भाजपा की तरह कोरी घोषणा नहीं करते : सिंधिया

छतरपुर। राजीव गांधी ग्रामीण विद्युतीकरण योजना के दूसरे चरण का उद्घाटन करने पहुचे विभाग के केन्द्रीय रा'य मंत्री 'योतिरादित्य सिंधिया ने गुरूवार को बिजावर में कहा कि वे भाजपा की तरह कोरी घोषणाएं नहीं करते बल्कि यहां आए हैं तो साथ में 75 करोड़ की विघुतीकरण योजना लेकर आए हैं।

इस योजना से छतरपुर जिले में 77 हजार बीपीएल परिवारों को निशुल्क बिजली प्रदान कर लाभान्वित किया जाएगा। उन्होंने यह भी कहा कि केंद्र सरकार की इस योजना से जहां पूरे देश के 586 जिलों की जनता को लाभ मिलेगा वहीं मप्र की साढ़े सात करोड़ जनता भी लाभान्वित होगी। उन्होंने कहा कि शहरी क्षेत्र की जनता बेहतर बिजली देने के लिए प्रदेश के 82 नगरीय क्षेत्रों को चिन्हित किया गया है जहां 2350 करोड़ की लागत से कार्य किए जाएंगे। सिंधिया ने छतरपुर जिले के ग्राम बरेठी में एनटीपीसी परियोजना का कार्य भी शीघ्र कराने का आश्वासन दिया।

अटल ज्योति के नाम पर झूठी वाहवाही

केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि मप्र में जैसे ही केंद्र की राजीव गांधी विघुतीकरण योजना प्रारंभ हुई वैसे ही भाजपा की प्रदेश सरकार में हलचल मच गई और आनन फानन में भाजपा सरकार की अटल 'योति योजना निकल पड़ी। उन्होंने कहा कि प्रदेश की भाजपा सरकार की इस योजना में सिर्फ मीटर सेपरेशन का काम हो रहा है। जनता को जो 24 घंटे बिजली देने वाली योजना है वह वास्तव में केंद्र की योजना है। अटल 'योति योजना में उपयोग की जा रही राशि में केंद्र का बजट शामिल है।

बुंदेलखंड पैकेज में बंदरबांट

केंद्रीय ऊर्जा रा'यमंत्री ने कहा कि राहुल गांधी ने बुंदेलखंड की बदहाली देखने के बाद इलाके का विकास करने 75 हजार करोड़ का विशेष बुंदेलखंड पैकेज दिया था। जिसे उप्र की बसपा सरकार और मप्र की भाजपा सरकार ने  विकास के नाम पर बंदरबांट कर लिया। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भाजपा सरकार द्वारा मप्र के किसानों का कर्ज माफ करने की जो बात करते हैं वह झूठ है। सच ये है कि किसानों का 72 हजार करोड़ का कर्ज माफ सोनियां गांधी की पहल पर हुआ है।

एकता के साथ करना है बदलाव

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए सिंधिया ने कहा कि भाजपा सरकार में इतना भ्रष्टाचार है कि मंत्री के ड्राइवरों, सरकारी बाबुओं और अधिकारियों के यहां करोड़ों की काली कमाई निकल रही है। मप्र सरकार के दस मंत्री लोकायुक्त के घेरे में हैं। जिन पर कार्रवाई नहीं हो रही। जबकि केंद्र सरकार दोषी मंत्रियों को जेल भेजने तक से पीछे नहीं है। उन्होंने कांग्रेस कार्यकर्ताओं और नेताओं को गुटबाजी से दूर रहने की नसीहत देते हुए आगामी विधानसभा चुनाव में मप्र से भाजपा को उखाडऩे का संकल्प दिलाया।

प्रदेश में जंगल राज

रा'यसभा सांसद सत्यव्रत चतुर्वेदी ने कहा कि भाजपा के राज में मप्र में महिलाओं सहित कोई भी अपने को सुरक्षित महसूस नहीं करता। महिलाओं की बात करें तो शैहला मसूद हत्याकांड, शिक्षक की बात करें तो उ'जैन के प्रोफेसर सभरवाल, नेता की बात करें तो एनएसयूआई कार्यकर्ता को कैरोसीन डालकर जिंदा जला दिया गया, अधिकारी की बात करें तो भिंड के आईपीएस नरेंद्र माथुर को खनिज माफिया ने मौत के घाट उतार दिया। प्रदेश में पूरी तरह जंगल राज कायम है। कार्यक्रम में रा'यसभा सांसद सत्यव्रत चतुर्वेदी ने कहा कि वर्ष 2003 में उमा भारती ने भी जनता के बीच जाकर उसे 24 घंटे बिजली देने की बकालत की थी लेकिन हकीकत सबके सामने है। ऐसा ही झूठा वादा शिवराज सिंह चौहान कर रहे हैं। गावों में आज भी ग्रामीण, बिजली पानी, सड़क जैसी सुविधाओं से वंचित है। उनको मिलने वाले राशन की कालाबाजारी पूरे मप्र में धड़ल्ले से हो रही है।

