गड़करी माँ पीताम्बरा के दर्शन कर सम्मेलन में सम्मिलित हुए

दतिया। भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष दतिया जिले में आयोजित विधान सभा सम्मेलन को संबोधित करने से पूर्व माँ पीताम्बरा के दर्शन करने मध्यप्रदेश शासन के चिकित्सा शिक्षा मंत्री अनूप मिश्रा, स्वास्थ्य मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा, प्रदेश प्रभारी अरविन्द मेंनन सहित दर्जनभर से अधिक भाजपा नेता पहुचे। दतिया पहँचने पर गड़करी एवं अन्य बरिष्ठ नेताओं का जगह जगह जोरदार स्वागत किया गया।

श्री गड़करी ग्वालियर पहँुचकर सड़क मार्ग से दतिया पहँुचे और शक्तिपीठ माँ पीताम्बरा के मंदिर में पूजा अर्चना कर माँ का आषीर्वाद लिया । इस दौरान कलेक्टर संकेत भोंडवे, पुलिस अधीक्षक चन्द्रशेखर सोलंकी, सहित अन्य भाजपा नेता सम्मिलित थे। इसके बाद श्री गड़करी सोनागिर में आयोजित विधानसभा सम्मेलन में शिरकत करने के लिए रवाना हुए।

गतवार के नेतृत्व में गडकरी का जोरदार स्वागत:

विधानसभा सम्मेलन में सिरकत करने आए भारतीय जनता पार्टी के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री नितिन गडकरी का दतिया सिविल लाइन से लेकर श्री पीताम्बरा पीठ तक भारतीय जनता युवा मोर्चा जिलाध्यक्ष संजीव गतवार के नेतृत्व में जोरदार स्वागत किया गया। सिविल लाइन हैलीपेड से डीजे, ढोल बाजों के साथ नितिन गडकरी, प्रदेश महामंत्री संगठन अरविंद मेनन, चिकित्सा शिक्षा मंत्री अनूप मिश्रा, स्वास्थ्य मंत्री डा. नरोत्तम मिश्रा, जिलाध्यक्ष जगदीश सिंह यादव का काफिला निकला जो श्री पीताम्बरा पीठ पर पहुंचा जहां श्री गडकरी सहित सभी ने श्री पीताम्बरा पीठ पर पूजा अर्चना की। इसके बाद श्री गड़करी का युवा मोर्चा जिलाध्यक्ष संजीव गतवार के नेतृत्व में सैकड़ों युवा कार्यकर्ता एवं पदाधिकारियों ने उन्हें फूलों की २१ किलो की माला पहनाई गई। इस दौरान जगह-जगह आतिशबाजी भी कई गई।

 विरोधी स्वरों से वे हाल विधानसभा के भावी प्रत्याशी,  भाजपा कांग्रेस दोनों में ही दावेदारी को लेकर कोहराम

सनी कुशवाह/शिवपुरी। दावेदारी को लेकर दोनों ही प्रमुख राजनैतिक दलों के बीच जो कोहराम मचा है उससे दोनों ही दलों भावी प्रत्याशियों के बीच काफी असमंजस की स्थिति बनती जा रही है। मगर खुलकर कोई सामने आने तैयार नहींं हर टिकट का दावेदार अपने हिसाब से अपनी दलील रखना चाहता है। अभी हॉल में शिवपुरी जिले की पांच विधानसभा सीटों में से चार पर कांग्रेसियों के बीच टिकट हथियाने जो कलह मची हुई है वह किसी से छिपी नहीं है। यही हॉल भाजपा का भी चारों विधानसभा कोलारस,पोहरी,शिवपुरी,करैरा में है। शिवपुरी जिले का एक विधानसभा क्षेत्र मात्र ऐसा है जहां कांग्रेस से एक और भाजपा से अनेक होने के बावजूद जीत का दम भरता कोई दिखाई नहीं देता।

चर्चाओं और अपुष्ट सूत्रों की माने तो कोलारस विधानसभा के भावी प्रत्याशी वर्तमान विधायक देवेन्द्र जैन है। मगर गत दिनों हुए भाजपा सम्मेलन में भाई लेाग बाहर से आये भाजपा नेताओं के सामने कई शर्तो के साथ यह जता आये कि वह क्या कहना चाहते है चर्चाओं की माने तो खुलम खुला शिकायत कर्žाा वर्तमान विधायक का टिकट काटने और किसी स्थानीय नये नेता को टिकट देने की प्रार्थना कर आये। ऐसा ही हॉल कोलारस में कांग्रेस का है। भाई लेागों का चर्चाओं में कहना है कि वर्तमान कांग्रेस अध्यक्ष को कांग्र्रेस दो बार टिकट दे चुकी है। इस मर्तवा कांग्रेस को किसी नये चेहरे को टिकट देना चाहिए।

रहा सवाल पेाहरी विधानसभा का यहां भी अपुष्ठ सूत्र यह कहते नहीं थकते कि कांग्रेस जिसकों भावी प्रत्याशी के रुप में देख रही है। अगर उन्हें टिकट दिया गया तो समुची कांग्रेस इस बात का विरोध करेगी। वहीं भाजपा में भी वर्तमान विधायक के सजातीय लेाग टिकट हथियाने की जुगाड़ में लगे है। वहीं ब्राहम्ण समाज के कुछ नेता भी इस फिराख में है कि वर्तमान विधायक के बजाए टिकट उनकी ही झोली में गिरे।  रहा सवाल शिवपुरी विधानसभा का तो यहां भी पूर्व विधायक और वर्तमान कांग्रेस के टिकट के दावेदार के विरोध में वेश्य समाज एवं ब्राहमण समाज का खुद को अगुआ बताने वाले अपने आकाओं के यहां उन्हेंं टिकट देने की गुहार लगाने में जुटे है। वहीं भाजपा में भी टिकट मांगने वालो की फेहरीत भी कुछ कम नहीं। भले ही चर्चाओं में यह हों कि उनकी नेता ही यहां से विधानसभा लड़ेगें। मगर उसके बावजूद भी न उम्मीद कोई नहीं। रहा सवाल करैरा सुरक्षित विधानसभा का तो सुरक्षित होने के बावजूद भी जहां कांग्रेसियों में कतार लम्बी है वहीं भाजपा में वर्तमान भाजपा विधायक अलावा दो अन्य नेता भी ताबड़ तोड़ तरीके से इस जुगाड़ में है। कि टिकट उन्ही को मिले। मगर जिस तरह की रस्सा कसी चल रही है। कई ऐसा न हों कि दोनों ही दल अपना नुकशान कर बैठे।


SHARE
    Your Comment

0 comments:

Post a Comment