बाजार में तोडफ़ोड़: मुसीबत में पड़ा हुआ है सारा शहर

म.प्र. श्योपुर।  जिला प्रशासन की पहल पर नगरपालिका प्रशासन निर्देशन में चलाए जा रहे अतिक्रमण विरोधी अभियान का प्रभाव भले ही आरम्भिक चरण में ...

म.प्र. श्योपुर। जिला प्रशासन की पहल पर नगरपालिका प्रशासन निर्देशन में चलाए जा रहे अतिक्रमण विरोधी अभियान का प्रभाव भले ही आरम्भिक चरण में मेन बाजार के एक विशेष हिस्से में जारी तोडफ़ोड़ के रूप में नजर आ रहा हो लेकिन इसका खामियाजा पुराने नगरीय क्षेत्र का हरेक वाशिंदा भुगतने पर मजबूर बना हुआ है।

गोलम्बर से किला क्षेत्र तक की आबादी को उक्त मुहीम के चलते सबसे 'यादा परेशानी बिजली की उस अनियमित आपूर्žिा की वजह से हो रही है जिसे एहतियात बरते जाने के नाम पर प्रतिदिन सुबह 09.00 बजे से सांय:काल 07.00 बजे तक बाधित किया जा रहा है। लगातार दस घण्टों की इस नियमित कटौती के चलते जहां आम जनजीवन के दैनिक काम-काज बुरी तरह से प्रभावित हो रहे हैं वहीं बिजली और उससे संचालित उपकरणों पर आधारित काम-धंधे भी चौपट बने हुए हैं। 

हालांकि विद्युत आपूर्žिा में अनवरत जारी इस अवरोध से निपटने के लिए 'यादातर लोग इन्वर्टर जैसे वैकल्पिक साधनों का उपयोग कर रहे हैं लेकिन उनकी अपनी एक क्षमता निर्धारित है लिहाजा दिवसकाल का अधिकांश समय बिना बिजली गुजार पाना सभी के लिए मुश्किल साबित हो रहा है। ज्ञातव्य है कि कथित अतिक्रमण विरोधी अभियान गोलम्बर से चूड़ी गली के मुहाने और सŽजी मण्डी के ढाल वाले रास्ते के छोर तक चलाया जा रहा है जहां के चिह्नित भवनों की तोड़-फोड़ के बाद गिरने वाला मलबा आम यातायात व आवागमन के लिए पहले से मुसीबत बना हुआ है। 

इसी माहौल का भरपूर लाभ उठाते हुए बिजली कंपनी शहर भर की बिजली गुल करने का कारनामा अंजाम दे रही है और शहर के हिस्से की बिजली गांवों को देकर झूठी वाह-वाही लूटने में लगी हुई है, जहां अभी तक बिजली की कम आपूर्žिा के कारण उसे फजीहत का सामना करना पड़ रहा था। बहरहाल, अभियान मंथर गति से जारी है जिसका महीने, दो महीने इसी तरह चलना तय माना जा रहा है और ऐसे में आशंका इस बात की है कि पुराने नगरीय इलाकों को भी दो महीने तक इस अनचाही आपदा से जूझते रहना पड़ सकता है।


गले कैसे उतरे मनमाना निर्णय.....?


मेन बाजार के एक छोटे से हिस्से में बेहद सावधानी और सतर्कता के साथ चलाया जाने वाला अभियान विद्युत प्रणाली के माध्यम से आम जनजीवन के लिए असुरक्षा का सबब बन सकता है यह बात किसी भी प्रबुद्ध नागरिक के गले नहीं उतर पा रही है। लिहाजा, प्रतिदिन तकरीबन दस घण्टे की बिजली कटौती को विभागीय मनमानी और अलाली की प्रवृžिा से जोड़कर देखा जा रहा है, जिसके खिलाफ आने वाले दिनों में जनाक्रोश उबल सकता है। ज्ञातव्य है कि विभिन्न फीडरों पर निर्भर शहरी क्षेत्र की विद्युत व्यवस्था को इस अभियान से पहले भी निर्बाध रूप से जारी रखा जा चुका है तथा किसी एक फीडर या ट्रांसफार्मर में खराबी आ जाने के बाद आपूर्žिा की वैकल्पिक व्यवस्था इसी बिजली कंपनी द्वारा की जाती रही है। ऐसे में शहर के एक विशेष हिस्से में जारी अभियान के नाम पर पूरे शहर की बिजली को गायब कर डालना बिजली की मांग और पूर्žिा के उस अंतर को घटाना ही माना जा सकता है जो खेती-किसानी के सीजन की वजह से बिजली कंपनी के सिर पर मुसीबत बनकर सवार है।


