गोंदन में बलात्कार व अपहरण का आरोपी गिरफ्तार

दतिया। महिला का अपहरण कर उसके साथ बलात्कार करने वाले आरोपी को गोंदन पुलिस द्वारा मौजा बरका हार ग्राम भिटारी से गिरफ्तार किया गया। ज्ञात हो कि पिछले माह ०७.०१.१३ से गुमशुदा महिला को गोंदन पुलिस द्वारा खोजा जाकर महिला के कथनानुसार उसके अपहरण तथा आरोपी द्वारा बंधक बनाकर लगातार बलात्कार किये जाने की रिपोर्ट पर अपहरण व बलात्कार का प्रकरण दिनांक १२ फरवरी को थाना गांेदन पर पंजीबद्व किया गया था।

मुखबिर से प्राप्त सूचना के आधार पर थाना प्रभारी गांेदन बी.आर.एस.यादव , प्रआर. ग्याराम , आर. ब्रिजेन्द्र सिंह, आर. सुरेश सिंह , आर. रघुवीर ने त्वरित कार्यवाही करते हुये गुलाब पुत्र सुख्खे धाकड उम्र ३० साल नि. ग्राम भिटारी को ग्राम भिटारी के हार से गिरफ्तार किया। महिला के अपहरण में शामिल दो अन्य आरोपियों कमलेश तथा गोलू की गिरफ्तारी के पुलिस द्वारा प्रयास जारी है।


खुद की भूमि का मलिकाना हक पाने के लिए दर-दर भटकी विधवा महिला


शिवपुरी। जिले के पोहरी क्षेत्र की एक महिला ने अपने पति के देहांत के बाद स्वयं की जमीन का मलिकाना हक पाने के लिए दर-दर भटक रही है। विधवा महिला ने आरोप लगाया है कि गांव के पटवारी ने उसकी जमीन किसी अन्य दो व्यक्तियों के नाम शासकीय अभिलेखों में दर्ज कर ली है। महिला ने जिले एवं तहसील के राजस्व अधिकारियों से उसकी जमीन वापिस कराने की गुहार लगाई है।

ग्राम धौरिया की महिला कला बाई पत्नी कल्लू नामदेव ने अपने एडवोकेट राजबिहारी श्रीवास्तव के माध्यम से कहा कि उसकी गांव में कृषि भूमि है। महिला के पति कल्लू नामदेव की ६ सितंबर १९९८ को मुत्यु हो चुकी है। महिला ने कहा कि पति के निधन के बाद तहसील कार्यालय पोहरी में अपने नाम जमीन दर्ज कराने के लिए आवेदन किया तो पटवारी ने कागजात ले लिए। काफी समय तक पटवारी विधवा महिला को टरकाता रहा। लेकिन जब महिला ने तहसीलदार से गुहार लगाई तो पटवारी ने १२०० रूपए तथा तीन फोटो एवं दो कोरे कागजों पर हस्ताक्षर करा लिए। फिर कुछ समय पश्चात महिला जब जमीन के कागजात लेने गई तो पता चला कि उसक ी भूमि के सर्वे क्रमांक १३७,१३९,६६४ कुल रकबा में से १३७, १३९, पर केवलिया पुत्र भगोली जाटव तथा मलखान पुत्र बादामी किरार दोनो निवासी धौरिया के नाम पर ६६४ की जमीन राजस्व कागजों में अमल करने का आरोप लगाएया है। महिला कलाबाई ने आगे कहा कि यह पंजीयन ५ अगस्त २०१२ को किया गया है। महिला ने एडवोकेट के जरिए राजस्व अधिकारियों को सौंपे पत्र में कहा कि वह गरीब, बेसहारा है उसे स्वयं के स्वामित्व की भूमि दिलाई जाए।


क्या कहते है अधिकारी

में ४ माह पूर्व आया हूॅ, मेरी जानकारी में जमीन हेराफेरी की शिकायत सामने नही आई है। महिला पुन: लिखित शिकायत दे, जांच कराकर जो सही होगा अमल करेंगे।

