शिवपुरी के सिंघम बने अमित सिंह, गोलाकोट से चोरी गई मूर्तियां बरामद

शिवपुरी म.प्र। शिवपुरी जिल मे जबभी कोई गम्भीर आपराधिक वारदात होती है,तो शिवपुरी जिला वासियों के मन में एक ही यक्ष प्रश्र हेाता है कि आखिर क्यो? चोरी हो या फि र जघन्य अपराध या फि र राजनैतिक मूमेन्ड सभी का लक्ष्य सत्य के नजदीक होता है। भाग्य शाली ही नहीं दरिया दिल भी है,शिवपुरी के एसपी आरपी सिंह जो शिकायत आने पर छोटी से छोटी घटना को अहम मान अपने कर्तव्य र्निवहन को सर्वोपरि मानते है।


परिणाम कि आज उन्हें अपने संहयोगी के रुप में एक सिंगम मिल गया है। जिसे जिले वासी अमित सिंह के रुप में मानते है। क्या चोर क्या सट्टे वाज क्या अपराधी कुछ ही दिन में अमित सिंह के नाम पर हापते नहीं थकते जिस तरह से ग्वालियर डी.आई.जी.हरि सिंह उर्प बाबा के नेतृत्व और मार्ग दर्शन में जैन समुदाये की चोरी हुई मूर्तियों को चन्द दिनों में ही दिन रात मसक्कत के बाद बरामद किया गया वह काबिले तारीफ है ज्ञात हो कि  खनियांधाना के गोलाकोट जैन मंदिर से गत दिनों भगवान पाश्र्वनाथ की मूर्तियां चोरी हो गई थी। 

जिन्हें लेकर जैन समाज सहित अन्य नागरिकों में रोश व्याप्त था। जैन मंदिर से चोरी गई मूर्तियों के मामले को लेकर पुलिस भी पशोपेश की स्थिति में थी। पुलिस ने मुखबिर की सूचना के आधार पर कार्यवाही करते हुए जैन गोलाकोट मंदिर से चोरी गई मूर्तियों को राजस्थान के सवाई माधौपुर से बरामद करने सफलता हासिल की है।

अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अमित सिंह से प्राप्त जानकारी के अनुसार गत सप्ताह खनियांधाना के गोलाकोट मंदिर से चोरी गई मूर्तियों को लेकर समूचे खनियांधाना में रोश व्याप्त था। घूमने फिरने का वहाना लेकर राजस्थान से आए वाहन क्रमांक आरजे 11 यूजे 1282 के नम्बर को आरक्षक इन्द्रपाल सिंह द्वारा शक के आधार पर उक्त नम्बर को नोट कर लिया था। जैन मंदिर से चोरी गई मूर्तियों की छानबीन करने के उद्देश्य से उक्त वाहन की जानकारी ली गई तो उक्त वाहन रमेशचन्द्र गुप्ता पुत्र दमोदर गुप्ता निवासी अजमेर रोड़ जयपुर का होना पाया गया। 

जिसका चालक राकेश मीणा पुत्र नारायण मीणा निवासी सवाई माधौपुर था। मूर्तियां चोरी की छानबीन में लगी पुलिस द्वारा रमेशचंद गुप्ता से पुलिसियां हथकंडे अपनाते हुए पूछताछ की गई तो उन्होंने वाहन चालक राकेश मीणा को गाड़ी दी है। जब पुलिस ने चालक राकेश मीणा से पूछताछ की तो उसने अपने साले रामस्वरूप मीणा निवासी सवाई माधौपुर के घर मूर्तियां रखी होना स्वीकार किया। जहां पुलिस ने मूर्तियां जप्त कर आरोपियों को पुलिस हिरासत में ले लिया है।
SHARE
    Your Comment

0 comments:

Post a Comment