नियत ग्रामीण मार्गों पर चलेंगी मैजिक जीप, जिला मुख्यालय पर जारी रहेगी लूटमार


श्योपुर। जिले के ग्रामीण अंचलों में निर्धारित किए गए मार्गों पर मैजिक जीप चलाने की व्यवस्था सुनिश्चित कराते हुए जिला परिवहन अधिकारी विभिन्न रूटों के लिए परमिट देने की व्यवस्था सुनिश्चित करें ताकि ग्रामीण अंचलों में एक स्थान से दूसरे स्थान तक आवागमन की सुविधा प्राप्त हो सके। 

उक्त निर्देश जिलाधीश ज्ञानेश्वर बी. पाटील ने समय-सीमा के प्रकरणों की विभागवार समीक्षा बैठक को सम्बोधित करते हुए दिए। गौरतलब है कि इसी तरह के निर्देश तकरीबन तीन साल पहले तत्कालीन जिलाधीश एस.एन. रूपला द्वारा जिला मुख्यालय के नगरीय क्षेत्रों के संदर्भ में जारी किए गए थे जिन पर अब धूल की मोटी परत चढ़ चुकी है। ऐसे में यात्री बसों और निजी वाहनों के मामले में प्रदेश के अन्यान्य जिलों की तुलना में 'यादा सक्षम श्योपुर जिले के ग्रामीण मार्गों पर मेजिक वाहन चलाए जाने की योजना को महज प्रशासनिक शगूफा मानकर स्वीकार किया जा सकता है, जिस पर स्थायी रूप से भरोसा क्रियान्वयन की शुरूआत के बाद भी काफी समय तक आसानी से नहीं किया जा सकता। 

उल्लेखनीय है कि श्योपुर जिला मुख्यालय के शिवपुरी रोड पर प्रशासनिक शक्तिपीठ माने जाने वाले कलेक्टे्रट, जिला पंचायत, जिला न्यायालय व जिला चिकित्सालय सहित अधिकांश जिला व खण्ड स्तरीय कार्यालयों की मौजूदगी के बावजूद आम नागरिकों को आवागमन की सुविधा के नाम पर एकाधिकार रखने वाले ऑटो चालकों की मनमानी, दबंगता और भर्राशाही से आए दिन दो-चार होना पड़ता है, जिनका खात्मा उक्त मार्ग पर मैजिक वाहन चलाए बिना संभव नहीं है। ऐसे में जिला मुख्यालय की जरूरत को नजरअंदाज करते हुए ग्रामीण अंचल के मनचाहे मार्गों पर नई व्यवस्था लागू करने का दावा करने वाला प्रशासन कितना कामयाब हो पाता है यह आने वाला समय ही तय करेगा।


अनुज्ञा-पत्र जारी करने का फरमान.....


जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी एच.पी. वर्मा, अतिरिक्त जिलाधीश जे.सी. बोरासी, संयुक्त जिलाधीश विजय अग्रवाल एवं एस.बी. सिंह, अनुविभागीय दण्डाधिकारी श्योपुर एम.के. तेजस्वी, कराहल एच.सी. कोरकू तथा जिला परिवहन अधिकारी वाय.एस. सेंगर सहित विभिन्न विभागों के कार्यालय प्रमुखों की उपस्थिति में आयोजित इस बैठक में जिलाधीश श्री पाटील ने जिला परिवहन विभाग के माध्यम से चयनित ग्रामीण मार्गों पर 6 से 21 सवारियों की क्षमता वाले वाहनों को अनुज्ञा पत्र जारी करने की व्यवस्था शीघ्र करने के लिए निर्देशित करते हुए स्पष्ट किया कि शिक्षार्थी अनुज्ञापत्र (लर्निंग लायसेंस) का आवेदन परिवहन कार्यालय में ऑनलाइन ही स्वीकार किया जाता है लिहाजा इसके लिए ऑन लाइन आवेदन आवेदक द्वारा स्वयं के स्तर पर अथवा किसी सायबर कैफे या लोक सेवा केन्द्र के माध्यम से प्रस्तुत किया जाए। 