आरके शर्मा,

तहसीलदार, तहसील पोहरी


ग्रामीण क्षेत्र के विकास में कसर नहीं छोड़ेगे - स्वास्थ्य मंत्री


दतिया। मध्यप्रदेश शासन के विधि विधायी, संसदीय कार्य, आवास एवं लोक स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्री मिश्रा द्वारा आम आदमी की समस्याओं से रूबरू और उनके मौके पर ही समाधान के उद्देश्य से एक दर्जन गांव का दौरा किया। स्वास्थ्य मंत्री डा. नरोत्तम मिश्रा द्वारा ग्राम कोटरा, गोरा, पचोखरा, मलकपहाड़ी, बेहरूका, बानौली, बरोह, बुधेड़ा, रिछरा, सिरौल, आदि ग्रामो ंका दौरा कर आमजन की समस्यायें सुनीं तथा अधिकारियों को निराकरण के निर्देश दिये। इस दौरान सी.सी. सड़कों के शिलान्यास व लोकार्पण किये गये। क्षेत्र भ्रमण के दौरान क्षेत्र भ्रमण के दौरान ग्रामीणजन से स्वास्थ्य मंत्री का गर्मजोशी से स्वागत किया। पचोखरा में में एक क्विंटल से अधिक वजनी पुष्पहारों की माला पहनाई। बानौली में लड्डुओं से तौला।

स्वास्थ्य मंत्री डा. मिश्रा ने ग्राम पचोखरा मे ंउपस्थित जन समुदाय को संबोधित करते हुए कहा कि ग्रामीण क्षेत्र में सड़क, पानी, बिजली जैसी मूलभूत सुविधायें उपलब्ध कराने में हमारा सबसे अधिक ध्यान में ग्रामीण क्षेत्र के विकास में कोई कसर नहीं छोड़ेगे। उन्होंने कहा कि ग्रामीण क्षेत्र में बिजली की कमी नहीं रहेगी। फीडर सेपरेशन के बाद ग्रामीण क्षेत्र में घरेलू २४ घंटे तथा कृषि कार्य हेतु निश्चित समय के लिए बिजली मिल सकेगी। उन्होंने कहा कि जिस प्रकार से दतिया शहर में विकास हो रहा हैं। वैसे ही ग्रामीण क्षेत्र में भी विकास होगा। स्वास्थ्य मंत्री डा. नरोत्तम मिश्रा द्वारा ग्राम पचोखरा में ३.७३ लाख रूपये के सी.सी. कार्य का शिलान्यास किया। इस दौरान नाहर सिंह रावत, श्री कल्याण सिंह पटवा, बृजमोहन रावत आदि ने स्वास्थ्य मंत्री डा. नरोत्तम मिश्रा का स्वागत किया। क्षेत्र भ्रमण के दौरान सी.ई.ओ. जिला पंचायत डा. रविकांत द्धिवेदी, जनपद सी.ई.ओ. सुबोध दीक्षित तथा विभिन्न विभागों के अधिकारी के अलावा जगदीश सिंह रावत, किशोरीशरण शर्मा, विपिन गोस्वामी, नगर पालिका अध्यक्ष श्रीमती कृष्णा कुशवाह, पार्षद श्रीमती राजकुमारी वर्मा, वीर सिंह यादव, अतर सिंह रावत, अतुल भूरे चौधरी राकेश पचौरी, तीरथ सिंह रावत,रूप सिंह रावत आदि उपस्थित रहे।

कोटरा में ४.९९ लाख की सी.सी. का शिलान्यास:- स्वास्थ्य मंत्री डा. नरोत्तम मिश्रा द्वारा ग्राम कोटरा में ४.९९ लाख की सी.सी. सड़क का शिलान्यास किया। इस अवसर पर श्री जगदीश पटैल व श्री लल्लू सिंह द्वारा स्वास्थ्य मंत्री डा. नरोत्तम मिश्रा का स्वागत किया गया।

