पत्रकारिता में नागर सम्मान प्रेरणादायी कार्य

शिवपुरी। जिस प्रकार से अपने गुरू के प्रति आस्था रखकर हम गुरू को नमन् करते है उसी प्रकार से पत्रकारिता के क्षेत्र में पितृ पुरूष के रूप में वरिष्ठ पत्रकार प्रेमनारायण नागर के प्रति जो आदर और सम्मान की भावना के अनुरूप नागर पत्रकार सम्मान समारोह का आयोजन किया है।

वह नि:संदेह प्रशंसनीय और प्रेरणादायी है पत्रकारिता में अपने आदर्शेां और मूल्यों को सर्वोपरि मानने वाले श्री नागर के आदर्शेां पर पत्रकार चलें और उनसे सीखें कि असल मायने में पत्रकारिता इसे कहते है तब निश्चित ही पत्रकारिता में एक नया बदलाव देखने को मिलेगा जहां केवल शिष्टाचार, ईमानदार और हमेशा अपने कर्तव्य के प्रति आस्था रखने वाले पत्रकार सही मायने में लोकतंत्र के चौथे स्तम्भ कहलाऐंगें। यह बात कही पुलिस अधीक्षक डॉ.महेन्द्र सिंह सिकरवार ने जो स्थानीय शा.स्नातकोžार महाविद्यालय के मजेेजी कक्ष में आयोजित नागर पत्रकार सम्मान समारोह के द्वितीय आयोजन पर मुख्य अतिथि की आसंदी से कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे।

इस अवसर पर विशिष्ट अतिथि वरिष्ठ पत्रकार प्रेमनारायण नागर जबकि अध्यक्षता वरिष्ठ साहित्यकार डॉ.परशुराम शुक्ल विरही ने की, मंच पर प्रेस क्लब अध्यक्ष वीरेन्द्र शर्मा भुल्ले व जन भागीदारी समिति के अध्यक्ष अजय खेमरिया भी मौजूद रहे। कार्यक्रम में वरिष्ठ पत्रकार प्रेमनारायण नागर ने अपने अनुभवों को पत्रकारों के बीच साझा किया और पत्रकारों को उनके मौलिक कर्तव्यों के बारे में बोध कराया। इस मौके पर वरिष्ठ पत्रकार प्रमोद भार्गव ने भी बदलते समय में पत्रकारिता के प्रभावों से अवगत कराया और पत्रकारों के द्वारा किए जाने वाले कार्येां को बताया। 

कार्यक्रम में प्रेस क्लब अध्यक्ष वीरेन्द्र शर्मा भुल्ले ने अपनी कृतज्ञता प्रकट करते हुए आज के पत्रकारों को वरिष्ठ से सीख लेने का आह्वान किया और बताया कि लोकतंत्र का चौथा स्तम्भ पाने वाले पत्रकारों को अपने मौलिक अधिकारेां के प्रति सजग रहना चाहिए क्योंकि देश,धर्म, राजनीति और हर क्षेत्र में पत्रकारों के मायने अलग-अलग होते है अपने मूल्यों और आदर्शेाँ से कभी समझौता ना करें इसे ही पत्रकारिता कहते है। इस अवसर पर अजय खेमरिया ने भी पत्रकारों के बीच अपने अनुभवों को बताकर आगे बढऩे पर बल दिया। कार्यक्रम में नागर पत्रकार पुरूस्कार से वरिष्ठ पत्रकार बाबू खां करैरा, घनश्याम दास कोलारस, वीरेन्द्र वशिष्ठ, विपिन शुक्ला, अशोक अग्रवाल व नरेन्द्र शर्मा को विशेष प्रेस फोटोग्राफर के रूप में प्रशस्ति पत्र, शॉल व श्रीफल से सम्मानित किया गया। 

