शिवपुरी में सिंध का मुद्दा हो सकता है अहम

म.प्र ग्वालियर। 2013 के आम चुनावों में यूं तो समुचे प्रदेश में कई अहम मुद्दे है जिनकों लेकर कई राजनैतिक दल चुनावी समर पार करने की जुगत में रहेगें। मगर ग्वालियर-चम्बल की सबसे अहम सीट शिवपुरी में ङ्क्षसध का मुद्दा छा सकता है।
आम चर्चाओं की माने तो आम मतदाताओं में ङ्क्षसध को लेकर भारी नाराजगी है। वर्षो से सिंध को तरस रहे शिवपुरी शहर वासियो की आखिरी उम्मीद भी सिंध परियोजना के रुक जाने से जाती रही। 80 करोड़ के लागत से शुद्ध पेयजल मुहैया कराने की लागत बताते है कि अब बढ़कर 110 करोड़ होने वाली है और ठेकेदार नदारद वन्य प्राणी वालो ने ऐसा पैच परियोजना में फसाया है जिसे निकालने में वर्षो लग जाये तो कोई अतिसंयोक्ति न होगी।

देखा जाये तो विगत 10 वर्षो से केन्द्र में कॉग्रेस और म.प्र में भाजपा की सरकार है। हद तो तब है,कि शिवपुरी शहर को पेयजल मुहैया कराने हेतु एक झील है जहां शहर भर के गंदे नालो से होकर वर्षाती पानी एकात्रित होता है। और फिल्टर पश्चात वह पेयजल के रुप में शहर भर के लेागों को सप्लाई होता है। वहीं कुछ क्षेत्रों में कुछ बोर बेल लेागों की प्यास बुझाते है।

पेट की गंभीर बीमारियो से ग्रसित शिवपुरी शहर के नागरिकों को सिंध का पेयजल ही एक मुख्य चारा था वह भी अब अंधकार के भंवर में फसा दिखाई देता है। देखना होगा इस चुनाव में यह मुद्दा कितना असर कारक होगा यह कहना मुश्किल।

स्वतंत्र और निष्पक्ष निर्वाचन में मीडिया की सक्रिय भूमिका जरूरी: कलेक्टर रघुराज

दतिया। विधानसभा निर्वाचन २०१३ में मीडिया की सक्रिय भूमिका सुनिश्चित करने, पेड न्यूज तथा रतनगढ़ मेले के संबंध में जानकारी देने के उद्देश्य से कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री रघुराज एमआर जिले की इलैक्ट्रोनिक एवं प्रिंट मीडिय से रूबरू हुए। इस दौरान पुलिस अधीक्षक श्री आरके मराठे भी उपस्थित रहे। बैठक में इलैक्ट्रोनिक व पिं्रट मीडिया के सदस्यगण मौजूद रहे।

कलेक्टर रघुराज एमआर द्वारा मीडिया प्रतिनिधियों को संबोधित करते हुए कहा कि विधानसभा निर्वाचन में प्रेस की भूमिका महत्वपूर्ण है। स्वतंत्र एवं निष्पक्ष निर्वाचन व मजबूत लोकतंत्र के लिए अधिक से अधिक मतदान हो इसमें आप सभी का सहयोग आपेक्षित है। मीडिया के द्वारा लोगों को जागरूक किया जाये ताकि वह स्वतंत्र रूप से पोलिंग बूथ पहुंचकर अपना मत दे। कलेक्टर द्वारा आदर्श आचरण संहिता, नोटा बटन की जानकारी देते हुए जिले में की गई निर्वाचन तैयारियों की भी जानकारी दी।

उन्होंने रतनगढ़ माता मंदिर पर आयोजित भाईदौज मेले में प्रशासन द्वारा किए गए इंतजामों की भी जानकारी दी। रतनगढ़ माता मंदिर की जानकारी देते हुए बताया कि वाहनों के आवागमन, पार्किग आदि की पुख्ता व्यवस्था की गई। पुल सहित सभी स्थानों पर आने जाने के रास्ते अलग-अलग बनाएं गऐ है। वाहन केवल बसई मलिक तक ही जायेंगे। सभी वाहन भगुआपुरा से जायेंगे व चरोखरा से आयेंगे।

