भाजपा कार्यकर्ता प्रधान पार्टी: नरेन्द्र सिंह


म.प्र. ग्वालियर। मंच से घोषित कै.राजमाता विजयाराजे सिंधिया भवन के भूमिपूजन के नाम एकत्रित मंच पर एकत्रित म.प्र. के भाजपा अध्यक्ष,संगठन मंत्री ग्वालियर सांसद,और भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव ने ग्वालियर-चम्बल से आये सेकड़ों कार्यकर्ताओं को यह संदेश देने का प्रयास किया,कि भाजपा व्यक्ति प्रधान न होकर कार्यकर्ता प्रधान पार्टी है। इसलिये कार्यकर्ताओं को अपनी ऐहमियत समझतें हुये मिशन 2013 के लिए जुट जाना चाहिए।


भूमि पूजन के बहाने एकत्रित सेकड़ों कार्यकर्ताओं को भूमि पूजन उपरान्त सम्बोधित करते हुये सर्व प्रथम ग्वालियर सांसद श्रीमंत यशोधरा राजे सिंधिया ने कहा जो कार्य प्रदेश के यशस्वी मुख्यमंत्री के नेतृत्व में हो रहे है।

उनकी सर्वत्र सराहना है। मगर महिला शसक्ति करण की जो शुरुआत 19 नम्बर से शुरु होकर 12 अक्टूबर  को समाप्त होने वाली वह म.प्र. के लिए अविष्ममरणीय होगी जरुरत है। आम कार्यकर्ताओं को सब कुछ छोड़ मिशन 2013 में जुटने की। जिससे 100 फीसदी परिणाम हमारे क्षेत्र में हमारे पक्ष में हो।

प्रदेश संगठन अरविन्द मेनन ने कई उदाहरणों की छत्र छाया में कांग्रेस कुनवे को जम कर कोसा और कार्यकर्ताओं को सीखने की नसीहत दी।

राष्ट्रीय महासचिव नरेन्द्र सिंह ने कहा कि भाजपा व्यक्ति प्रधान न होकर कार्यकर्ता प्रधान है। परिणाम सामने है। इस मौके पर उन्होंने कुशाभाऊ ठाकरे के योगदान की चर्चा की भाजपा प्रदेश अध्यक्ष प्रभात झा ने कहा कि भोपाल एम्स का नाम बदलना कांग्रेस की घटिया हरकत है। उन्होंने कहा कि कै.राजमाता विजयाराजे सिंधिया केवल यसोधरा की मां नहीं बल्कि वह भाजपा और आम कार्यकर्ताओं की मां है। उन्होंने समुचा जीवन सिंद्धान्तों की छत्र छाया में जिया उन्होने ने नफा नुक्शान सम्मान की कभी परवाह नहीं की बल्कि उन्होने समुचा जीवन सिद्धान्त जिया अपने सिद्धान्तों से कभी उन्होने समझौता नहीं किया। परेशानी उन्होने कितनी भी उठानी पढ़ी हो मगर वह अपने सिद्धान्तों पर हमेशा अडिग रही। उन्होने भावुक क्षणों का उल्लेख करते हुये घोषणा कि आज से इस परिसर का नाम राजमाता विजयाराजे सिंधिया परिसर होगा।