निजी विद्यालय की जीप पलटी, तीन छात्राऐं घायल, उपचार हेतु भर्ती


श्योपुर। बड़ौदा थाना क्षेत्रान्तर्गत रतोदन रोड पर मंगलवार को एक निजी विद्यालय की जीप तेज गति के चलते बेकाबू होकर पलट गई, जिससे उसमें सवार 3 छात्राए घायल हो गईं। घायल छात्राओं को सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र बड़ौदा में भर्ती कराया गया है। सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार बड़ौदा कस्बे में सब्जी मण्डी की टेक वाले क्षेत्र में संचालित बालाजी स्कूल की कमाण्डर जीप रोजाना की तरह मंगलवार की शाम को भी स्कूल से छुट्टी होने के बाद विद्यार्थियों को ग्राम बावड़ीचांपा छोडऩे के लिए जा रही थी जो कस्बे के बाहर रतोदन रोड पर तेज गति के चलते अनियंत्रित होकर पलट गई। 

जीप पलटते ही उसमें सवार विद्यार्थियों में चीख-पुकार मच गई और मौके पर लोगों की भीड़ एकत्रित हो गई, जिसने आनन-फानन में जीप में फंसे विद्यार्थियों को बाहर निकाला। इस हादसे में लक्ष्मी पुत्री मंगल सिंह 14 साल, शिवानी पुत्री बलराम 15 साल तथा तनिष्का पुत्री गिर्राज निवासी बावड़ीचांपा घायल हुई हैं जिनका उपचार बड़ौदा अस्पताल में कराया जा रहा है। समाचार लिखे जाने तक पुलिस उक्त हादसे की घटना की जानकारी से इंकार कर रही थी। गौरतलब है कि जिला मुख्यालय सहित जिले भर में यातायात नियमों की ध"िायां उडऩा आम बात बनी हुई है और जिम्मेदार अफसर जान कर भी अनजान बनकर बने हुए है।

जिससे जिले में अनफिट व खटारा वाहन यातायात नियमों की ध"िायां उड़ाते हुए लोगों के जीवन के साथ खिलवाड़ करने में जुटे है। वर्षभर में सैकड़ों हादसों में कई लोगों की अकाल मौत होने व सैकड़ों लोगों के अपाहिज होने के बावजूद संबंधित महकमा पूरी तरह से उदासीन बना हुआ है। ऐसे में नौनिहालों के जीवन के साथ खिलावाड़ होना किसी विडम्बना से कम नहीं है। जिले में सैकड़ों की संख्या में पुलिस प्रशासन व जिला परिवहन विभाग की कार्यवाही के अभाव में अनफिट व खटारा वाहन खुलेआम फर्राटे भर रहे है, जो खुलेआम हादसों को भी आमंत्रण दे रहे है। लोगों का कहना है कि ऐसे वाहनों के खिलाफ आज तक उचित कार्यवाही नहीं होने से वाहन संचालकों व चालकों में हौसले बुलंद बने हुए है।


मंडी निर्वाचन हेतु आदर्ष आचार संहित लागू


म.प्र. दतिया।आदर्श आचार संहिता के प्रावधान राज्य शासन द्वारा निर्वाचन तिथि की घोषणा के दिनांक से निर्वाचन परिणाम घोषित होने तक प्रभावशील रहेंगे। जिसके अनुसार विंदु निम्नानुसार है।