पुलिस अधीक्षक आरके मराठे द्वारा विधानसभा निर्वाचन के दौरान पुलिस द्वारा की गई कार्यवाही की जानकारी देते हुए बताया कि जिले में ७ हजार १५० लोगों के विरूद्ध प्रतिबंधात्मक कार्यवाही की गई है। ६४ प्रकरण एनएसए व जिला बदर के बनाए गए है। ७ हजार ८९४ हथियार थानों में जमा हुए है। १४९८ लीटर शराब जप्त की गई। स्थाई वारंटियों की धरपकड़ जारी है। बैठक के दौरान मीडिया को एमसीएमसी कमेटी के माध्यम से पेड न्यूज के प्रावधानों की विस्तृत जानकारी दी गई और सभी मीडिया प्रतिनिधियों से अपील की गई कि वह निर्वाचन आयोग की मंशानुरूप पेड न्यूज से दूर रहे। बैठक में कलेक्टर द्वारा पत्रकारों के प्रश्नों के भी उत्तर दिए।

आधार कार्ड बनायेंगी हैदराबाद की कम्पनी

गुना 31 अक्टूबर 2013/ रा'य योजना आयोग के निर्देशानुसार जिले में  आधार कार्ड बनाने हेतु हैदराबाद की वेदवाद कम्पनी को 1 अक्टूबर 2013 से अनुबंधित किया गया है।आघार कार्ड प्रभारी अधिकारी गुना ने बताया कि जिले में आधार कार्ड बनाने हेतु पूर्व में अनुबंध की गई समस्त कम्पनियों का अनुबंध 30 सितम्बर 2013 को समाप्त हो चुका है । वेदवाद कम्पनी के अलावा कोई भी कम्पनी जिले में कार्य करते पाये जाने पर संबधति कम्पनी के विरूद्ध अनुविभागीय दण्ड अधिकारी द्वारा कार्यवाही की जावेगी ।

अधिक संख्या में वाहन और अधिक व्यक्ति एक साथ आने पर प्रतिबंध

श्योपुर, 31 अक्टूवर  2013 कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी श्री ज्ञानेश्वर बी पाटील द्वारा म.प्र. भारतीय दण्ड प्रक्रिया संहिता 1973 की धारा 144 के अन्तर्गत रिटर्निंग ऑफीसर श्योपुर एवं विजयपुर के कार्यालय में अभ्यार्थियों के साथ अधिक संख्या मेंं वाहन लाने एवं नाम निर्देशन पत्र कार्यालय में जमा करते समय अधिक व्यक्तियों के एक साथ आने से शांति भंग होने को दृष्टिगत रखते हुए नाम निर्देशन पत्र प्राप्त करने की तिथि 1 नवम्बर 2013 से निर्वाचन सम्पन्न होने अर्थात 11 दिसम्बर 2013 तक प्रतिबंध लगाया गया है। जिला दण्डाधिकारी श्री ज्ञानेश्वर बी पाटील द्वारा पारित आदेश दिनांक 31 अक्टूवर 2013 में उल्लेख किया गया है कि कोई भी दल/समूह एवं व्यक्ति रिटर्निंग ऑफीसर (कार्यालय अनुविभागीय अधिकारी राजस्व) श्योपुर/विजयपुर, कलेक्टर कार्यालय श्योपुर के कार्यालय की 100 मीटर परिधि में तीन से 'यादा वाहन लेकर अन्दर प्रवेश करना प्रतिबंधित किया जाता है। रिटर्निंग ऑफीसर (कार्यालय अनुविभागीय अधिकारी राजस्व) श्योपुर/विजयपुर, कलेक्टर कार्यालय श्योपुर के कार्यालय में नामांकन के दौरान कोई भी दल, व्यक्ति (अभ्यर्थी एवं प्रस्तावक को सम्मलित करते हुए) पांच से अधिक प्रवेश करना प्रतिबंधित किया जाता हे। यदि किसी व्यक्ति द्वारा इस आदेश का उल्लंघन किया जावेगा तो वह भारतीय दण्ड विधान की धारा 188 के अन्तर्गत दण्ड का भागी होगा। यह आदेश लोक न्यूसेंस को दृष्टिगत रखते हुए जारी किया गया है। इसलिए किसी व्यक्ति को व्यक्तिगत सुनवाई का अवसर देना संभव नही है। यह आदेश एक पक्षीय पारित किया गया है। यह आदेश तत्काल प्रभाव से लागू होगा। 
SHARE
    Your Comment

0 comments:

Post a Comment