कार्यक्रम का सफल संचालन अतुल गौड़ ने किया जबकि आभार प्रदर्शन नागर पत्रकारिता सम्मान समारोह समिति के संयोजक अजय खेमरिया, सह संयोजक अतुल गौड़, म.प्र.पत्रकार संघ के संभागीय अध्यक्ष बृजेश सिंह तोमर, प्रेस क्लब अध्यक्ष वीरेन्द्र शर्मा (भुल्ले), मप्र श्रमजीवी पत्रकार संघ के अध्यक्ष, जर्नलिस्ट यूनियन ऑफ मप्र के अध्यक्ष सुनील व्यास,वर्किंग जर्नलिस्ट यूनियन के संभागीय अध्यक्ष अजय शर्मा ने व्यक्त किया। इस अवसर पर प्रमोद भार्गव, आलोक इंदौरिया, अनुपम शुक्ला, रंजीत गुप्ता, राकेश शर्मा, फरमान अली,राजू (ग्वाल)यादव, मेहताब सिंह तोमर, विनय राहुरीकर, देवू समाधिया, रिंकू जैन, बृज दुबे, भूपेन्द्र नामदेव, मणिकांत शर्मा, के.पी.परिहार, शंकर शिवपुरी, मुकेश शिवहरे, मुकेश जैन, साकिर अली सहित महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ.डी.के.द्विवेदी व शिक्षकगण मौजूद थे।


श्री एस.सी. पांडे एनटीपीसी  के निदेशक बने

नई दिल्ली। श्री एस.सी. पांडे एनटीपीसी  के निदेशक  (परियोजना) के रूप में पदभार ग्रहण कर लिया है. पेशे से इंस्ट्रूमेंटेशन इंजीनियर श्री पांडे ने १९७८ में प्रशिक्षु के कार्यकारी के रूप में एनटीपीसी में शामिल हो गए. उन्होंने कहा कि इंजीनियरिंग, परियोजना के क्षेत्रों के लिए ३४ साल से अधिक उसके साथ समृद्ध अनुभव और प्रदर्शन लाता है ऊर्जा संयंत्रों के निर्माण और संचालन. उन्होंने संचालन के प्रबंधन और देश की सबसे बड़ी विद्युत स्टेशनों में से कुछ को बनाए रखने में मजबूत पृष्ठभूमि है. 

श्री पांडे थर्मल, हाइड्रो, कोयला खनन, अक्षय, आर एंड एम और अंतर्राष्ट्रीय संयुक्त उपक्रम से संबंधित पूर्व और बाद पुरस्कार गतिविधियों की योजना और कार्यान्वयन के लिए जिम्मेदार पहले के कार्यकारी निदेशक (परियोजना नियोजन एवं निगरानी) था.उन्होंने कहा कि कल सेवानिवृत्त जो श्री क्चक्कस्द्बठ्ठद्दद्ध से कार्यभार संभाल लिया है.

स्वच्छ दिवस एवं निर्मल चौपाल आज

ग्वालियर 01 अक्टूबर 213/ निर्मल मरत अम्यिान के तहत ग्वालियर जिले में म्ी गाँधी जयंती को स्व'छता दिवस के रूप में मनाया जायेगा। साथ ही निर्मल चौपाल आयोजित होंगी। इस कड़ी में 2 अक्टूबर को जनपद पंचायत घाटीगाँव के ग्राम बरौआ में निर्मल चौपाल लगेगी। इस कार्यक्रम की अध्यक्षता कलेक्टर श्री पी नरहरि करेंगे। जिला पंचायत की मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्रीमती सूफिया फारूकी ने जिले में प्रस्तावित सम्ी निर्मल ग्राम पंचायतों में म्ी इसी तरह स्व'छता दिवस एवं निर्मल चौपालें आयोजित करने के निर्देश दिए हैं। साथ ही निर्मल मरत अम्यिान से जुड़े सम्ी विमगों के मैदानी अधिकारियों व कर्मचारियों को इन चौपालों में अनिवार्य रूप से उपस्थित रहने के लिये ताकीद किया है।


SHARE
    Your Comment

0 comments:

Post a Comment