सामान्य आचरण: - किसी भी उम्मीदवार को ऐसा कोई कार्य नही करना चाहिए जिससे किसी धर्म, सम्प्रदाय या जाति के लोगो की भावना को ठेस पहुंचे य उनकी विद्वेष य तनाव पैदा हो। मत प्राप्त करने के लिए धार्मिक, साम्प्रदायिक या जातीय भावनाओं का सहारा नही लिया जाना चाहिए। पूजा के किसी धार्मिक स्थल जैसे कि मंदिर, मस्जिद, गिरजाघर आदि का उपयोग निर्वाचन प्रचार के लिए नही किया जाना चाहिए है। किसी उम्मीदवार के व्यक्तिगत जीवन के ऐसे पहलुओं की आलोचना नही की जानी चाहिए जिनका संबध उसके सार्वजनिक जीवन या क्रियाकलापों से न हो और न ही ऐसे आरोप लगाए जाने चाहिए जिनकी सत्यता स्थापित न हुई हो। कियसी उम्मीदवार की आलोचना उसकी नीति और कार्यक्रम पूर्व इतिहास और कार्य तक ही समिति रहनी चाहिए तथा उम्मीदवार और उसके कार्यकताओं की आलोचना असत्यापित आरोपों  पर आधारित नही की जानी चाहिए। प्रत्येक व्यक्ति के शांति पूर्ण घेरलू जीवन के अधिकार का सम्मान किया जाना चाहिए, चाहे उसके विचार कैसे भी क्यों न हों। किसी व्यक्ति के कार्यो या विचारों का विरोध करने के लिए किसी उम्मीदवार द्वारा ऐसे व्यक्ति के घर के सामने धरना देने, नारेवाजी करने या प्रदर्शन करने की कार्यवाही का कतई समर्थन नही किया जाना चाहिए। निष्पक्ष शांतिपूर्ण एवं पारदर्शी चुनाव के लिए उम्मीदवार को निम्नलिखित कार्य नही करने चाहिए। मतदान के दिन तथा उसके एक दिन पूर्व सार्वजनिक सभा नही करनी चाहिए। किसी चुनावी सभा में गडवडी या विघ्न नही डालना चाहिए। मतदान केन्द्र के १०० मीटर के अंदर किसी प्रकार का चुनाव प्रचार करना या मत संयाचना नही करना चाहिए। मतदाताओं को मतदान केन्द्र तक लाने य ले जाने के लिए वाहनों का उपयोग नही करना चाहिए। मतदान केन्द्र में या उसके आसपास विश्रृंखल आचरण नही करेगा या मतदान केन्द्र के अधिकारियों के कार्य में बाधा नही डालेगा। मतदाताओं केा रिश्वत या किसी तरह का पारितोषिक नही देगा। मतदाताओं का प्रतिरूपण नही करेगा अर्थात गलत नाम से मतदान का प्रयास नही करेगा। ऐसा कोई पोस्टर, इश्तहार, पंपलेट या परिपत्र नही निकालेगा, जिसमें प्रकाशक और मुद्रक का नाम एवं पता न हो। किसी उम्मीदवार के निर्वाचन की संभावना पर प्रतिकूल प्रभाव डालने के उद्देश्य सके उसके व्यक्तिगत आचरण और चरित्र य उम्मीदवार के संबध में ऐसे कथन या समाचार का प्रकाशन नही करेगा जो मिथ्या हो या जिसके सत्य होने का विश्वास न हो। मतदान समाप्त होने के ४८ घंटे पूर्व से शराब की दुकानें बंद रखी जाएंगी। अतः इस अवधि में किसी उम्मीदवार द्वारा न तो शराब खरीदी जाए और न ही उसे कियी को पेश या वितरित किया जाए। प्रत्येक उम्मीदवार द्वारा अपने कार्यकताओं को भी ऐसा करने से रोका जाना चाहिए। किसी उम्मीदवार द्वारा किसी भी व्यक्ति की भूमि भवन, अहाते या दीवार का उपयोग झंडा टांगने, पोस्टर चिपकाने, नारे लिखने आदि प्रचार के लिए उसकी अनुमति के बगैर नही किया जाना चाहिए और अपने समथकों एवं कार्यकताओं को भी ऐसा नही करने देना चाहिए। किसी भी उम्मीदवार द्वारा यरा उसके पक्ष में लगाये गये झंडे या पोस्टर दूसरे उम्मीदवार के कार्यकताओं द्वारा नही हटाये जाने चाहिए। मतदाताओं को दी जाने वाली पहचान पर्चिया सादे कागज पर होनी चाहिए। पर्ची में मतदाता सूची में उसके पिता/पति का नाम, ग्राम, मतदान केन्द्र क्रमांक तथा मतदाता सूची में उसके अनुक्रमांक के अलावा कुछ नही लिखा होना चाहिए। पर्ची में उम्मीदवार का नाम चुनाव चिन्ह नही होना चाहिए। मतदान शांतिपूर्वक एवं सुचारू रूप से सम्पन्न कराने में निर्वाचन डयूटी पर तैनात अधिकारियों को साथ पूरा सहायोग किया जाना चाहिए।