जलावर्धन योजना में हुआ है आठ करोड़ का भ्रष्टचार-मुरारी गुप्ता

दतिया। जनता की प्यास बूझने के लिए केन्द्र सरकार से मिले पैसों के कारण दतिया में जो जलावर्धन योजना का पिछले अप्रैल में लोकार्पण किया गया है। इस योजना में भारी पैमाने पर भ्रष्टचार हुआ है जिसके कारण आज दतिया की जनता एक-एक बूंद पानी के लिए परेशान है। जनता की इसी समस्या को लेकर आज कांग्रेस के वरिष्ठ उपाध्यक्ष मुरारी लाल गुप्ता के नेतृत्व में एक प्रतिनिधि मंडल ने कलेक्ट्रेट में जाकर महामहिम रा'यपाल के नाम का ज्ञापन अपर कलेक्टर सुरेश शर्मा को सौंपा। इस ज्ञापन के माध्यम से महामहिम रा'यपाल से मांग की गई कि शहर में जलावर्धन योजना का जो कार्य हुआ है इस कार्य में बडे पैमाने पर भ्रष्टचार हुआ है। इस योजना में घटिया व गुणवत्ता विहीन कार्य किया गया। इसी के कारण आज पाइप लाईन जगह-जगह पर टूट रही है। पानी की जो टंकिया बनाई गई है वह भी अब शोपीस बनकर रह गई है। इन टंकियों में आज तक एक बंूद पानी भी नहीं भरा गया है। एक ओर जनता पानी के लिए परेशान है तो वहीं दूसरी ओर लाखों लीटर पानी व्यर्थ में बर्बाद हो रहा है।  इस कार्य में हुए भ्रष्टचार की जांच किसी रिटार्यड न्यायाधीश से कराई जाएं ताकि दोषियों के खिलाफ कार्यवाही हो सके और शहर की जनता जो एक-एक बूंद पानी के लिए परेशान है उसे पानी मिल सके। प्रतिनिधिमंडल में जिला उपाध्यक्ष हरिओम त्रिपाठी, नगर पालिका के पूर्व उपाध्यक्ष गिन्नी राजा, एनएसयूआई के जिलाध्यक्ष विष्णु गुर्जर, अर्जुन सिंह परिहार, विनोद शर्मा, हुकुम सिंह यादव, चतुवेदी गौतम, गोवर्धन योगी, विष्णु पाठक, मनोज श्रीवास्तव, वीएल केन, बहादूर दांगी आदि उपस्थित थे।

जून अंत से मिलेगी 24 घंटे बिजली - डा. मिश्रा

दतिया। मध्यप्रदेश शासन के विधि विधायी, संसदीय कार्य, आवास एवं लोक स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्री डा. नरोत्तम मिश्रा ने दतिया विकासखण्ड़ के दूरस्थ ग्राम धौर्रा पहुंचकर जैसे ही बटन दबाया पूरे गांव के घर-घर में बिजली की रोशनी पहुंची गांव में विद्युत प्रवाह के साथ खुशी की लहर दौड़ गई। ग्रामीणजन बेहत खुश थे। उन्हें आजादी के बाद गांव में पहलीवार विद्युतीकरण हुआ हैं। ग्रामीणजन द्वारा स्वास्थ्य मंत्री डा. नरोत्तम मिश्रा को धन्यवाद दिया। विद्युतीकरण योजना पर १० लाख के करीब व्यय हुआ हैं। गांव के २९ परिवारों को घरेलू विद्युत कनेक्शन एवं दो किसानांे को कृषि कार्य हेतु पावर कनेक्शन दिये गये।

स्वास्थ्य मंत्री डा. नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि प्रदेश में विद्युत आपूर्ति बेहतर करने हेतु मध्यप्रदेश सरकार कृत संकत्पित हैं। दतिया जिले में भी २६ जून के बाद २४ घंटे बिजली मिलेगी खेती किसानी के लिए १० घंटे बिजली दी जायेगी। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान स्वयं २६ जून को दतिया पहुंचकर अटल ज्योति अभियान के तहत् २४ घंटे विद्युत आपूर्ति की शुरूआंत करेंगे। उन्होंने कहा कि आप लोगों को जो बिजली उपलब्ध हुई हैंं। उसका भरपूर लाभ लें गर्मी के सीजन में कूलर पंखे आदि का इस्तेमाल करें खेती किसानी में सिंचाई के लिए कनेक्शन लेकर दो किसानों की तरह आप सभी किसान भी इसका लाभ ले सकते हैं। उन्होंने उपस्थित महिलाओं से कहा कि गांव में बिजली आने की फायदे ही फायदे हैं। केवल एक छोटी सी बुराई हैं कि बच्चे टी.व्ही देखने में ज्यादा समय व्यतीत करते हैं इस बात का आप ध्यान रखें उन्होंने सभी गांव में विद्युतीकरण योजना के लिए बधाई दी।

गांव के स्थानीय निवासी पहलवान पाल का कहना था कि उनके पास ८ बीघा जमीन हैं जिसकी सिंचाई में काफी खर्च आता था। अब मैने कृषि कार्य हेतु विद्युत कनेक्शन लिया हैं। इससे हमारी खेती में अच्छी सिंचाई हो सकेगी और लागत भी कम आयेगी। इसी प्रकार के विचार कृषक राकेश पाल द्वारा व्यक्त किये गये। राकेश पाल ने बताया कि आज हमारी मन की मुराद पूरी हुई हैं अब हमें खेतों में सिंचाई सुविधा के साथ कूलर की ठंडी हवा खाने का भी मौका मिलेगा। इस दौरान ग्रामीणजन द्वारा गांव के लिए सिंध नदी पर रपटा बनवाने की बात कही जिसके संबंध में स्वास्थ्य मंत्री डा. मिश्रा द्वारा उनकी बात को गंभीरता से सुना गया।


SHARE
    Your Comment

0 comments:

Post a Comment