उन्होने शिवराज को नेता न होकर जननायक की संज्ञा दी। बहरहॉल जो भी हो जिस तरह से शिवपुरी पहुंचे नेताओं का आतिशी स्वागत हुआ। वह काबिले गौर था। एक 600 मीटर की सड़क पर कई जगह आतिषि स्वागत के बीच जिस तरह से पैसा बहाने की होड़ मची उसने पं.दीनदयाल उपाध्याय की मंशा को तार-तार कर दिया। कार्यक्रम खत्म होता उससे पहले ही प्रदेश अध्यक्ष के आग्रह पर पार्टी के कार्यालय को धन जुटाने वालों की होड़ सी लग गई। बड़े-बड़े सत्तासीन मलाईदार नेताओं को पैसा देने पर गिड़गिड़ाता देखा गया उस विचार धारा के मन्दिर निर्माण को जिसके नाम पर कई लोग मलाई फांकते मोटे हो लिए मगर सर्वोधिक धन कार्यालय को देने वालो में भाजपा पूर्व कोषाध्यक्ष राजेन्द्र गोयल उर्फ राजू भैया रहे जिन्होने 5 लाख रुपये देने की घोषणा की कई धन देने वाले गिड़गिड़ायें तो कुछ ने तो कुछ ने मुक्त हस्त से पार्टी के इस बैचारिक मन्दिर के निर्माण में अपने अपने नाम लिखाये। तो कुछ कार्यक्रम बीच में ही छोड़ भाग लिये।

फिलहॉल जो कसरत भाजपा के आला नेताओं ने मिशन 2013 मिशन के तहत की वह तो आने वाला वक्त ही बतायेगा। कि वह कितनी सफल और असफल रही।

संघ शक्ति ने किया कदम-ताल


म.प्र.श्योपुर। ध्वातावरण को अनुगुंजित करती घोष दल की लय-ताल और उस पर कदमताल करते सैकड़ों स्वयंसेवक। परिवेश में गूंजता मां भारती का जयघोष और राष्ट्रीयता से ओतप्रोत सिंहनाद। समवेत स्वरों में गूंजते राष्ट्रगीतों के स्वर और उन्हें संगत देतीं अनुशासित पदचाप। एक निर्धारित पथ पर अग्रसर होती संघ शक्ति और उसे देखकर रोमांचित होता जनजीवन। धमनियों में तीव्र होता रक्त संचार और मानस में हिलोर मारता देशभक्ति का 'वार। छोटे-छोटे लेकिन गूढ़ अर्थों वाले यह वाक्य परिचायक हैं शिवनगरी में रविवार की अपराह्न आयोजित उस शक्ति-संचरण के जो पथ संचलन के रूप में परम्परानुसार आयोजित किया गया। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की नगरीय इकाई के तत्वाधान में पथ संचलन का आयोजन शौर्यपर्व विजयादशमी के पावन और पुनीत उपलक्ष्य में किया गया था, जिसमें किशोर वर्ग के स्वयंसेवकों से लेकर बुजुर्ग स्वयंसेवकों तक ने पूरे उत्साह व निष्ठा के साथ हिस्सा लिया तथा राष्ट्रीयता से सराबोर अनुशासन का परिचय देते हुए इस बात को प्रमाणित किया कि कलिकाल में संगठन से बड़ी कोई और शक्ति नहीं। संचलन में सम्मिलित स्वयंसेवक संघ गणवेश में सुसज्जित और दो पंक्तियों में अनुशासित थे। दण्ड और अस्त्रायुधों के साथ कदम से कदम मिलाते हुए सड़क से गुजरे स्वयंसेवकों के इस अनुशासित समूह पर अनेक जगह पुष्पवृष्टि भी की गई जो राष्ट्रप्रेमियों की ओर से स्वयंसेवकों का उत्साहवद्र्धन करने वाला आत्मीय अभिनंदन था। पूर्व निर्धारित योजनानुसार स्वयंसेवकों का एकत्रीकरण रविवार की अपराह्न स्थानीय मेला मैदान पर शुरू हुआ जहां परम्परानुसार बौद्धिक कार्यक्रम की सम्पन्नता के उपरांत सांध्यवेला में पथ संचलन आरंभ किया गया। पूर्व सुनिश्चित पथ से गुजरते हुए स्वयंसेवकों ने तकरीबन पांच कि.मी. से अधिक की दूरी पूरे उत्साह व जोश के साथ पूरी की तथा संचलन का समापन पुन: मेला मैदान पहुंचकर किया।