सभाएं एवं जुलूस: - किसी हाट, बाजार या भीड भाढ वाले सार्वजनिक स्थल पर चुनाव सभा के आयोजन के लिए सक्षम प्राधिकारी से पूर्व अनुमति ली जानी चाहिए तथा स्थानीय पुलिस थाने में ऐसी सभा के आयोजन के पूर्व की सूचना दी जाना चाहिए ताकि शांति एवं व्यवस्था बनाये रखने तथा यातायात केा नियंत्रित करने के लिए पुलिस आवश्यक प्रबंध कर सके। प्रत्येक उम्मीदवार को किसी अन्य उम्मीदवार द्वारा आयोजित सभा या जुलूस में किसी प्रकार की गडवडी करने या बाधा डालने से अपने कार्यकताओं तथा समर्थकों को रोकना चाहिए। यदि दो भिन्न भिन्न उम्मीदवारों द्वारा पास पास स्थित स्थानों में सभाएं की जा रही हो ध्वनि विस्तारक यंत्रों के मुह विपरीत दिशाओं में रखे जाने चाहिए। किसी उम्मीदवार के समर्थन में आयोजित जुलूस ऐसे क्षेत्र या मार्ग से होकर नही निकाला जाना चाहिए, जिसमें कोई प्रतिबंधात्मक आदेश लागू हो। जुलूस के निकलने के स्थान, समय और मार्ग तथा समापन के स्थान के बारे में स्थानीय पुलिस थाने में कम से कम एक दिन पहले सूचना दी जानी चाहिए। इस बात का ध्यान रखा जाना चाहिए कि जुलूस के कारण यातायात में कोई बाधा न हो। जुलूस में लोगों को ऐसे चीजें लेकर चलने से राके जाना चाहिए, जिनको लेकर चलने पर प्रतिबंध हो या जिनका उत्तेजना के क्षणों में दुरूपयोग किया जा सकता हो। प्रत्येक उम्मीदवार को किसी अन्य उम्मीदवार के पुतले लेकर चलने य उन्हे किसी सार्वजनिक स्थान में जलाये जोन तथा इसी प्रकार के अन्य प्रदर्शन का आयोजन करने से अपने कार्यकर्ताओं केा रोकना चाहिए।

शासन और संस्थाओं के वाहनों आदि के चुनाव प्रचार में उपयोंग पर प्रतिबंध: - शासन सहित सार्वजनिक उपक्रमों/प्राधिकरणों, स्थानीय निकायों, सहकारी संस्थाओं, कृषि उपज मंडी समितियों, शासन के अनुदान अथवा अन्य सहायता प्राप्त करने वाले संस्थाओं के वाहनों का चुनाव प्रचार में प्रतिवंध रहेगा।