गोरा में नलजल योजना ८ दिन में शुरू करें:- स्वास्थ्य मंत्री गोरा में आमजन से रूबरू हुए आमजन ने नलजल योजना के खराब होने गांव में पानी का निकास न होने की समस्या बताई तथा आर.सी. सी. डलवाने की मांग की। स्वास्थ्य मंत्री द्वारा ८ दिन में नलजल योजना ठीक कराने पी.एच.ई. विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिये। उन्होंने सी.ई.ओ. जिला पंचायत को गांव में नाला निर्माण कराने तथा गांव में सी.सी. डलवाने के निर्देश दियें

स्वास्थ्य मंत्री डा. नरोत्तम मिश्रा को बानौली में लड्डुओं से तौला:- स्वास्थ्य मंत्री डा. नरोत्तम मिश्रा के बानौली पहुंचने पर ग्रामीणजन ने गर्मजोशी से स्वागत किया। श्री भगवत सिंह दांगी, श्री केशव दांगी, श्री विनय यादव आदि द्वारा स्वास्थ्य मत्री डा. नरोत्तम का लड्डुओं से तौलकर सम्मान किया। इस दौरान स्वास्थ्य मंत्री डा. नरोत्तम मिश्रा द्वारा ग्रामीणजन की समस्यायें सुनीं।

मर्यादा अभियान में २७ लाख से बनेंगे ३०० शौचालयः- स्वास्थ्य मंत्री डा. नरोत्तम मिश्रा द्वारा ग्राम पचोखरा व सीतापुर मे ं२७ लाख की लागत से ३०० शौचालय बनवाने की घोषणा की। जिसमें सीतापुर में १०० और पचोखरा में २०० शौचालय बनाये जायेंगे यह स्वच्छ शौचालय जिन परिवारों के घरों पर बनाये जायेंगे उनमें गरीबी रेखा के नीचे परिवार, अनुसूचित जाति, जनजाति के सभी हितग्राही तथा हैक्टेयर तक के सभी किसान शामिल हैं।

जखौरिया सी.सी. सड़क का लोकार्पण:- स्वास्थ्य मंत्री डा. नरोत्तम मिश्रा द्वारा ग्राम जखौरिया में ३ लाख ५७ हजार की नवनिर्मित सड़क का लोकार्पण किया। इसी प्रकार स्वास्थ्य मंत्री डा. नरोत्तम मिश्रा द्वारा दबराबाग, गढ़ी, पहाड़ी आदि ग्रामो ंमें भी पहुंचकर सौगातें दी। गढ़ी में स्वास्थ्य मंत्री डा. नरोत्तम मिश्रा द्वारा ३.५८ लाख की सी.सी. का शिलान्यास किया।



वृहद स्वास्थ्य शिविर आज: विशेषज्ञ डाक्टरों की सेवायें मिलेगी


वृहद स्वास्थ्य शिविर का आयोजन आज जिला चिकित्सालय में किया गया हैं जिसमेें विभिन्न गंभीर रोगों के विशेषज्ञ चिन्हांकित रोगियों के अलावा जिले के अन्य व्यक्तियों को अपनी विशेषज्ञ चिकित्सा सेवा का लाभ देंगे।
इन रोगों के विशेषज्ञ डाक्टरों की मिलेगी सेवायें:- जिला चिकित्सालय में १६ एवं १७ फरवरी २०१३ को वृहद स्वास्थ्य मेला लगेगा जिसमें कैंसर, न्यूरोलॉजी, मानसिक रोग, स्त्री रोग, स्किन सहित अन्य बीमारियों के विशेषज्ञ डा. उपस्थित रहेंगे। जिनके लिये पृथक-पृथक कक्ष चिन्हांकित किये गये हैं।
५ काउन्टरों से बटेगी निःशुल्क दवायें:- वृहद स्वास्थ्य शिविर में रोगियों को दवा मिलने में सुविधा हो इसके लिए ५ पृथक काउन्टर बनाये गये हैं ताकि आसानी से निःशुल्क दवायें मिल सके।
स्वास्थ्य मंत्री डा. नरोत्तम मिश्रा करेंगे शुभारंभ:- मध्यप्रदेश शासन के स्वास्थ्य मंत्री डा. नरोत्तम मिश्रा १६ फरवरी को जिला चिकित्सालय में वृहद स्वास्थ्य मेले का शुभारंभ करेंगे।