सिंधिया की तरक्की पर कांग्रेसियों ने जताया उत्साह


म.प्र.शिवपुरी श्योपुर। कांग्रेसनीत गठबंधन सरकार द्वारा मंत्रीमण्डल में चुनाव पूर्व किए गए आखिरी फेरबदल में अंचल के लोकप्रिय नेता 'योतिरादित्य सिंधिया को रा'य मंत्री से स्वतंत्र प्रभार सौंपे जाने पर शिवपुरी,श्योपुर के कांगे्रसी नेताओं व कार्यकर्ताओं में जबर्दस्त उत्साह नजर आया। रविवार को बहुप्रतीक्षित मंत्री-परिषद में बदलाव की आधिकारिक तौर पर पुष्टि हो जाने के बाद सिंधिया समर्थक नेताओं व कार्यकर्ताओं ने श्योपुर में जयस्तंभ चौक पर तो शिवपुरी में माधव चौक चौराहे पर एकत्रित होकर जोरदार आतिशबाजी की तथा श्री सिंधिया के समर्थन में नारे भी लगाए। 

उल्लेखनीय है कि मंत्रीमण्डल में किए जाने वाले बदलाव में युवा नेताओं को तरजीह दिए जाने के संकेतों के बाद श्री सिंधिया की तरक्की तयशुदा थी लिहाजा उनके समर्थकों की निगाहें समाचार चैनलों पर जमी हुई थीं। समर्थकों का मानना था कि श्री सिंधिया को रा'य मंत्री से केबिनेट मंत्री के तौर पर पदोन्नत किया जाएगा लेकिन ऐसा नहीं हुआ। बावजूद इसके श्री सिंधिया को स्वतंत्र प्रभार सौंपे जाने की खबर ने समर्थकों की उम्मीदों को जवान बनाने का काम किया और उन्होने अपने-अपने ढंग से अपने उल्लास को प्रकट करते हुए श्री सिंधिया के प्रति अपनी निष्ठा का परिचय दिया। 

हर्ष व्यक्त करने वालों में श्योपुर पूर्व नगरपालिका अध्यक्ष ओमप्रकाश राठौर, पूर्व जनपद अध्यक्ष शकील कुरैशी, जिला प्रवक्ता अशोक गोयल, इंका नेता अशोक भदौरिया, महावीर गुप्ता, रईस मोहम्मद कुरैशी, रामलखन रावत, मोहम्मद साबिर उर्फ बल्लू, नागाराम मीणा, रामचरण नागर, संजीव कुशवाह, राजू तोमर, बल्ली चाचा, खालिद खिलची, अल्लानूर खान, कृष्णकांत उपाध्याय, महावीर मिžाल, सतीश दीवान आदि के नाम उल्लेखनीय हैं। कांग्रेस के जिलाध्यक्ष व क्षेत्रीय विधायक बृजराज सिंह चौहान ने अपनी तात्कालिक प्रतिक्रिया में कांग्रेस आलाकमान के प्रति आभार प्रकट करते हुए कहा है कि श्री सिंधिया को ऊर्जा मंत्रालय का स्वतंत्र प्रभार सौंपे जाने के बाद राजीव गांधी वैद्युतिकरण योजना का क्रियान्वयन और अधिक कुशलता के साथ हो सकेगा तथा प्रदेश व जिले को विद्युत संकट से प्रभावी तौर पर निजात मिल सकेगी।

वहीं शिवपुरी में नये नगर कांग्रेस अध्यक्ष राकेश आमोल,विजय जैन कैंची बीड़ी, क्षत्रपाल गुर्जर,गणेशी लाल जैन ने मिष्ठान वितरण कर आतिशबाजी की। वहीं सिंधिया के स्वतंत्र प्रभार मंत्री बनने पर वरिष्ठ कांग्रेसी रामकुमार शर्मा,मुन्ना लाल कुशावाह,विनोद धाकड़,सर्वन गर्जुर नरवर,नरेन्द्र जैन भोला इत्यादि ने श्री सिंधिया के कद बढऩें पर मिष्ठान वितरण और आतिशबाजी का लुफत उठाया।
SHARE
    Your Comment

0 comments:

Post a Comment