शासकीय विभागों एंव कर्मियों के लिए: - निर्वाचन घोषणा के तारीख से मंडी निर्वाचन समाप्ति तक चुनाव ड्यूटी में लगाये गये किसी भी अधिकारी कर्मचारी का स्थानांतरण नही किया जाना चाहिए। शासकीय कर्मचारियों को चुनाव में बिल्कुल निष्पक्ष रहना चाहिए। यह आवश्यक है कि वे किसी को यह महसूस न होने दें कि वे निष्पक्ष नही है। जनता को उनकी निष्पक्षता का विश्वास होना चाहिए तथा उन्हे ऐसा कोई कार्य नही करना चाहिए जिससे ऐसी आशंका भी हो कि वे किसी उम्मीदवार की मदद कर रहे हों। चुनाव के दौरे के समय यदि कोई मंत्री निजी मकान पर आयोजित किसी कार्यक्रम का आमत्रंण स्वीकार कर ले तो किसी शासकीय मंडी समिति में पदस्थ अधिकारी/कर्मचारी को उसमें शामिल नही होना चाहिए। यदि कोई निमंत्रण पत्र प्राप्त हो तो उसे नम्रतापूर्वक अस्वीकार कर देना चाहिए। किसी सार्वजनिक स्थान पर चुनाव सभा के आयोजन हेतु अनुमति देते समय विभिन्न उम्मीदवारों के बीच कोई भेदभाव नही किया जाना चाहिए। यदि एक ही दिन और समय पर कोई उम्मीदवार एक की जगह पर सभा करना चाहते है तो उस उम्मीदवार को अनुमति दी जानी चाहिए जिसने सबसे पहले आवेदन पत्र दिया हो। विश्रामगृहों या अन्य स्थानों में शासकीय आवास सुविधा का उपयोग सभी उम्मीदवारों को समाना शर्तो पर करने दिया जाना चाहिए पंरतु किसी भी उम्मीदवार को ऐसे भवन या उसके परिसर का उपयोग चुनाव प्रचार करने के लिए अनुमति नही दी जानी चाहिए। चुनाव के लिए आयोजित आम सभा में कोई भी शासकीय/मंडी व्यय नही होना चाहिए ऐसी सभा में उन कर्मचारियों को छोडकर जिन्हें ऐसी सभा के आयोजन में कानून एवं व्यवस्था बनाये रखने या सुरक्षा के लिए तैनात किया गया हो, अन्य कर्मचारियों को शामिल नही होना चाहिए। यदि कोई मंत्री चुनाव के दौरान जिले किसी मंडी क्षेत्र में चुनाव प्रचार के लिए क्षेत्र भ्रमण करें तो ऐसा भ्रमण चुनावी दौरा माना जाना चाहिए और उसमें सुरक्षा के लिए तैनात कर्मचारियों को छोडकर अन्य किसी शासकीय/मंडी समितियों के कर्मचारी को साथ नही रहना चाहिए। ऐसे दौरे के लिए शासकीय/मंडी समिति का वाहन या अन्य सुविधाएं उपलब्ध नही कराई जानी चाहिए। निर्वाचन की घोषणा से निर्वाचन समाप्त होने तक मंडी या मंडी से संबधित किसी अन्य निधि कि अंतर्गत कोई नया अनुदान या अन्य निर्माण कार्य स्वीकृत नही किया जाना चाहिए इस अवधि के दौरान मंडी निधि से संबधित किसी योजना का शिलान्यास या उद्घाटन भी नही किया जाना चाहिए। समर्थन मूल्य पर प्रदेश के किसानों से गेहॅू का उर्पाजन कर समय पर उसके भण्डारण को सुनिश्चित करना अत्यन्त महत्वपूर्ण एवं संवेदनशील  कार्य है। अतः इस कार्यक्रम के अंतर्गत गेहॅू के उर्पाजन एवं उजार्जित गेहॅू के भण्डारण के लिए कैप्स आदि के निर्माण की छूट रहेगी। भारत सरकार एवं राज्य सरकार की पूर्व में घोषित/क्रियान्वित योजनाएं जैसे कि बुंदेलखंड विशेष पैकेज के अंतर्गत अपेक्षित विभिन्न योजनाएं/निर्माण कार्य जो कि मंडी प्रांगण में कराये जाना हो की छूट रहेगी। चुनाव के दौरान समाचार पत्र तथा प्रचार प्रसार के अन्य माध्यमों से सरकारी, मंडी निधियों के खर्चे पर ऐसा विज्ञापन जारी नही किया जाना चाहिए जिनमें चुनाव लडने वाले अम्यार्थियों की उपलब्धियों को प्रचारित या रेखांकित किया गया हो या चुनाव में अभ्यार्थियों के हितों को आगे बढाने में सहायता मिलती हो।