विद्या अध्ययन् के साथ अनुशासन की शिक्षा भी आवश्यक-श्री अरोरा


श्योपुर/ जिला एवं सत्र न्यायाधीश श्री महेन्द्र पीएस अरोरा ने कहा है कि महिलाओं के हितसंरक्षण एवं उनमें जागरूकता लाने की दिशा में सरकार द्वारा अनेक येाजनाऐं संचालित की जा रही है। इन योजनाओं के माध्यम से बालिका शिक्षा पर विशेष पहल की जा रही है। जिसके अंतर्गत बालिकाओं को विद्या अध्ययन् के साथ साथ सामाजिक संस्कारों की भी शिक्षा दी जा रही है। अनुशासन के माध्यम से छात्राऐं निश्चित तौर पर शिक्षा के क्षेत्र में अपना नाम रोशन कर सकती है। वे आज कस्तुरबा गांधी बालिका आवासीय विद्यालय मॉडल क्रमांक एक में जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के तत्वाधान में महिलाओं के अधिकारों पर आयोजित विधिक साक्षरता शिविर को संबंोधित कर रहे थे।

इस अवसर पर विशेष न्यायाधीश श्री शिशिरकांत चौबे, जिला रजिस्ट्रार एवं न्यायाधीश श्री अशोक गुप्ता, विधिक सहायता अधिकारी श्री प्रदीप ठाकुर, समाजसेवी श्री कैलाश पाराशर, गांधी सेवा आश्रम के प्रबंधक श्री जयसिंह जादौन, आश्रम अधिक्षिका श्रीमती अनामिका पाराशर, एकता परिषद की सहयोगी राजकुमारी चौहान, शिक्षक श्री परीक्षित भारती, निधि भार्गव, पूजा परमार, निकिता गोयल और आश्रम की छात्राऐं उपस्थित थी।

जिला एवं सत्र न्यायाधीश श्री महेन्द्र पीएस अरोरा ने कहा कि बालिकाऐं गांधी आश्रम में शिक्षा गृहण कर, इस शिक्षा के माध्यम से अपने माता पिता की बुरी आदतों का विरोध कर, परिवार में भी अ'छे संस्कारों को पहुंचाये। जिससे आपकी एक अलग पहचान स्थापित हो सके। उन्होने कहा कि यदि आपके साथ कोई व्यक्ति गलत व्यवहार करता है, उसकी सूचना अपने सहपाठियों एवं आश्रम के कर्मचारियों समय पर दी जावे। जिससे किसी भी प्रकार की अप्रिय घटना से बचा जा सके। इस आश्रम में मन लगाकर लगन से विद्या का अध्ययन करें। साथ ही अनुशासन का पाठ पढकर, अपने जीवन को बेहतर बनाते हुए उ'चता की ओर अग्रसर रहें।

विशेष न्यायाधीश श्री शिशिरकांत चौब ने विधिक साक्षरता शिविर को संबोधित करते हुए कहा कि बालिकाऐं शिक्षा को गृहणकर, दीपक के समान अपने घर, परिवार और आस पड़ोस के लोगो के जीवन को प्रकाशमान बनाये। साथ ही अपनी सकारात्मक सोच के साथ आगे बढे, आपको अ'छे संस्कारों के कारण निश्चित सफलता प्राप्त होगी। क्योंकि आपने अपने घर को शिक्षा के लिए त्याग दिया है, यह एक अनुकरणीय पहल है। इसलिए आपको एक दिन अवश्य लक्ष्य की प्रप्ति होगी। इसलिए मन लगाकर, विद्या प्राप्त करें।
SHARE
    Your Comment

0 comments:

Post a Comment