समाधान के बीच दम तोड़ती जनशिकायतें

शिवपुरी। यूं तो ग्वालियर कमिश्रर ने जनसुविधाओं को प्राथमिकता में ले समुचे जिले में सुशासन अभियान चला रखा है। जिसमें निर्धारित कार्यक्रम अनुसार टीमों में में गांव,गांव ,तेहसील स्तर पर पहुंच लेागों की समस्याओं का निराकरण व शासन की योजनाओं का लाभ स्थानीय स्तर पर पहुंचाना है।

जिसके लिये वाकायदा टीमें गाणित थे है और अधिकारी भी तैनात मगर समस्यायें है जो पटने का नाम ही नहीं लेती। और हर मंगलवार को जिला मुख्यालय पर होने वाली जनसुवाई में जिले भर से जनता कलेक्टर कार्यालय पर टूट पड़ती है।

जिसमें अधिकांश शिकायत राजस्व से सम्बन्धित या फिर कुटीरों की शिकायत होती है। गरीबों की भूमि पर दंबगो की दंबगई समुचे जिले में पटी पढ़ी है। जिससे प्राडि़त डूब क्षेत्र के पट्टाधारी या फिर वो आदिवासी है जिनकी जमीनों पर दबंग कŽजा कर भूमि जोत फसल ले रहे है। इससे बुरा हाल नकल,खसरा खतौरी और भूमि की किताबों की है। जिसमें शासन स्तर पर भेजे जाने वाली सूचनाओं में जमकर फर्जी बाड़ा चल रहा है। जब अधिकांश शिकायतें राजस्व अमले से ही हो तो फिर शिकायत कौन सुने।

सूत्रों की माने तो कमिश्रर की प्राथमिकता में है। अक्स खसरा नकल किताब और सीमांकन मगर जिले की कई तेहसीलों में ऐसे कई आवेदन मिल जायेगें जो सीमांकन की बाठ जो रहे है।

मगर फिर भी समाधान के अभाव में जमकर जनशिकायत निवारण सुशासन के बीच चल रहा है। देखना होगा अपनी वारिक और शसक्त शैली के लिये जाने जाने वाले कमिश्रर अपने मातहतों से आम गरीबों को कब तक न्याय दिला पाते है।

मुख्य सचिव द्वारा वीडियों कान्फ्रेसिंग के जरिये आपदा प्रवंधन के निर्देश दिये

दतिया। प्रदेश के मुख्य सचिव आर परशुराम द्वारा वीडियों कान्फ्रेसिंग के जरिये जिला कलेक्टर से बात की। मुख्य सचिव द्वारा निर्देश दिये कि आपदा प्रवंधन के पूरे इंतजाम करें  ताकि किसी भी आकस्मिक की स्थिति से निपटा जा सके। उन्होने उत्तराखंड त्रासदी से प्रभावित व्यक्तियों की मदद के भी निर्देश दिये। जिले में वीडियों कान्फ्रेंसिग के द्वारा जिला कलेक्टर संकेत भोंडवे, पुलिस अधीक्षक चंद्रशेखर सोलंकी मुख्य सचिव से मुखातिव हुए। इस दौरान अपर कलेक्टर सुरेश शर्मा, एडीएसनल एसपी जयवीर सिंह भदौरिया, एसडीएम दतिया कमलेश भागर्व, डिप्टी कलेक्टर पुरूषोत्तम गुप्ता आदि उपस्थित रहे।
SHARE
    Your Comment

0 comments:

Post a Comment