कृषि उपज मंडी के पदाधिकारियों एवं कर्मचारियों के लिए:- मंडी निर्वाचन को चुनाव के दौरान अपना कार्य पूर्ण निष्पक्षता से करना चाहिए और ऐसा कोई आचरण और व्यवहार नही करना चाहिए जिससे या आभास हो कि वे किसी उम्मीदवार की मदद कर रहे है। निर्वाचन समाप्त होने तक मंडी के अधीन कोई नियुक्ति या स्थानांतरण नही किया जाना चाहिए मंडी मे किसी भी नये भवन का निर्माण या मौजूदा भवन मे संबर्धन या परिवर्तन की अनुज्ञा नही दी जानी चाहिए, पंरतु ऐसे कार्य जो चुनाव के घोषणा के पूर्व स्वीकृत एवं निर्माणाधीन है ते यथावत क्रियान्वित होगे। मंडी क्षेत्र में किसी प्रकार का व्यवसाय या वृत्ति के लिए अनुज्ञप्ति नही दी जानी चाहिए। निर्वाचन की तिथि से निर्वाचन सम्पन्न होने तक मंडी निधि या मंडी से संबधित किसी अन्य निधि से कोई अनुदान तथा निर्माण को सम्मिलित नही किया जाना चाहिए इस अवधि के दौरान मंडी निधि से संबधित किसी योजना का शिलान्यास या उद्घाटन नही किया जाना चाहिए। किसी संगठन यसा संस्था को किसी कार्यक्रम में आयोजन के लिए कोई सहयता या अनुदान स्वीकृत नही किया जाना चाहिए। मंडी के खर्चे पर ऐसा कोई विज्ञापन या पैम्पलेट जानी नही किया जाना चाहिए जिसमें मंडी की उपलब्धियों को प्रचारित या रेखांकित किया गया हो या जिससे किसी उम्मीदवार के पक्ष में मतदाताओं केा प्रभावित करने मे ंसहायता मिलती हो। जाह कहीं भी मंडी पदाधिकारी को वाहन आवंटित की गई हो वह चुनाव की घोषणा से चुनाव समाप्त होने तक वाहन का उपयोग नही करेगा।

COMMENTS

Name

तीरंदाज,328,व्ही.एस.भुल्ले,523,
ltr
item
Village Times: बाजार में तोडफ़ोड़: मुसीबत में पड़ा हुआ है सारा शहर
बाजार में तोडफ़ोड़: मुसीबत में पड़ा हुआ है सारा शहर
Village Times
http://www.villagetimes.co.in/2012/12/blog-post_11.html
http://www.villagetimes.co.in/
http://www.villagetimes.co.in/
http://www.villagetimes.co.in/2012/12/blog-post_11.html
true
5684182741282473279
UTF-8
Loaded All Posts Not found any posts VIEW ALL Readmore Reply Cancel reply Delete By Home PAGES POSTS View All RECOMMENDED FOR YOU LABEL ARCHIVE SEARCH ALL POSTS Not found any post match with your request Back Home Sunday Monday Tuesday Wednesday Thursday Friday Saturday Sun Mon Tue Wed Thu Fri Sat January February March April May June July August September October November December Jan Feb Mar Apr May Jun Jul Aug Sep Oct Nov Dec just now 1 minute ago $$1$$ minutes ago 1 hour ago $$1$$ hours ago Yesterday $$1$$ days ago $$1$$ weeks ago more than 5 weeks ago Followers Follow THIS CONTENT IS PREMIUM Please share to unlock Copy All Code Select All Code All codes were copied to your clipboard Can not copy the codes / texts, please press [CTRL]+[C] (or CMD+C with Mac) to copy