया है वहां कृषि के लिए काश्तकारों को कुएं आदि की सुविधा मिल सकें। उन्होंने ग्रामीणों को विश्वास दिलाया कि उनकी जन भावनाओं के अनुरूप ही पांच साल में उनके क्षेत्र में विकास कार्य कराए जाएंगे।

उन्होंने कहा कि गोविन्दगढ़, पीसांगन आदि कस्बों में बीसलपुर पेयजल योजना की सीधी लाईन जो लोहे की होगी डाली जाएगी। आसपास के सभी गांवों को बीसलपुर पेयजल योजना से जोड़ा जाएगा। इच्छुक ग्रामीणों को घरों में पेयजल कनेक्शन दिए जाएंगे। सार्वजनिक स्थानों पर सार्वजनिक नल (पी.एस.पी.) लगाएं जाएंगे, नील गायों से खेती को होने वाले नुकसान के लिए उन्होंने कहा कि राज्य सरकार तार बंदी कराने के लिए काश्तकारों को सुविधा देने का विचार कर रही है। उन्होंने पीसांगन में अजमेर विद्युत वितरण निगम के सहायक अभियंता का कार्यालय शीघ्र खुलवाने को कहा। जलदाय मंत्री ने जेठाना ग्राम में अपने विभाग के अधिकारियों से कहा कि यहां यदि पानी का पे्रशर कम हो तो एक की जगह दो टंकी बनवाई जाएं। मांगलियावास रेल्वे स्टेशन ढऌ़ाणी में जी.एल.आर. बनाने के निर्देश दिए। उन्होंने सार्वजनिक निर्माण विभाग के अभियंता को कहा कि जेठाना बाई पास के प्रस्ताव शीघ्र तैयार करें, मकरेड़ा रोड़ को भी पक्का कराएं।
SHARE
    Your Comment

0 comments:

Post a Comment