घिनोने व्यवसाय के लिये कुख्यात होती शिवपुरी, 22 किशोरियों को...

म.प्र.शिवपुरी. देह व्यापार के लिये तैयार कुख्यात पोहरी जनपद का एक गांव और शिवपुरी शहर में मौजूद रेड लाईट एरिया तो पहले से ही मौजूद थे। अब तो कई ऐसे स्थान प्रचलन में आ गये है। जहां अघोषित तौर पर कुछ ऐसे ही कार्यो को सरअनजाम  दिया जाता है। जिनकी प्रमाणिकता खगालना फिलहॉल भविष्य के गर्भ में बिगत वर्षो में पुलिस द्वारा रेड लाईट एरिया से बरामद कई किशोरियों के मामलों की स्याही सूकने भी नहीं पाई थी। जिसमें पुलिस कार्यवाही के चलते साफ हुआ था कि उन्हें अन्यत्र जगह से या तो अगवा कर या फिर खरीद फरोस्त कर लाया गया था। जिनसे जबरन व्याभिचार कराया जाता था।
अभी हाल ही में ऐसा ही एक मामला ग्वालियर में भी सामने आया है जहां शिवपुरी जिले से लगभग 22 किशोरियों को अगवा कर या बहला फुसला कर पुरानी छावनी थाना क्षेत्र स्थित बदनापुरा व अन्य जगह बेचा गया। जिनकी उर्म लगभग 12 वर्ष से लेकर 17 वर्ष रही होगी प्राप्त जानकारी के अनुसार शिवपुरी जिले से बेचे गई किशोरियों की जानकारी के चलते ग्वालियर पुलिस ने तीन टीम बना विभिन्न क्षेत्रों में स"ााई का बताना लगाने रवाना की है। वहीं इस मामले में बान चित अपराधी गुड्डा जाटव कि खोज में भी पुलिस लग गई है। 
 
उल्लेखनीय है। कि 12 वर्षीय व 17 वर्षीय किशोरियों को बेचे जाने की जानकारी मिलते ही हरकत में आई पुलिस ने मामले की गंभीरता को देखते हुए देानों किशोरियों की शिकायत पर उनके परिजनों व अन्य आरोपियों के खिलाफ देह व्यापार के लिए मानव तस्करी करने की धाराओं के तहत मामला कायम किया था। पुलिस को जांच में यह भी पता चला कि शिवपुरी जिले से लगभग दो दर्जन को ग्वालियर लाकर बेचा गया है। वहीं इस मामले को गंभीरता से लेते हुए पुलिस की टीमें शिवपुरी जिले में अलग-अलग स्थानों पर रवाना की गई है। 
 
वहीं मासूमों को बेचने वाले दलाल गुड्डा जाटव व दूसरी शिकायत दर्ज कराने वाले किशोरी के माता-पिता को पकडऩे के लिए भी पुलिस टीम रवाना की गई है। पुलिस अधिकारियों का मानना है कि गुड्डा जाटव की गिरफतारी के बाद मासूम ब"िायों को बेचने वाले बड़े गिरोह का खुलासा होगा। बहरहॉल जो भी हो जिस तरह से शिवपुरी जिला किशोरियों को खरीदे बेचे जाने के मामले में कुख्यात होता जा रहा है। वह बड़ा ही खतरनाक है।
SHARE
    Blogger Comment

1 comments: